Bareilly: किसान को कंटीले तार के जरिये पेड़ से बांधकर जिंदा जलाया

Highlights

- बरेली के बरगवां गांव की घटना

- परिजनों ने एक पड़ोसी पर लगाया हत्या का आरोप

- पुलिस मामले की जांच में जुटी

By: lokesh verma

Published: 24 Jan 2021, 10:35 AM IST

बरेली. शीशगढ़ थाना क्षेत्र के एक गांव में एक किसान को कंटीले तार से बांधकर जिंदा जलाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि किसान धर्मपाल अचानक लापता हो गए थे। शनिवार सुबह जब वह घर में नहीं मिले तो परिजनों ने खोजबीन शुरू की तो दोपहर बाद उनका जला हुआ शव जंगल में अधजली हालत में एक पेड़ से बंधा मिला। जैसे ही घटना की जानकारी परिजनों को मिली तो हाहाकार मच गया। धर्मपाल के परिजनों ने 20 साल पुराने विवाद में एक पड़ोस में रहने वाले व्यक्ति पर हत्या का आरोप लगाया है।

यह भी पढ़ें- रिश्वत लेकर शराब कांड के आराेपियाें काे छोड़ने वाले इंस्पेक्टर समेत तीनाें पुलिसकर्मी भेजे गए जेल, देखें वीडियो

दरअसल, शीशगढ़ थाना क्षेत्र के बरगवां गांव के रहने वाले 40 वर्षीय धर्मपाल खेती किसानी करते थे। बताया जा रहा है कि शुक्रवार देर रात वह अपने निर्माणाधीन मकान में सोने के लिए गए थे। शनिवार सुबह जब उनकी बेटी चाय लेकर पहुंची तो वह नहीं मिले। इसके बाद परिजनों ने उनकी तलाश शुरू की। दोपहर के समय खेतों में काम कर रहे ग्रामीणों ने उनका अधजला शव पेड़ से बंधा देखा तो परिजनाें को सूचना दी। घटना की जानकारी मिलते ही परिवार में हाहाकार मच गया।

वहीं, सूचना मिलते ही थाना प्रभारी योगेश कुमार, एसपी देहात राजकुमार अग्रवाल, सीओ यतेंद्र कुमार पुुलिस फोर्स के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए। धर्मपाल के परिजनों का आरोप है कि रात के समय ही उनका अपहरण कर खेत में ले जाया गया और वहां सेमल के पेड़ से बांधकर तेल छिड़कते हुए जिंदा जला दिया गया। परिजनों ने एक पड़ोसी पर 20 साल पुराने विवाद में हत्या करने का आरोप लगाया है। वहीं पुलिस इसे आत्महत्या बता रही है। मृतक के परिजनों ने पुलिस को एक डायरी भी सौंपी है, जिसमें उन्होंने अपनी जान काे खतरा बताया है। फिलहाल पुलिस सभी एंगल से जोड़कर मामले की जांच में जुटी है। एसपी देहात का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद मृतक के परिजनों की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज करते हुए कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें- स्कूटी से ट्यूशन जा रही छात्रा को कैंटर ने कुचला, कमिश्नर और डीआईजी ने कार से भिजवाया अस्पताल लेकिन हाे गई माैत

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned