1 मई से शुरु नहीं होगा 18+ का कोविड वैक्सीनेशन, CM शिवराज बोले- पैनिक न हों इस दिन से शुरुआत की उम्मीद

सीरम इंस्टीट्यूट की ओर से सरकार से कहा गया है कि, 1 मई तक देश-प्रदेश तक पर्याप्त वैक्सीन की आपूर्ति नहीं हो सकेगी। इसलिये तय तारीख से वैक्सीनेशन अभियान शुरु नहीं किया जा सकेगा। हालांकि, 45 साल से अधिक लोगों का वैक्सीनेशन यथावत जारी रहेगा।

By: Faiz

Published: 29 Apr 2021, 11:03 PM IST

भोपाल/ तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के बीच मध्य प्रदेश के 18 से 45 वर्ष के लोगों को लगने वाला कोरोना वैक्सीनेशन का तासरा चरण फिलहाल, 1 मई से शुरू नहीं हो सकेगा। सीरम इंस्टीट्यूट की ओर से सरकार से कहा गया है कि, 1 मई तक देश-प्रदेश तक पर्याप्त वैक्सीन की आपूर्ति नहीं हो सकेगी। संभवत: ढाई लाख डोज की पहली खेप 3 मई उपलब्ध कराने की कोशिश की जाएगी। ऐसे में सरकार की ओर से कहा गया है कि, अगर 3 मई को भी ढाई लाख डोज पहली खेप मिल जाती हैं, तो 5 मई से 18 से 45 वर्, तक के लोगों का वैक्सीनेशन अभियान शुरु किया जा सकता है।

 

पढ़ें ये खास खबर- एम्बुलेंस वसूल रही थी 10 हजार, चिंतित होकर अजीज भाई ने बना दी 'बाइक एम्बुलेंस', मुफ्त में मरीजों को पहुंचा रहे अस्पताल


दो कंपनियों को केन्द्र सरकार ने दिया है वैक्सीन का ऑर्डर

बता दें कि, केन्द्र सरकार की ओर से सीरम को 45 लाख डोज सप्लाई करने का ऑर्डर दिया है। सरकार ने भारत बायोटेक से भी वैक्सीन सप्लाई के लिए बात की थी, लेकिन वहां भी फिलहाल स्पष्ट जवाब न मिल पाने के कारण सरकार लीरम कंपनी से मिलने वाले वैक्सीन के डोज पर ही निर्भर है। हालांकि, सरकार का कहना है कि, बायोटेक कंपनी से भी लगातार चर्चा की जा रही है।

 

पढ़ें ये खास खबर- MP में ऑक्सीजन प्लांट लगाने वालों को सौगात : 50% प्रोत्साहन अनुदान के साथ 1 रुपए यूनिट मिलेगी छूट


सीएम शिवराज ने की केन्द्र के अधिकारियो से चर्चा

मंत्रालय सूत्रों ने बताया, मध्य प्रदेश में गुुरुवार को 1 मई को वैक्सीन लगवाने के लिए 18 से 45 साल तक के 19 हजार लोगों ने रजिस्ट्रेशन करा लिया था, लेकिन सरकार को देर शाम सीरम इंस्टीट्यूट ने सूचना दी कि 5 दिन से पहले वैक्सीन उपलब्ध नहीं हो सकेगी। इसपर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने केंद्र के जिम्मेदार अधिकारियों से भी चर्चा की। इसके बाद तय किया गया कि 1 मई से वैक्सीनेशन का तीसरे चरण की शुरुआत कर पाना संभव नहीं है।। अगर तय समय तक वैक्सीन उपलब्ध हो गए, तो सरकार 5 मई से अभियान की शुरुआत करेगी।

 

पढ़ें ये खास खबर- 9th And 11th Exam Result : 15 मई को जारी होगा रिजल्ट, टेस्ट और हाफ इयरली का औसत होगा इस बार परिणाम


सीएम शिवराज ने ट्वीट पर दी प्रदेशवासियों को जानकारी

इसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेशवासियों को संबोधित करते हुए अपने ट्विटर हैंडल से एक वीडियो जारी करते हुए कहा कि, मध्य प्रदेश में 45 साल से ज्यादा उम्र वाले नागरिकों को वैक्सीन लगाने का अभियान जारी है और वैक्सीन की ये डोज़ भारत सरकार द्वारा हमें नि: शुल्क उपलब्ध कराई जा रही हैं। ये अभियान लगातार जारी रहेगा।


वैक्सीन न मिलने की कही बात

सीएम ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि, 1 मई से 18 साल से ऊपर के नौजवानों को वैक्सीन लगाने का अभियान प्रारंभ होना था, इसके लिए मध्य प्रदेश ने कोविशील्ड और कोवैक्सीन दोनों के लिए संबंधित कंपनियों को खरीदी के ऑर्डर दिये थे, लेकिन दोनों कंपनियों से बात करने पर ये पता चला है कि एक तारीख को वे हमें वैक्सीन नहीं दे पायेंगे। इसलिए 1 मई से वैक्सीनेशन का यह कार्यक्रम मध्यप्रदेश में प्रारंभ नहीं किया जा सकेगा। सीएम ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि, 'हम जानते हैं कि, उत्पादन की भी एक सीमा है। जैसे-जैसे उत्पादन होगा और हमें वैक्सीन मिलेगी, वैसे-वैसे 18 साल से ऊपर के हमारे जो नौजवान हैं, उनको नि:शुल्क वैक्सीन लगाने का अभियान चलायेंगे।'


लोगों से धेर्य रखने की अपील

सीएम शिवराज ने एक अन्य ट्वीट करते हुए लिखा कि, आप सबसे आग्रह है कि धैर्य रखिये, पैनिक मत होइये। मध्यप्रदेश को वैक्सीन 3 मई तक मिलने की संभावना है। वैक्सीन मिलते ही प्रदेश के नौजवानों को नि:शुल्क वैक्सीन लगाने का कार्य प्रारंभ कर दिया जायेगा।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned