पर्यटन दिवस पर योग और जुम्बा कर भोपालवासियों ने पर्यटकों को दिया सेफ सिटी का संदेश

विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर मिंटो हॉल में विशेष सत्र, विंड एंड वेव्स पर हुआ जुम्बा सेशन

By: hitesh sharma

Published: 27 Sep 2021, 11:55 PM IST

भोपाल। विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर मध्य प्रदेश पर्यटन की ओर से बोट क्लब, विंड एण्ड वेव्स और मिंटो हॉल में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। सुबह बोट क्लब पर योग सेशन हुआ तो विंड एण्ड वेव्स में जुम्बा सेशन। जिसमें बड़ी संख्या में शहरवासियों और युवाओं ने भाग लिया। राज्य पर्यटन विकास निगम के एमडी एस विश्वनाथन व टूरिज्म बोर्ड की एडिशनल एमडी शिल्पा गुप्ता ने योग व जुम्बा सेशन में पार्टिसिपेट किया। योग सेशन में योगाचार्य पवन गुरु ने योगाभ्यास कराया। वहीं, सी डेक पर जुम्बा सेशन में इंस्ट्रक्टर नवीन राजपूत ने म्यूजिक रिद्म के साथ एक्सरसाइज कराई।

yog.jpg

प्रदेश में 20 हजार महिलाओं को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग दी जाएगी
'समावेशी विकास के लिए पर्यटन' पर विशेषज्ञों ने पर्यटन उद्योग के अवसर, संभावना, विकास को समझने और वर्तमान स्थिति की चुनौतियों पर चर्चा की। यूनेस्को की संस्कृति प्रमुख जुन्ही हॉन ने पर्यटन से देश तथा प्रदेश के विकास तथा मध्य प्रदेश में पर्यटन की सम्भावनाओं को समझाते हुए कहा कि पर्यटन को नई ऊंचाइयों तक ले जाया जा सकता है, इसके लिए सभी को मिलकर कार्य करना होगा। उन्होंने बताया कि ग्लोबल जीडीपी में 10.4 प्रतिशत योगदान केवल पर्यटन क्षेत्र का है। वहीं, प्रमुख सचिव पर्यटन शिवशेखर शुक्ला ने बताया कि महिलाओं के लिए सुरक्षित पर्यटन की दृष्टि से 50 से अधिक स्थल को जोड़ा जा रहा है। महिलाओं का आत्मबल बढ़ाने वाला पहला राज्य भी मध्यप्रदेश होगा। प्रदेश में 20 हजार महिलाओं को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग दी जाएगी। उन्होंने कहा कि कृषि एवं उद्यानिकी पर्यटन सहित जनजातीय समुदाय की संस्कृति को प्रमोट कर पर्यटन को बढ़ावा दिया जाएगा।

होम स्टे जैसी योजनाओं से पर्यटन को बढ़ावादे रहे
कार्यक्रम से वर्चुअल जुड़ीं पर्यटन मंत्री ऊषा ठाकुर ने कहा है कि मध्यप्रदेश में देश और विदेश के पर्यटक निर्भीक होकर आएं। श्रेष्ठ पर्यटन ग्राम के रूप में निवाड़ी के लाडपुरा खास ने मध्यप्रदेश का गौरव बढ़ाया है। ग्रामीण और होम स्टे जैसे नवाचार से पर्यटन को निरंतर बढ़ावा देने की कोशिश की जा रही है। पर्यटन निगम के एमडी एस विश्वनाथन ने कहा कि टूरिज्म बढ़ाने के लिए गुणवत्ता का ध्यान रखा जा रहा है। पर्यटन की अलग-अलग विधाओं पर भी ध्यान दिया जा रहा है। वैलनेस टूरिज्म की भी पॉलिसी तैयार की गई है। पचमढ़ी, कान्हा नेशनल पार्क के समीप स्थित निगम की इकाइयों में वैलनेस सेंटर प्रारंभ किए गए हैं।

hitesh sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned