इस बार हज होगा या नहीं : जल्द बड़ा फैसला लेगी सऊदी सरकार, एमपी से हर साल हज पर जाते हैं हजारों यात्री

सऊदी अरब के मक्का और मदीना में मध्य प्रदेश से करीब 8 हजार से ज्यादा लोग हज करने जाते हैं। साथ ही, देशभर में भारत से डेढ़ लाख से ज्यादा यात्री हज यात्रा में शिरकत करने जाते हैं।

By: Faiz

Published: 20 Apr 2020, 04:22 PM IST

भोपाल/ भारत समेत दुनियाभर में कोरोना वायरस बहुत तेजी से फैल रहा है। कोरोना संक्रमण सिर्फ लोगों की सेहत पर ही भारी नहीं पड़ रहा, इसका असर कई क्षेत्रों में दिखाई देने लगा है। कोरोना से बचाव के मद्देनजर ये सवाल भी काफी चर्चा में है कि, हर साल होने वाला हज इस बार होगा या नहीं? मौजूदा समय में जिस तरह के हालात हैं, उन्हें देखते हुए इस बार हज यात्रा हो पाना संभव नहीं है। क्योंकि, कोरोना संक्रमण से रोकथाम के चलते सातों दिन और चौबीसों घंटे होने वाली उमराह यात्रा पर भी रोक लगी हुई है। बता दें कि, हर साल मध्य प्रदेश समेत दुनियाभर से मुस्लिम समुदाय के लोग हज यात्रा करने मक्का-मदीना जाते हैं। मध्य प्रदेश से ही बीते साल बीते साल राज्य हज कमेटी और टूर ऑपरेटर्स के जरिए करीब 8 हजार लोग हज पर गए थे। अगर स्थितियां अनुकूल हुईं, तो इस बार भी प्रदेश इतने ही लोगों के हज यात्रा पर जाने की उम्मीद है।

 

पढ़ें ये खास खबर- देवेन्द्र चन्द्रवंशी को मिलेगा कर्मवीर सम्मान, रिटायर होने तक का पूरा वेतन और पेंशन पत्नी को दी जाएगी


निरस्त नहीं हुई तो हो सकती है ये व्यवस्था

हालांकि, मौजूदा हालात के मुताबिक, इस बार कोरोना हज यात्रा पर जाने वालों के लिए बड़ा रोड़ा बन गया है। अगर स्थितियां समय रहते पूरी तरह अनुकूल नहीं हुई, तो ऐसा पहली बार ही होगा कि, इस बार हज यात्रा निरस्त हो जाएगी। मध्य प्रदेश हज कमेटी के सूत्रों की मानें तो, हालात को देखते हुए सऊदी सरकार इस बार अन्य देशों से आने वाले हज यात्रियों की आमद पर रोक लगा सकती है। यानी सुरक्षा और सतर्कता के मद्दे नजर सिर्फ गितनी चुनती के स्थानीय लोगों को ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए हज करने की अनुमति दी जा सकती है। फिलहाल, ये सूत्रीय जानकारी है, इसपर अब तक कोई आधिकारिक ऐलान नहीं किया गया है।

 

पढ़ें ये खास खबर- लॉकडाउन 2 : किराना या सब्जी में मिले गड़बड़ी या परेशानी, तो इन नंबरों पर करें शिकायत


15 मई को इसपर फैसला लेगी अरब सरकार!

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आगामी 15 मई को सऊदी अरब सरकार इस बार होने वाली हज यात्रा को लेकर फैसला लेने वाली है। क्योंकि, तय व्यवस्थाओं के मुताबिक, आगामी 25 जून से हज पर जाने वालों का सिलसिला शुरु हो जाएगा। वहीं, हज करके सभी हाजी 4 अगस्त तक अपने वतन लौट चुके होंगे।

 

पढ़ें ये खास खबर- लॉकडाउन 2 : लॉकडाउन में इस तरह रखें बुजुर्गों का ख्याल, पीएम मोदी ने भी 'सप्तपदी' के जरिये की है अपील


हज कमेटी ऑफ इंडिया की चुप्पी ने बढ़ाई मुश्किल

अगर देश स्तर पर बात करें तो, हज कमेटी ऑफ इंडिया इसपर चुप्पी साधे हुई है, जिसके चलते हज यात्रियों में बेचेनी बढ़ने लगी है, सभी का ये सवाल है कि आखिर होना क्या है, इसकी पुष्टि तो करें। बता दें कि, सऊदी अरब के मक्का और मदीना में होने वाले हज अरकान में भारत से ही करीब डेढ़ लाख यात्री शिरकत करते हैं।

Coronavirus in india
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned