मुस्लिम परिवार में हिंदू रीति रिवाज से बहू की गोद भराई, तनिष्क के इस एड को हटाए जाने पर दिव्या दत्ता ने कही ये बात

By: Sunita Adhikari
| Published: 14 Oct 2020, 12:07 PM IST
मुस्लिम परिवार में हिंदू रीति रिवाज से बहू की गोद भराई, तनिष्क के इस एड को हटाए जाने पर दिव्या दत्ता ने कही ये बात
Divya Dutta reaction on Tanishq ad

  • 43 सेंकड के इस एड को लेकर मंगलवार को बॉयकॉट तनिष्क ट्रेंड होता रहा। इस विज्ञापन में एक्ट्रेस दिव्या दत्ता वॉयसओवर है। ऐसे में जब उन्हें पता चला कि एड को हटा दिया गया है तो उन्होंने ट्वीट के जरिए रिएक्शन दिया।

नई दिल्ली: तनिष्क के एड से काफी बवाल मच गया। त्यौहारों के सीजन से पहले तनिष्क ने अपनी ज्वैलरी के लिए एक नया एड निकाला था। जिसमें दो धर्मों की बात होती है। मुस्लिम परिवार में हिंदू लड़की की गोद भराई को हिंदू रीति-रिवाज से किया जाता है। हालांकि जब इस एड को बनाया जा रहा होगा तो किसी ने नहीं सोचा होगा कि इसे लव जिहाद से जोड़कर देखा जाएगा। इतना ही नहीं, इस विज्ञापन पर इतना बवाल होगा कि तनिष्क को ही बायकॉट करने की भी मांग उठने लगेगी। लेकिन अब सोशल मीडिया पर उठे बवाल के बाद तनिष्क ने विज्ञापन को ऑफ एयर कर दिया है।

Big Boss 14: घर से बेघर हुईं सारा गुरपाल, सोशल मीडिया पर वापसी के लगाए जा रहे हैं कयास

43 सेंकड के इस एड को लेकर मंगलवार को बॉयकॉट तनिष्क ट्रेंड होता रहा। इस विज्ञापन में एक्ट्रेस दिव्या दत्ता वॉयसओवर है। ऐसे में जब उन्हें पता चला कि एड को हटा दिया गया है तो उन्होंने ट्वीट के जरिए रिएक्शन दिया। दिव्या ने लिखा, 'हां ये मेरी आवाज है। यह दुखद है कि इसे ऑफएयर कर दिया गया है। मुझे यह काफी अच्छा लगा था।'

इससे पहले एक्ट्रेस कंगना रनौत ने भी विज्ञापन पर अपनी आपत्ति जताई थी। कंगना ने ट्वीट कर कहा, "इसके कॉन्सेप्ट में उतनी दिक्कत नहीं थी, जितना इसे दिखाने का तरीका। सहमी हुई हिंदू लड़की याचनापूर्ण तरीक़े से अपने ससुराल पक्ष के प्रति कृतज्ञता ज़ाहिर करती है कि उसकी मान्यता को अहमियत दी गई। क्या वह घर की महिला नहीं है? वह उनकी दया पर क्यों है? अपने ही घर में इतना नम्र और डरपोक क्यों? शर्मनाक।"

Sushant की मौत पर राजनीति का खेल? शेखर सुमन ने कहा- शर्म की बात है ये मुद्दा बिहार चुनाव में इस्तेमाल होने जा रहा है

इसके साथ ही कंगना ने एक और ट्वीट करते हुए लिखा, "हिंदुओं के रूप में हमें इस बात के प्रति सचेत रहने की जरूरत है कि ये क्रिएटिव आतंकवादी हमारे दिमाग में क्या इंजेक्शन लगा रहे हैं। हमें इस बात की जांच, बहस और मूल्यांकन करना चाहिए कि किसी भी धारणा का परिणाम क्या है जो हमें खिलाया जाता है। यह हमारी सभ्यता को बचाने का एकमात्र तरीका है। #Tanishq." उनका यह ट्वीट काफी वायरल हुआ था।