अर्जुन कपूर ने अपनी बहन अंशुला के लिए हाथ पर बनवाया टैटू

By: Sunita Adhikari
| Published: 21 Jun 2021, 02:34 PM IST
अर्जुन कपूर ने अपनी बहन अंशुला के लिए हाथ पर बनवाया टैटू
Arjun Kapoor New Tattoo for his sister Anshula

अर्जुन कपूर अपनी बहन अंशुला कपूर से बेहद प्यार करते हैं। वह अक्सर सोशल मीडिया पर उनके साथ तस्वीर शेयर करते रहते हैं। अब अर्जुन ने अपनी बहन के लिए टैटू बनवाया है।

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्टर अर्जुन कपूर ने फिल्म 'इश्कजादे' से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी। इस फिल्म को बॉक्स ऑफिस पर सफलता मिली थी। पहली ही फिल्म से अर्जुन लोगों के बीच चमक गए थे। हालांकि, अब अर्जुन को किसी बड़ी हिट का इंतजार है क्योंकि काफी वक्त से उनकी फिल्में लगातार फ्लॉप हो रही हैं। फिल्मों के अलावा, अर्जुन कपूर अपनी पर्सनल लाइफ को लेकर भी काफी सुर्खियों में रहते हैं। मां के निधन के बाद से ही अर्जुन के लिए उनकी बहन अंशुला ही सब कुछ है।

ये भी पढ़ें: टाइगर श्रॉफ और दिशा पाटनी के रिश्ते को लेकर जैकी श्रॉफ ने किया बड़ा खुलासा

बहन अंशुला के लिए बनवाया टैटू
अर्जुन कपूर आए दिन अपनी बहन अंशुला के साथ सोशल मीडिया पर तस्वीर शेयर करते रहते हैं और उनके लिए खास मैसेज लिखते हैं। वह कई मौकों पर बता चुके हैं कि मां के निधन के बाद उनकी बहन ने ही उनका ख्याल रखा। ऐसे में अपनी बहन के लिए अब अर्जुन ने एक टैटू बनवाया है। जिसकी झलक उन्होंने फैंस को दिखाई है।

arjun_kapoor.jpg

वो मेरी आस्तीन का इक्का है
अर्जुन कपूर ने एक रील अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से शेयर किया है। इसमें उनके हाथ में टैटू नजर आ रहा है। उन्होंने A अक्षर का टैटू बनवाया है। इस अक्षर से उनका और अंशुला का नाम आता है। ऐसे में अर्जुन ने कैप्शन में लिखा है, 'वह मेरी आस्तीन का इक्का है। अंशुला और मैं, जीवन में हमेशा के लिए आपस में जुड़े हुए हैं और अक्षर A से भी।' अब अर्जुन कपूर का ये टैटू सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। अंशुला ने उनके इस पोस्ट पर कमेंट करते हुए लिखा, 'मैं आपसे प्यार करती हूं।' साथ ही, फैंस भी उनके टैटू को काफी पसंद कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें: करोड़ों कमाने के बावजूद किराए के घर में रहते हैं ये स्टार्स

हम एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं
अपने टैटू के बारे में बात करते हुए अर्जुन कपूर ने कहा, "टैटू, मेरे लिए, बहुत ही व्यक्तिगत हैं। अंशुला और मैं एक साथ सब कुछ कर चुके हैं। ए अर्जुन के लिए है और ए अंशुला के लिए है। हम अक्षर A और एक दूसरे से जुड़े हुए हैं। हमने एक-दूसरे की देखभाल करने और एक-दूसरे के साथ रहने का वादा किया है, चाहे कुछ भी हो। अंशुला मेरी नंबर एक इंसान है, वह मेरी आस्तीन की इक्का है और मैंने उसकी वजह से अपने शरीर पर शुरुआती स्याही लगाने का फैसला किया। मुझे स्वीकार करना होगा कि यह मेरा पसंदीदा टैटू है।”