Year Ender 2020: नेपोटिज्म के खिलाफ ये 5 सेलेब्स बोल चुके हैं खुलकर, नहीं सताया किसी का डर

By: Shweta Dhobhal
| Published: 18 Dec 2020, 06:01 PM IST
Year Ender 2020: नेपोटिज्म के खिलाफ ये 5 सेलेब्स बोल चुके हैं खुलकर, नहीं सताया किसी का डर
Bollywood Celebs Openly Speak Against Nepotism

  • अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ( Sushant Singh Rajput ) की मौत के बाद नेपोटिज्म पर छिड़ी बहस
  • नेपोटिज्म ( Nepotism ) पर खुलकर बोले सेलेब्स

नई दिल्ली। बॉलीवुड में तेजी से उभरते हुए अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ( Sushant Singh Rajput ) बेशक दुनिया को अलविदा कह चुके हैं, लेकिन उनके जाने के बाद से हिंदी सिनेमा जगत में कई गंभीर मुद्दों का जन्म हुआ है। जिसमें से सबसे ज्वलंत मुद्दा है नेपोटिज्म ( Nepotism ) का। सुशांत की मौत के बाद से बॉलीवुड में होने वाले भाई भतीजावाद के खिलाफ खुलकर आवाज़ें उठ रही हैं। इसी बहस के चलते बॉलीवुड भी दो टुकड़ों में बांटा हुआ नज़र आया। जहां एक ओर कई सितारें नेपोटिज्म पर बोलने के डरते हुए नज़र आए तो वहीं दूसरी ओर कई सेलेब्स ने इस मुद्दे पर बिना डरे खुलकर बात की। चलिए आपको ऐसे ही 5 सितारों के बारें में बताते हैं। जिन्होंने बिना डरे नेपोटिज्म पर अपना पक्ष रखा।

Kangana Ranaut

1. कंगना रनौत ( Kangana Ranaut )


एक्ट्रेस कंगना रनौत ( Kangana Ranaut ) बॉलीवुड की उन अभिनेत्रियों में से एक हैं। जो अपनी बात बड़ी ही बेबाकी के साथ रखती हैं। सुशांत के मौत के बाद से वह एक के बाद एक इंडस्ट्री पर प्रहार करती हुई दिखाई दीं। उन्होंने पिछले बीते महीनों में कई लोगों का असली चेहरा लोगों को दिखाया है। वह नेपोटिज्म जैसे मुद्दे पर काफी लंबे समय से कई सेलेब्स पर निशाना साधती हुई भी आ रही है। जिसमें निर्देशक करण जौहर, महेश भट्ट और सलमान खान जैसे नाम शामिल हैं।

Ranveer Shorey

2. रणवीर शौरी ( Ranveer Shorey )

नेपोटिज्म को लेकर अभिनेता रणवीर शौरी ( Ranveer Shorey ) ने भी खुलकर अपना पक्ष रख है। रणवीर ने नेपोटिज्म मुद्दे को लेकर अपनी राय रखते हुए कहा था कि 'इंडस्ट्री में कुछ परिवारों का दबदबा साफ महसूस किया जा सकता है। यहां कुछ ऐसे परिवार हैं जो इंडस्ट्री के ठेकेदार बनकर बैठे हुए हैं। इंडस्ट्री में कई लोग ऐसे हैं। जो उन लोगों को काम के लिए खुश करते भी हैं। रणवीर ने खुलासा किया था कि काम के लिए पहले वह भी लोगों को खुश रखने की कोशिश करते थे, लेकिन बाद में उन्होंने यह करना छोड़ दिया। रणवीर शौरी ने कहा था कि स्टार किड्स को सजी-सजाई थाली मिलती है। आउटसाइडर्स को स्टार किड्स के मुताबिक ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है।'

Taapsee Pannu

3. तापसी पन्नू ( Taapsee Pannu )

बड़े पर्दे पर दमदार एक्शन करती हुई दिखाई देने वाली एक्ट्रेस तापसी पन्नू ( Taapsee Pannu ) नेपोटिज्म की मार झेल चुकी हैं। एक पत्रिका को इंटरव्यू देते हुए तापसी ने बताया था कि एक बार उन्हें उनकी ही फिल्म से बिना बताए हटा दिया था। जिसकी वजह एक स्टारकिड था। उस दौरान वह किसी बड़े स्टार को डेट भी नहीं कर रही थी। इस वजह से उन्हें कोई और फिल्म भी नहीं बनी। तापसी ने यह भी कहा कि अगर वह एक स्टारकिड होती तो शायद उन्हें फिल्म मिलने में कोई परेशानी नहीं होती।

यह भी पढ़ें- Year Ender 2020: कोरोनाकाल में लोगों की मदद करने पर ये 5 पांच स्टार्स बने मसीहा, किया करोड़ों का महादान

Siddhant Chaturvedi

4. सिद्धांत चतुर्वेदी ( Siddhant Chaturvedi )

फिल्म गली बॉय ( Gully Boy ) से मशहूर हुए सिंद्धात चतुर्वेदी ( Siddhant Chaturvedi ) भी नेपोटिज्म के बारें में अपनी आवाज़ उठा चुके हैं। अभिनेता का मानना है कि स्टार किड्स नए टैलेंट को इंडस्ट्री में नहीं टिकने देते। एक बार स्टारकिड्स पर निशाना साधते हुए सिद्धांत चतुर्वेदी ने कहा था कि, जहां हमारे सपने पूरे होते हैं वहीं से इनकी स्ट्रगल शुरु होती है।

यह भी पढ़ें- Year Ender 2020: टीवी और बॉलीवुड की ऐसी 10 बड़ी हस्तियां जिन्होंने 2020 में शादी कर सबको किया हैरान

Abhay Deol

5. अभय देओल ( Abhay Deol )

नेपोटिज्म पर बेबाकी से अपनी राय रखने वालों की लिस्ट में आउटसाइडर्स ही नहीं बल्कि कई सेलेब्स भी हैं। अभिनेता अभय देओल ( Abhay Deol ) जिनका संबंध देओल परिवार से है। उन्हें भी नेपोटिज्म का सामना करना पड़ा है। नेपोटिज्म को लेकर अभय देओल ने एक किस्सा शेयर किया था। जिसमें उन्होंने बताया था कि किस तरह से फिल्म जिंदगी न मिलेगी दोबारा में लीड रोल निभाने के बाद भी उनको और फरहान अख्तर ( Farhan Akhtar ) को नजरअंदाज किया गया। अवॉर्ड शो में हर कोई केवल ऋतिक रोशन ( Hrithik Roshan ) के बारे में ही बात करता था।