scriptdev anand was banned from wearing black suit | देवानंद की अधूरी मोहब्बत, काले कोट पर लगा बैन! मशहूर हैं ये दिलचस्प किस्से | Patrika News

देवानंद की अधूरी मोहब्बत, काले कोट पर लगा बैन! मशहूर हैं ये दिलचस्प किस्से

देव आनंद रोमांस किंग के नाम से लोकप्रिय थे. अपनी डायलॉग डिलीवरी, अदाकारी, लुक्स और हेयरकट के अलावा देव अपने फैशन सेंस के लिए भी बहुत पॉपुलर थे।

नई दिल्ली

Published: February 24, 2022 06:21:05 pm

प्यार दीवाना होता है, मस्ताना होता है लेकिन मुकम्मल हो जाए ये जरूरी नहीं है। पर्दे पर आपने कितनी ही ऐसी अधूरी मोहब्बत की दास्तां देखी होगी जहां दो प्यार करने वाले दिल किसी ना किसी वजह से मिल नहीं पाए। हालांकि बॉलीवुड के कई कलाकार ऐसे भी रहे जिनकी निजी जिंदगी में उनकी मोहब्बत अधूरी रह गई थी। बॉलीवुड के सदाबहार अभिनेता देव आनंद का नाम भी उन आशिकों की सूचि में लिया जाता है जिन्होंने अधूरे प्यार का दर्द सहा था। पर्दे पर रोमांटिक किरदार निभाने वाले देव आनंद असल जिंदगी में भी किसी के प्यार के दीवाने हो गए थे।देव आनंद को बॉलीवुड का मोस्ट रोमांटिक एवरग्रीन एक्टर कहा गया था। पर्दे पर उनके अभिनय का अंदाज बेहद अनोखा था। वहीं उनके गुड लुक्स पर तो लड़कियां मर मिटती थीं।
dev anand
अपने करियर के शुरूआत में देव आनंद फल्मों में धोती कुर्ता पहनते थे, लेकिन बदलते वक्त के साथ उन्होंने पैंट-शर्ट पहनना शुरू कर दिया। गले में स्कॉर्फ बांधे देव आनंद जब हल्की सी मुस्कराहट के साथ अपने डायलॉग बोलते तो फैंस उनके अभिनय के मुरीद हो जाते। सफेद शर्ट के ऊपर काला कोट पहनना उनका सिग्नेचर स्टाइल बन गया था. लेक‍िन एक समय ऐसा आया जब उनके इस पहनावे पर कोर्ट ने बैन लगा दिया।
dev_black_.jpgसाल 1958 में आई फिल्म 'काला पानी' में देव आनंद के सफेद शर्ट और काले कोट वाले लुक ने लड़कियों को ही नहीं बल्क‍ि लड़कों को भी दीवाना बना दिया था। इसके बाद देव साहब के काले कोट पर बैन लगाने की कवायद भी शुरू हुई थी। इस बात का जिक्र देव आनंद के ऑटोबायोग्राफी में किया गया है। दरअसल, देव आनंद जब भी सफेद शर्ट के ऊपर काले रंग का कोट डालकर बाहर निकलते थे, तो लड़कियां उन्हें देखने के लिए इकट्ठा हो जाती थी। इतना ही नहीं बल्क‍ि लड़कियां छत से कूदकर उन्हें देखने आ जाती थीं। अपने बेहतरीन लुक के साथ देव का यूं सार्वजन‍िक रूप से बाहर आना लोगों की जान पर बन आई थी।
आपको बता दें देव आंनद की प्रेम कहानी का एक दिलचस्प किस्सा है कि एक बार झील में एक गीत की शूटिंग चल रही थी। देव आंनद और सुरैया एक नाव पर बैठे थे। अचानक सुरैया फिसल गईं और पानी में जा गिरीं। देव आंनद तुरंत पानी में कूद गए और सुरैया को डूबने से बचा लिया। देव आनंद के अनुसार पहला प्यार एक खूबसूरत अहसास होता है। देव आनंद और सुरैया की मोहब्बत किसी फिल्म की स्क्रिप्ट से कम नहीं है। दोनों में प्यार तो हुआ लेकिन हिंदू-मुस्लिम की दीवार के कारण दोनों की मोहब्बत को मंजिल नहीं मिल पाई। प्यार को घर वालों की रजा की मुहर नहीं मिली और एक फिल्मी अंदाज में दोनों अलग हो गए। जीत फिल्म के सेट पर देव आनंद ने सुरैया से अपने प्यार का इजहार किया और सुरैया को तीन हजार रुपयों की हीरे की अंगूठी दी। सुरैया की नानी को ये रिश्ता नामंजूर था. वो एक हिंदू-मुस्लिम शादी के पक्ष में नहीं थीं। कहा जाता है कि उनकी नानी को फिल्म में देव आनंद के साथ दिए जाने वाले रोमांटिक दृश्यों से भी आपत्ति थी। वो दोनों की मोहब्बत का खुलकर विरोध करती थीं। यही नहीं बाद में उन्होंने देव आनंद का सुरैया से फोन पर बात करना भी बंद करवा दिया था। उन्होंने देव आनंद को सुरैया से दूर रहने की हिदायत दी और पुलिस में शिकायत दर्ज करने की धमकी तक दे डाली। नतीजतन दोनों ने अलग होने का फैसला किया. इसके बाद दोनों ने एक भी फिल्मों में साथ काम नहीं किया और ताउम्र सुरैया ने किसी से शादी नहीं की...
यह भी पढ़ें

बॉलीवुड के एक बड़े एक्टर ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को फिल्मों में काम करने का दिया था ऑफर

आपको बता दें देव आनंद की आखिरी फिल्म 'चार्जशीट' उनके निधन से पहले रिलीज हुई थी। खबरों की मानें तो वो अपनी फिल्म 'हरे रामा हरे कृष्णा' को फिर से नए अंदाज में पेश करने के बारे में सोच रहे थे। हालांकि किस्मत को कुछ और ही मंजूर था। लंदन में उन्हें दिल का दौरा पड़ा था और 88 की उम्र में वो हमेशा हमेशा के लिए इस दुनिया से चले गए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

DGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थाकर्नाटक के सबसे अमीर नेता कांग्रेस के यूसुफ शरीफ और आनंदहास ग्रुप के होटलों पर IT का छापाPM Modi in Gujarat: राजकोट को दी 400 करोड़ से बने हॉस्पिटल की सौगात, बोले- 8 साल से गांधी व पटेल के सपनों का भारत बना रहापंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतेंई-कॉमर्स साइटों के फेक रिव्यू पर लगेगी लगाम, जांच करने के लिए सरकार तैयार करेगी प्लेटफॉर्मMenstrual Hygiene Day 2022: दुनिया के वो देश जिन्होंने पेड पीरियड लीव को दी मंजूरी'साउथ फिल्मों ने मुझे बुरी हिंदी फिल्मों से बचाया' ये क्या बोल गए सोनू सूदभाजपा प्रदेश अध्यक्ष का हेमंत सरकार पर बड़ा हमला, कहा - 'जब तक सत्ता से बाहर नहीं करेंगे, तब तक चैन से नहीं सोएंगे'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.