scriptजानें क्यों अक्षय कुमार कहते थे फर्नीचर और मुझमें कोई फर्क नहीं ! | When Akshay Kumar said there is no difference between furniture and me | Patrika News
बॉलीवुड

जानें क्यों अक्षय कुमार कहते थे फर्नीचर और मुझमें कोई फर्क नहीं !

बचपन से ही अक्षय कुमार को मार्शल आर्ट्स का शौक था। उन्होंने थाईलैंड के बैंकॉक से मार्शल आर्ट्स की पढ़ाई भी की। जब वो फिल्मों में आए तो उनके एक्शन की खूब तारीफें हुईं, लेकिन…

Nov 14, 2021 / 11:34 am

Archana Pandey

When Akshay Kumar said there is no difference between furniture and me

Akshay Kumar

नई दिल्ली। When Akshay Kumar said there is no difference between furniture and me: बॉलीवुड सुपरस्टार अक्षय कुमार (Akshay Kumar) के लाखों करोड़ों फैन हैं, आज लोग उनकी एक्टिंग के दीवाने हैं। एक्शन से लेकर रोमांस और कॉमेडी एक्टिंग भी अक्षय जबरदस्त तरीके से करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं आपका फेवरेट ये स्टार कभी खुद को इस मामले में मरा हुआ समझता था और अपनी तुलना फर्नीचर से किया करते थे।
मार्शल आर्ट्स का शौक था
दरअसल बचपन से ही अक्षय कुमार को मार्शल आर्ट्स का शौक था। उन्होंने थाईलैंड के बैंकॉक से मार्शल आर्ट्स की पढ़ाई भी की। जब वो फिल्मों में आए तो उनके एक्शन की खूब तारीफें हुईं, लेकिन उनकी एक्टिंग पर सवाल उठाए गए। महेश भट्ट ने भी एक्टिंग को लेकर अक्षय कुमार पर टिप्पणी कर दी थी।
इस बात का जिक्र अक्षय कुमार ने रजत शर्मा के शो, ‘आपकी अदालत’ में किया था। दरअसल रजत शर्मा ने अक्षय कुमार से सवाल पूछा था, ‘क्या ये बात सही है कि जब आपने करियर शुरू किया था तब ये कहा गया था कि फिल्म सेट के फर्नीचर में और अक्षय कुमार में कोई फर्क नहीं, दोनों डेड दिखते हैं? इसके जबाव में अक्षय ने कहा था कि ‘बिलकुल, ये किसी ने कहा नहीं बल्कि मैंने खुद कहा था।
ये इत्तेफाक की बात है
ये इत्तेफाक की बात है कि मैं फिल्मों में आ गया। मैंने कैमरा भी पहली बार देखा जब उसे फेस किया। जो कुछ भी सीखा अपने अनुभव से सीखा। वहीं, रजत शर्मा ने महेश भट्ट की टिप्पणी को लेकर पूछा था कि ‘महेश भट्ट ने कहा था कि अगर एक्शन कराना हो तो अक्षय कुमार को ले लो, एक्टिंग करानी हो तो बिलकुल मत लेना। इसके जबाव में अक्षय ने कहा था, ‘हां, उन्होंने बिलकुल सही कहा था। क्योंकि वाकई में मुझे एक्टिंग के बारे में पता नहीं था।’
आपको बता दें कि अक्षय कुमार ने फिल्म, ‘आज’ से अपने करियर की शुरुआत की थी। लेकिन फिल्म पाने के लिए भी उन्हें बहुत संघर्ष करना पड़ा। उनके पास फोटोशूट तक के लिए पैसे नहीं थे। पैसों की कमी के चलते अक्षय कुमार ने एक फोटोग्राफर के पास बतौर असिस्टेंट काम किया। तय हुआ कि फोटोग्राफर वेतन के बदले अक्षय का फोटोशूट करेगा। लेकिन जब फोटोग्राफर के साथ अक्षय जुहू के एक बंगले में फोटोशूट के लिए पहुंचे तो गार्ड ने उन्हें भगा दिया।
बताया जाता है कि अक्षय कुमार को बंगले के बाहर ही फोटोशूट कराना पड़ा था। बाद में अक्षय कुमार ने वही बंगला खरीद लिया था। अक्षय को बतौर मुख्य अभिनेता पहली फ़िल्म, ‘सौगंध’ मिली थी। उनकी शुरुआती फिल्में फ्लॉप साबित हुईं लेकिन खिलाड़ी सीरीज की फिल्मों ने उन्हें बॉलीवुड का खिलाड़ी बना दिया।

Hindi News/ Entertainment / Bollywood / जानें क्यों अक्षय कुमार कहते थे फर्नीचर और मुझमें कोई फर्क नहीं !

ट्रेंडिंग वीडियो