पुलिस पर फिर हमला : बुलंदशहर में हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर पथराव

  • कानपुर की घटना के बाद अब बुलंदशहर में हुआ पुलिस टीम पर हमला
  • मुखबिर की सूचना पर रात में हिस्ट्रीशीटर के घर दबिश देने गई थी टीम

By: shivmani tyagi

Updated: 12 Jul 2020, 06:58 PM IST

बुलंदशहर ( bulandshar news hindi) शहर के बीचोबीच मोहल्ला मिर्ची टोला में हिस्ट्रीशीटर के घर दबिश देने गई पुलिस टीम पर हिस्ट्रीशीटर के परिजनों और मोहल्ले के लोगों ने पथराव कर दिया। इस दौरान पुलिसकर्मियों ने हवाई फायरिंग करके अपनी जान बचाई। इसी बीच हिस्ट्रीशीटर माैके का फायदा उठाकर नदी में कूदकर फरार हो गया।

यह भी पढ़ें: अगर आप भी Whatsapp पर लगाते हैं Status तो हो जाएं सावधान, जाना पड़ सकता है जेल

घटना शनिवार रात की है स्वाट टीम बुलंदशहर के ही एक हिस्ट्रीशीटर (bulandshar crime) को पकड़ने मोहल्ला मिर्ची टोला में गई थी। इस टीम ने कोतवाली नगर पुलिस को इसकी सूचना नहीं दी। सादी वर्दी में आई पुलिस को देखकर परिजनों ने शोर मचा दिया इससे मोहल्ले में जाग हो गई और मोहल्ले के लोगों ने एसओजी टीम पर पथराव कर दिया। खुद पर अचानक हुए हमले से बचने के लिए एसओजी टीम को हवाई फायरिंग करनी पड़ी और किसी तरह मौके से भाग कर अपनी जान बचाई।

यह भी पढ़ें: अब फ्री में होगा Covid-19 टेस्ट, इन जगहों पर लगाए जा रहे कैंप

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पुलिस अचानक हुए हमले से खुद को बचाने में उलझ गई। इसी बीच आरोपी हिस्ट्रीशीटर काली नदी से कूदकर फरार हो गया। स्वाट टीम प्रभारी दीक्षित त्यागी के अनुसार सूचना मिली थी कि मिर्ची टोला मोहल्ले में रहने वाला हिस्ट्रीशीटर शाहिद अपने घर पर मौजूद है। मुखबिर ने बताया था कि समय काफी कम है और वह फरार हो सकता है। इस सूचना पर तुरंत दबिश दी गई। टीम सिविल ड्रेस में थी इस दौरान लोगों ने पुलिस को बदमाश समझ लिया और पथराव कर दिया।

यह भी पढ़ें: सात साल पहले मर चुका था व्यक्ति, खाते से 1.5 करोड़ निकालने को हुआ 'जिंदा'!

इस घटना का पता चला तो पुलिस ( bulandshar police ) ने दोबारा से मौके पर दबिश दी लेकिन तब तक हिस्ट्रीशीटर फरार हो चुका था। स्वाट टीम ने स्थानीय पुलिस को बगैर जानकारी दिए ही दबिश दी थी इस पर एसपी बुलंदशहर ने नाराजगी जताई है। इस मामले में कई लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। नगर कोतवाली प्रभारी का कहना है कि कुछ लोगों को चिन्हित कर लिया गया है जल्द गिरफ्तारियां की जाएंगी।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned