inspection- निगम प्रशासक का पहला दौरा, 13 शाखा प्रमुखों को नोटिस जारी

सवा घंटे तक निगम में रहे कलेक्टर, कहा कार्यालय इतना गंदा तो शहर को क्या साफ रखोगे
टैक्स वसूली को लेकर अधिकारियों से की चर्चा

बुरहानपुर. निगम प्रशासक का पहला दौरा शुक्रवार दोपहर नगर निगम कार्यालय पर हुआ। उनके आते ही निगम में हड़कंप मच गया। निगम की सभी शाखाओं में पसरी गंदगी और कबाड़ को देखकर प्रशसक नाराज हुए। राजस्व विभाग का वर्षों पुराना रिकॉर्ड छत पर रखा देखकर कलेक्टर ने आयुक्त को रिकॉर्ड रूम तैयार करने के निर्देश दिए। शौचालय और सीढिय़ों पर गंदगी देखकर कहा आप का कार्यालय ही इतना गंदा है तो शहर को क्या साफ रखोंगे। गंदगी मिलने पर 13 शाखा प्रमुखों को नोटिस भी जारी किए।

दोपहर 1 बजे कलेक्टर व निगम प्रशासक के रूप में राजेश कौल पहली बार निगम कार्यालय पहुंचे। करीब सवा घंटे तक निगम अधिकारियों के साथ कार्यालय का निरीक्षण किया। सबसे पहले फायर बिग्रेड कक्ष, आजीविका मिशन, विद्युत शाखा, पीएम आवास, राजस्व विभाग, अधिकारी, कर्मचारियों की बैठक कक्षों का निरीक्षण किया। सभी 13 से अधिक शाखाओं में कलेक्टर को गंदगी मिलने के साथ ही अधिकारियों की टेबलों पर फाइलों के ढेर मिले। पीएम आवास शाखा की सीढिय़ों पर गुटखा पाउच के निशान होने के साथ ही शौचालय के पास भी गंदगी पड़ी हुई थी। यह देखकर कलेक्टर ने नाराजगी जाहिर की। सभी शाखाओं के बाहर नेम प्लेट नहीं होने के साथ ही निगम में कार्यरत अधिकारियों और कर्मचारियों के टेबल के पास भी पद नेम प्लेट नहीं लगी थी। कलेक्टर ने आयुक्त को निर्देश देकर सभी अधिकारियों और कर्मचारियों के कक्षों और टेबलों पर नेम प्लेट लगाने के लिए कहा।

छत पर रखे कबाड़ में पड़ा मिला पुराना रिकॉर्ड
निगम कार्यालय की छत पर कलेक्टर को कबाड़ में कागज दिखाई दिए। निगम का वर्षों पुराने रिकॉर्ड भी छत पर रखा देखकर कलेक्टर ने कहा कि सभी रिकॉर्ड को सुरक्षित रखे। छत पर ही एक रिकॉर्ड रूम तैयार किया जाए। छत पर रखे पुराने कूलर सहित सभी प्रकार के कबाड़ को जमा कर बेच दे। निगम के वर्षों पुराने कागजों पर धूल जमी थी, यह देखकर अधिकारियों को रिकॉर्ड सुरक्षित रखने के निर्देश दिए। छत पर रिकॉर्ड रूम तैयार होने से सभी शाखाओं का पुराना रिकॉर्ड आसानी से मिल जाएगा। निगम कार्यालय में कलेक्टर के निरीक्षण की खबर मिलते ही अधिकारी सहित कर्मचारी अपने कक्षों में पहुंचे और टेबलों के पास रखी फाइलों और कागजों को सही करते नजर आए।

 

 

टैक्स वसूली को लेकर अधिकारियों से चर्चा
प्रशासक कक्ष में बैठकर कलेक्टर राजेश कुमार ने करीब 20 मिनट तक अधिकारियों से टैक्स वसूली को लेकर चर्चा की। निगम की डिमांड राशि, टेक्स वसूली, प्रति माह होने वाला खर्च और शासन से योजनाओं पर मिलने वाली राशि की जानकारी मांगी तो निगम आयुक्त भगवानदास भूमरकर और वित्तीय सहायक आयुक्त आरएस सिटोले ने कहा कि निगम की टोटल डिमांड 10 करोड़ 46 लाख है। हर माह 4 करोड़ रूपए रूटीन खर्च होता है। अब तक हम डिमांड का 46 प्रतिशत कर वसूल किया है। प्रदेश में अन्य नगर निगमों की तुलना में बुरहानपुर निगम में टेक्स बहुत कम है। 1997 से जल और सन 2000 से संपत्ति कर नहीं बढ़ा है। इस पर कलेक्टर ने निगम की डिमांड बढ़ाने के लिए प्रस्ताव करने करने के निर्देश दिए।

13 विभागों के अधिकारियों को नोटिस जारी
निगम आयुक्त भगवानदास भूमरकर ने कहा कि कलेक्टर साहब के कार्यालय निरीक्षण के दौरान सभी शाखाओं में गंदगी मिली है। कार्यालय के साथ ही शाखाओं में सफाई के लिए जिम्मेदार 13 अधिकारियों को नोटिस जारी किए गए है। तीन दिवस के अंदर गंदगी को साफ करने के साथ ही शाखाओं में सफाई रखने के निर्देश दिए गए है।तीन दिवस के बाद किसी भी शाखा में गंदगी मिलती है तो संबंधित अधिकारी पर कार्रवाई की जाएगी। निगम कार्यालय में जिम्मेदार अधिकारियों को रिकॉर्ड सही रखने के साथ ही सफाई पर विशेष ध्यान देने के लिए कहा है।

कलेक्टर साहब के निरीक्षण के दौरान गंदगी मिलने पर 13 शाखा प्रभारियों को नोटिस जारी कर सफाई रखने के निर्देश दिए गए।
भगवानदास भूमरकर, आयुक्त नगर निगम

Show More
tarunendra chauhan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned