विधायक के निवास को घेरने की चेतावनी पर तैनात रही पुलिस

प्रदेश में हॉर्स ट्रेडिंग की खबर से बुरहानपुर में भी गरमाई राजनीति
सोशल मीडिया पर जारी की गई थी घेराव की सूचना, बाद में किया स्थगित
पुलिस बल रहा तैनात

By: tarunendra chauhan

Published: 07 Mar 2020, 06:30 AM IST

बुरहानपुर. प्रदेश में हॉर्स ट्रेडिंग (खरीद फरोख्त) की खबर के बाद बुरहानपु में भी राजनीति गरमा गई। इन खबरों के बीच निर्दलीय विधायक भी बैंगलोर में निकल गए। इस बीच पूर्व विधायक के बेटे व कांग्रेस नेता नूर काजी ने सोशल मीडिया पर निर्दलीय विधायक के घर का घेराव का मैसेज डाल दिया। इसके बाद तो पुलिस से लेकर विधायक समर्थक अलर्ट हो गए। शुक्रवार को दिनभर विधायक के निवास पर पुलिस बल तैनात रहा, विधायक समर्थक भी निवास के बाहर डटे रहे। हालांकि शाम तक काजी ने घेराव को स्थगित करने की सूचना दी।

पूर्व विधायक हमीद काजी के बेटे नूर काजी ने सोशल मीडिया पर गुरुवार देर रात्रि विधायक निवास के घेराव का मैसेज वायरल करते हुए लिखा था कि जनता ने भाजपा के विरुद्ध चुने गए विधायक जो तीन दिनों से लापता है और पता चला है कि वह भाजपा के साथ जा रहे है। इस विश्वासघात के खिलाफ कांग्रेस शुक्रवार तीन बजे विधायक के घर का घेराव करेगी। लेकिन शुक्रवार को तीन बजे तक कोई भी व्यक्ति घेराव करने के लिए नहीं पहुंचा। दूसरी पोस्ट में नूर काजी ने शुक्रवार की नमाज होने के कारण घेराव को स्थागित करने की बात कही। विधायक निवास के घेराव की सूचना मिलते ही सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस बल तैनात किया गया। विधायक निवास के पास कोतवाली पुलिस जवान, चार्ली वाहन, डायल 100 वाहन गश्त करते नजर आई। सीएसपी बद्री प्रसार वर्मा ने कहा कि सोशल मीडिया पर विधायक के निवास के घेराव सूचना मिलने के बाद हमारी ओर से सतर्कता की दृष्टि से बल तैनात किया गया था। लेकिन सुबह से लेकर शाम तक कोई भी व्यक्ति घेराव के लिए नहीं पहुंचा।

 

हम स्वागत करने के लिए तैयार थे
विधायक प्रतिनिधि व भतीजे हर्षित ठाकुर ने कहा कि मुझे नहीं पता था कि कौन आ रहा था। अगर कोई निवास पर घेराव करने आता है तो हम जवाब देते। हम सभी का स्वागत करते हमारी ओर से होली मिलन समारोह रखा गया था।पूर्व विधायक के बेटे नूर काजी ने कहा कि हमारे विधायक तीन दिन से लापता है। ऐसा सुनने में आ रहा है कि वे बीजेपी को समर्थन कर रहे हैं, जबकि शहर की जनता ने उन्हें वोट देकर जीताया है। हमारे घेराव की खबर के बाद विधायक बैंगलोर से भोपाल सीएम से मिलने आ रहे हैं। हमारा विरोध सफल रहा। यह घेराव किसी पार्टी की तरफ से नहीं जनता की तरफ से करने वाले थे।

यह बोले थे विधायक
विधायक सुरेंद्रसिंह ने दो दिन पहले 4 मार्च को कहा था कि वे बैंगलोर में परिवार के साथ आए हैं, दर्शन कर लौटेंगे। उन्होंने कहा था कि वे कांग्रेस सरकार के समर्थन में है।

tarunendra chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned