scriptEasy ways to avoid banking fraud do to protect yourself | इन तरीकों से हो रही है बैंकिंग धोखाधड़ी, फ्रॉड से बचने के लिए आसान उपाय | Patrika News

इन तरीकों से हो रही है बैंकिंग धोखाधड़ी, फ्रॉड से बचने के लिए आसान उपाय

किसी तरह की परेशानियों से बचने के लिए बैंक अपने ग्राहकों को समय-समय पर सलाह देते रहते हैं। बैंक कहता है कि ग्राहक अपने डेबिट/क्रेडिट कार्ड का पिन नंबर या ओटीपी किसी से शेयर नहीं करना चाहिए। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के कड़े नियमों के बावजूद बैंकों में धोखाधड़ी हो ही जाती है।

मुंबई

Published: October 17, 2020 09:06:58 pm

जयपुर। किसी तरह की परेशानियों से बचने के लिए बैंक अपने ग्राहकों को समय-समय पर सलाह देते रहते हैं। बैंक कहता है कि ग्राहक अपने डेबिट/क्रेडिट कार्ड का पिन नंबर या ओटीपी किसी से शेयर नहीं करना चाहिए। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के कड़े नियमों के बावजूद बैंकों में धोखाधड़ी हो ही जाती है। बैंकों से धोखाधड़ी के मामलों में लगातार तेजी से इजाफा हो रहा है। ठगी करने वाले रोजाना नए नए तरीका ढूंढ निकालते है। डिजिटल लेनदेन ग्राहकों के लिए लाभदायक होने के साथ-साथ उनके लिए खतरा भी है। सबसे ज्यादा निशाना नेट बैंकिंग, फोन बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग इस्तेमाल करने वाले लोगों को बनाया जा रहा है। आजकल स्कैमर फिशिंग ईमेल, एसएमएस और फोन कॉल करके लोगों को ठग रहे हैं और उनके पैसे की चोरी कर रहे हैं।

banking fraud
banking fraud

यह भी पढ़े :— फेस्टिव सीजन : इन तरीकों से करें मनचाही खरीदारी, नहीं बिगड़ेगा बजट और होगी बड़ी बचत

इन दिनों चोरी करने के नए तरीके के लिए साइबर क्रिमिनल फर्जी बैंकिंग एप बना रहे हैं। फर्जी बैंकिंग एप से यूजर्स डाउनलोड के समय ध्यान नहीं दे पाते है कि आखिर कौन सा एप सही है कौन सा फर्जी। यूजर्स समझ नहीं बाते हैं किसको डाउनलोड किया जाए। यूजर्स धोखे से ऐसे एप्स डाउनलोड कर लेते हैं तो साइबर क्रिमिनल नेट-बैंकिंग के जरिए उनके अकाउंट में सेंध लगाकर उनकी मेहनत की कमाई को उड़ा लेते है।

यह भी पढ़े :— कोरोना वायरस से जुड़ी 5 भ्रांतियां, जिन्हें अब भी सच समझ रहे हैं लोग

भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) ने एक जागरूकता वीडियो शेयर किया है। जिसमें बताया गया है कि लोग ऐसे घोटालों से कैसे बचा जा सकता है। आपको भी ऐसे घोटालों से बचा जाए तो एनपीसीआई के इन बातों का ध्यान रखें...


— अपने डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड का कोई भी डिटेल शेयर ना करें। खासकर ओटीपी, यूपीआई आईडी और पिन की जानकारी फोन पर किसी से ना बताएं।
— सिम स्वैप या सिम स्पूफिंग धोखाधड़ी से बचने के लिए अपने बैंकिंग डिटेल की जानकारी किसी भी अंजान नंबर पर शेयर ना करें।
— बिना सत्यापित सोर्स को कभी भी पैसे ना भेजें और कोशिश करें कि सुरक्षित गेटवे के जरिए भुगतान की जाए।
— सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कभी भी अपने लेन-देन की डिटेल, कार्ड डिटेल शेयर ना करें।
— क्योंकि वहां आसानी से इसका दुरुपयोग किया जा सकता है।
— यदि आपको अपने बैंक खाते के बारे में कोई अनधिकृत लेनदेन की जानकारी मिलती है तो आप तुरंत इसकी जानकारी बैंक को दें।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Azadi Ka Amrit Mahotsav में बोले पीएम मोदी- ये ज्ञान, शोध और इनोवेशन का वक्तभारत ने ओडिशा तट से ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफलतापूर्वक किया परीक्षणNEET UG PG Counselling 2021: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- नीट में OBC आरक्षण देने का फैसला सही, सामाजिक न्‍याय के लिए आरक्षण जरूरीटोंगा ज्वालामुखी विस्फोट का भारत पर भी पड़ सकता है प्रभाव! जानिए सबसे पहले कहां दिखा असरCorona cases in India: कोरोना ने तोड़ा 8 महीने का रिकॉर्ड; 24 घंटे में 3 लाख से ज्यादा कोरोना के नए केस, मौत का आंकड़ा 450 के पार6 रुपये की चाय, 37 रुपये में नाश्ता, जानें चुनावी खर्च के नियमUttar Pradesh Assembly Elections 2022: भीषण शीतलहरी में पूर्वांचल हुआ गर्म, दो मुख्यमंत्रियों के चुनावी मैदान में उतरने की आस ने बढ़ाई सरगर्मीप्रियंका गांधी ने जारी की कांग्रेस की दूसरी लिस्ट, 41 उम्मीदवारों के नाम फाइनल, 16 महिलाओं को भी दिया टिकट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.