scriptJeff Bezos squares up to Mukesh Ambani in India ecommerce battle | 25 हजार करोड़ को लेकर टकराए दो धनबली मुकेश अंबानी और जेफ बेजोस, 29 हजार कर्मचारियों की नौकरी पर संकट मंडराया | Patrika News

25 हजार करोड़ को लेकर टकराए दो धनबली मुकेश अंबानी और जेफ बेजोस, 29 हजार कर्मचारियों की नौकरी पर संकट मंडराया

रिलायंस (reliance) ने फ्यूचर ग्रुप (future) के रीटेल और होलसेल बिजनेस को खरीदने के लिए 24,713 करोड़ रुपए में सौदा किया है। सिंगापुर की एक अदालत ने अमेजन (amazon) की अपील पर सुनवाई करते हुए डील पर अंतरिम रोक लगाने का आदेश जारी किया है....

Updated: October 28, 2020 01:41:41 pm

नई दिल्ली। सिंगापुर की एक अदालत ने अमेजन (amazon) की अपील पर सुनवाई करते हुए रिलायंस और फ्यूचर ग्रुप (reliance-future deal) के बीच हुई डील पर अंतरिम रोक लगाने का आदेश जारी किया है। रिलायंस (reliance) ने फ्यूचर ग्रुप (future) के रीटेल और होलसेल बिजनेस को खरीदने के लिए 24,713 करोड़ रुपए में सौदा किया है। कोर्ट के फैसले के बाद रिलायंस ग्रुप (reliance group) की तरफ से मीडिया नोट जारी किया गया है।

mukesh_ambani.jpg

PM SVANidhi scheme: 3 लाख वेंडर्स को मोदी सरकार ने बांटा लोन, रोजगार के लिए बिना गारंटी दे रहें 10 हजार रुपए

अमेजन की आपत्ति
दरअसल, अगस्त 2019 में अमेजन ने फ्यूचर कूपंस में 49% हिस्सेदारी खरीदी थी। इसके लिए अमेजन ने 1,500 करोड़ रुपए का पेमेंट किया था। इस डील में शर्त थी कि अमेजन को तीन से 10 साल की अवधि के बाद फ्यूचर रिटेल लिमिटेड की हिस्सेदारी खरीदने का अधिकार होगा। अमेजन के मुताबिक, इस डील में एक शर्त यह भी थी कि फ्यूचर ग्रुप मुकेश अंबानी के रिलायंस ग्रुप की किसी भी कंपनी को अपने रिटेल असेट्स नहीं बेचेगा।

Gold Rate Today : करवाचौथ से पहले खरीदें सोना और चांदी के गहने, जानिए कितना हो गया है सस्ता

अमेजन ने फ्यूचर ग्रुप पर लगाया उल्लंघन का आरोप
जेफ बेजोस की कंपनी अमेजन ने मध्यस्थता अदालत में कहा कि फ्यूचर ग्रुप ने रिटेल असेट्स की रिलायंस को बिक्री करके समझौते का उल्लंघन किया है। उधर, फ्यूचर ग्रुप ने मध्यस्थता अदालत में कहा कि यदि रिलायंस के साथ डील नहीं हो पाती है तो उसे अपने 1500 से आउटलेट्स को बंद करना पड़ेगा। इससे फ्यूचर ग्रुप और वेंडर्स फर्म के करीब 29 हजार कर्मचारियों की नौकरी पर संकट पैदा होगा।

लाल निशान पर खुले शेयर बाजार, भारती एयरटेल के शेयरों में 4 फीसदी की तेजी

फिलहाल सौदे को रोकने का आदेश
अमेजन बनाम फ्यूचर बनाम रिलायंस इंडस्ट्रीज के इस मामले में एकमात्र मध्यस्थ वीके राजा ने अमेजन के पक्ष में अंतरिम फैसला सुनाया। उन्होंने फ्यूचर ग्रुप को फिलहाल सौदे को रोकने को कहा। उन्होंने कहा कि जब तक इस मामले में मध्यस्थता अदालत अंतिम निर्णय पर नहीं पहुंच जाती है, तब तक सौदा नहीं किया जा सकता है। अमेजन के एक प्रवक्ता ने भी मध्यस्थता अदालत के इस निर्णय की पुष्टि की है। उसने कहा कि मध्यस्थता अदालत ने कंपनी के द्वारा मांगी गई राहत प्रदान की है।

PM Kisan Samman Nidh: आधार से नहीं जुड़ा है अकाउंट तो तुरंत कराएं लिंक, इसके बिना खाते में नहीं आएंगे 6 हजार

अंबानी खेलना चाहते हैं बड़ा दांव
तेल, टेलिकॉम और डिजिटल मार्केट में कब्जे के बाद अब रिटेल सेक्टर में मुकेश अंबानी बड़ा दांव खेलने की तैयारी में हैं। इसी के तहत रिलायंस रिटेल में जमकर विदेश निवेश हो रहा है। मौजूदा दौर में रिलायंस रिटेल की वैल्यु 4.28 लाख करोड़ की है। जो रिटेल मार्केट की कुल हिस्सेदारी की 10 फीसदी के आसपास बैठती हैं। मतलब 90 फीसदी का बाजार अभी भी खुला है। इसलिए इस बड़े बाजार पर अंबानी और बेजोस दोनों कब्जा करना चाहते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

हैदराबाद में आज से शुरू हो रही BJP की कार्यकारिणी बैठक, प्रधानमंत्री मोदी कल होगें शामिल, जानिए क्या है बैठक का मुख्य एजेंडाDelhi News Live Updates: दिल्ली में आज भी मेहरबान रहेगा मानसून, आईएमडी ने जारी किया बारिश का अलर्टLPG Price 1 July: एलपीजी सिलेंडर हुआ सस्ता, आज से 198 रुपए कम हो गए दामJagannath Rath Yatra 2022: देशभर में भगवान जगन्नाथ रथयात्रा की धूम, अमित शाह ने अहमदाबाद में की 'मंगल आरती'Kerala: सीपीआई एम के मुख्यालय पर बम से हमला, सीसीटीवी में कैद हुआ आरोपीRBI गवर्नर शक्तिकान्त दास बोले- खतरनाक है CryptocurrencyIND vs ENG Test Live Streaming: दोपहर 3 बजे से शुरू होगा टेस्ट, जानें कब, कहां और कैसे देख सकते हैं मैचइंग्लैंड के खिलाफ T-20 और वनडे सीरीज के लिए टीम इंडिया का हुआ ऐलान, शिखर धवन सहित दिग्गजों की वापसी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.