scriptnpci data shows 3.2 crore emi auto debit payment transaction bounced in June | कोरोना ने बिगाड़ा बैलेंस, जून में बाउंस हुई EMI पेमेंट की 3.2 करोड़ ट्रांजेक्शन | Patrika News

कोरोना ने बिगाड़ा बैलेंस, जून में बाउंस हुई EMI पेमेंट की 3.2 करोड़ ट्रांजेक्शन

 

नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया के आंकड़ों के मुताबिक जून माह में ऑटो डेबिट EMI के फेल या बाउंस होने की संख्या में आश्चर्यजनक इजाफा हुआ है।

नई दिल्ली

Updated: July 13, 2021 10:13:12 pm

नई दिल्ली। कोरोना महामारी की दूसरी लहर ने देश की अर्थव्यवस्था को बुरी तरह से प्रभावित किया है। खासकर बैकिंग सेक्टर की गतिविधियों को। दूसरी लहर की वजह से लोगों की जेबें भी बड़े पैमाने पर ढीली हुईं। पिछले तीन महीनों के दौरान ऑटोमेटिक डेबिट होने वाले ईएमआई ट्रांजेक्शन के फेल के होने की संख्या देखकर तो ऐसा ही लगता है। नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ( NPCI ) के मुताबिक जून माह में ऑटो डेबिट EMI के फेल या बाउंस होने की संख्या में आश्चर्यजनक इजाफा हुआ है।
Emi payment
यह भी पढ़ें

SBI ने KYC फ्रॉड के खिलाफ ग्राहकों को किया अलर्ट, सुरक्षा के तीन पहलुओं का रखें ध्यान

जून 37% ट्रांजेक्शन हुए फेल

नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ( National Payment Corporation of India ) के डेटा के मुताबिक सभी बैंकों के ऑटो डेबिट EMI सेक्शन को मिलाकर जून महीने में कुल 37 फीसदी ट्रांजेक्शन फेल या बाउंस हो हुए। नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस ( NACH ) के जरिए जून में कुल 8.7 करोड़ ऑटो डेबिट EMI की रिक्वेस्ट प्रोसेस की गई लेकिन इसमें से करीब 37 फीसदी यानि कि 3.2 करोड़ ट्रांजैक्शन फेल हो गया। ऐसा खातों में पर्याप्त बैलेंस न होने की वजह से हुए हैं।
मई में 36% ट्रांजेक्शन फेल

इसी तरह मई में कुल 8.5 करोड़ ट्रांजेक्शन के रिक्वेस्ट आए थे जिसमें से 3.08 करोड़ ट्रांजेक्शन फेल या बाउंस हो गए थे, जिसका मतलब है कि 36 फीसदी ट्रांजेक्शन खातों में पर्याप्त बैलेंस न होने की वजह से फेल हुए थे। इससे पहले अप्रैल में कुल 34 फीसदी ऑटो डेबिट EMI ट्रांजैक्शन फेल या बाउंस हो गए थे। यानि अप्रैल, मई और जून में फेल हुए कुल ट्रांजेक्शन की संख्या 35 फीसदी से अधिक रहा। अमाउंट के हिसाब से देखें तो पिछले जून और मई में लगातार कुल ऑटो डेबिट राशि के 30 फीसदी ट्रांजैक्शन बाउंस हो रहे हैं। वहीं अप्रैल में 27.9 फीसदी ट्रांजेक्शन फेल हो गए थे।
यह भी पढ़ें

500 रुपए में खुलवाएं डाकघर बचत खाता, मिलेगा हाई रिटर्न और 7000 की टैक्स छूट

ग्राहकों के सिबिल स्कोर हुए खराब

इसका सीधा असर ग्राहकों के CIBIL स्कोर पर भी हुआ है। ऐसे ग्राहकों के सिबिल स्कोर खराब हुए हैं। वर्तमान में अनलॉक के बावजूद लोग अपने EMI का भुगतान समय पर नहीं कर पा रहे हैं। पिछले तीन महीनें से लगातार बढ़ती ऑटो डेबिट ट्रांजेक्शन के फेल होने की संख्या बताती है कि कोरोना की दूसरी लहर देश की अर्थव्यवस्था पर बुरा असर हुआ है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Sharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावSchool Holidays in February 2022: जनवरी में खुले नहीं और फरवरी में इतने दिन की है छुट्टी, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालइस एक्ट्रेस को किस करने पर घबरा जाते थे इमरान हाशमी, सीन के बात पूछते थे ये सवालजैक कैलिस ने चुनी इतिहास की सर्वश्रेष्ठ ऑलटाइम XI, 3 भारतीय खिलाड़ियों को दी जगहFace Moles Astrology: चेहरे की इन जगहों पर तिल होना धनवान होने की मानी जाती है निशानीSatna: कलेक्टर की क्लास में मिलेगी UPSC की निःशुल्क कोचिंगकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशDwane Bravo ने 'पुष्पा' गाने पर दी डेविड वॉर्नर को टक्कर, खुद को कमेंट करने से रोक नहीं पाए अल्लू अर्जुन

बड़ी खबरें

RRB-NTPC Result : गुस्साए छात्रों का बवाल जारी, गया में पैसेंजर ट्रेन में आग लगाई और स्टेशन पर किया पथरावRepublic Day 2022 LIVE updates: राजपथ पर दिखी संस्कृति और नारी शक्ति की झलक, 7 राफेल, 17 जगुआर और मिग-29 ने दिखाया जलवानहीं चाहिए अवार्ड! इन्होंने ठुकरा दिया पद्म सम्मान, जानिए क्या है वजहजिनका नाम सुनते ही थर-थर कांपते थे आतंकी, जानें कौन थे शहीद ASI बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्रRRB-NTPC Results: प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोले रेल मंत्री, रेलवे आपकी संपत्ति है, इसको संभालकर रखेंकिरन रिजिजू का बड़ा बयान, अरुणाचल प्रदेश से लापता युवा को जल्द रिहा करेगा चीनUP Assembly Elections 2022 : आरपीएन सिंह-जितिन प्रसाद पर जमकर बरसे अजय लल्लू, कहा ऐशोआराम करने वालों की कांग्रेस को जरूरत नहींIPL 2022: शिखर धवन को खरीद सकती हैं ये 3 टीमें, मिल सकते हैं करोड़ों रुपए
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.