scriptराजस्थान में हजारों थर्ड ग्रेड शिक्षकों के ट्रांसफर को लेकर है ये खबर, आपको भी इंतजार है तो जरूर पढ़ें | This news is regarding the transfer of thousands of third grade teachers in Rajasthan | Patrika News

राजस्थान में हजारों थर्ड ग्रेड शिक्षकों के ट्रांसफर को लेकर है ये खबर, आपको भी इंतजार है तो जरूर पढ़ें

locationचित्तौड़गढ़Published: Jan 25, 2024 01:53:39 pm

Submitted by:

santosh

Rajasthan Third Grade Teacher Transfer News: शिक्षा विभाग के अधिकारियों का कहना है कि प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के बाद थर्ड ग्रेड शिक्षकों को इंतजार है।

third_grade_transfer.jpg

Rajasthan Third Grade Teacher Transfer News: राजस्थान के 85 हजार थर्ड ग्रेड शिक्षक पांच साल से तबादलों के इंतजार में हैं। गत कांग्रेस सरकार ने थर्ड ग्रेड शिक्षकों की ट्रांसफर पॉलिसी तैयारी की, लेकिन ये पॉलिसी कागजों में दबकर रह गई। शिक्षा विभाग के अधिकारियों का कहना है कि प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के बाद थर्ड ग्रेड शिक्षकों को इंतजार था कि नई सरकार तबादले के बारे में एक्शन लेगी लेकिन, अब सरकार ने बनाई 100 दिन की कार्ययोजना में तबादले को शामिल नहीं किया है। वहीं, हाल में सरकार ने विधानसभा सत्र में कहा है कि फिलहाल तबादलों पर रोक है और थर्ड ग्रेड शिक्षकों के तबादला नीति बनाने पर विचार किया जाएगा। बताया गया है कि जिन शिक्षकों को तबादला की आवश्यकता थी। इसके लिए थर्ड ग्रेड शिक्षकों ने ऑनलाइन आवेदन किया।


जिले में थर्ड ग्रेड शिक्षकों की संख्या

चित्तौडग़ढ़ जिले में 1811 सरकारी स्कूल संचालित हैं। इन सरकारी स्कूलों में थर्ड ग्रेड शिक्षकों की संख्या करीब 8300 है। इसमें बहुत से शिक्षकों ने तबादले के लिए ऑनलाइन आवेदन किए हैं।


दिए ज्ञापन, ऑनलाइन किए आवेदन
तबादले की मांग को लेकर शिक्षक संगठनों ने जिला कलक्टर से लेकर शिक्षा मंत्री को ज्ञापन तक सौंपा। गत सरकार ने शिक्षकों के तबादले की पॉलिसी तैयारी करने का आश्वासन दिया। उसके बाद विधानसभा चुनाव होने के कारण मामला शांत हो गया लेकिन, अब शिक्षकों को ओर से फिर से तबादले की गणित लगाई जा रही है।


सरकार के पास तबादले की नीति नहीं होने के कारण बहुत से शिक्षक अपने जुगाड़ लगाकर तबादला करा लेते हैं। जिन शिक्षकों के जुगाड़ नहीं होते हैं उनका तबादला नहीं होता है। ऐसी स्थिति में नई भाजपा सरकार को शिक्षकों की तबादला करने की नीति तैयार करनी चाहिए। ताकि आम शिक्षक भी इससे वंचित नहीं रह सके।

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो