जिला परिषद की बैठक में बोले सदस्य कुलदीप पूनिया दलाल किसी आवेदक को लाता है तो तीन दिन में उसकी फाइल ओके हो जाती है

जिला परिषद की बैठक में बोले सदस्य कुलदीप पूनिया दलाल किसी आवेदक को लाता है तो तीन दिन में उसकी फाइल ओके हो जाती है

Rakesh gotam | Publish: Sep, 03 2018 10:03:51 PM (IST) Churu, Rajasthan, India

जिला परिषद सदस्य कुलदीप पूनिया ने श्रम विभाग की कार्यशैली पर गंभीर आरोप लगाया है।

चूरू. जिला परिषद सदस्य कुलदीप पूनिया ने श्रम विभाग की कार्यशैली पर गंभीर आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि मंत्री जी यदि हमारे जैसे कोई जनप्रतिनिधि लोगों को लेकर श्रम विभाग में जाते हैं तो उसकी फाइल रिजेक्ट कर दी जाती है। लेकिन वही व्यक्ति जब किसी दलाल के साथ जाता है तो तीन दिन में ही उसकी फाइल ओको हो जाती है। इस भ्रष्टाचार की जांच कराएं और दोषियों को सजा दिलाएंं।

पूनिया सोमवार को जिला परिषद की बैठक में प्रश्नकाल के दौरान उक्त सवाल उठाए। इस पर पंचायत राज मंत्री राजेन्द्र राठौैड़ ने कहा कि जिले में श्रम विभाग से करोड़ों रुपए लाभार्थियों को दिए गए हैं। लेकिन सदन में जोर से बोलने से किसी समस्या का समाधान नहीं होता। यदि आपकी ओर से लगाए गए आरोप साबित नहीं हुए तो सदन में ही आपको आरोप वापस लेने पड़ेंगे। इस पर सदस्य पूनिया ने कहा कि एक नहीं एक दर्जन पीडि़तों को लाकर खड़ा कर दूंगा। इसके अलावा पूनिया ने बिजली निगम पर सवाल उठाया और कहा कि छह माह से अधिक समय से डिमांड जमा हैं लेकिन लोगों को कनेक्शन नहीं दे रहे। इसे गंभीर मानते हुए मंत्री ने शीघ्र ही कनेक्शन देने को कहा।


सरकार की छवि खराब करने का ठेका ले रखा है क्या


जिले के ३० किसानों को तारबंदी के लिए रुपए नहीं मिलने पर मंत्री ने कृषि उप निदेशक को फटकार लगाते हुए कहा कि सरकार की छवि करने का ठेका ले रखा है क्या। २०१७-१८ में जिन किसानों को लाभ मिलना था वह आज तक नहीं मिल पाया। इस मामले में मंत्री ने एडीएम को संबंधित अधिकारियों को १६ सीसीए का नोटिस देने का निर्देश दिया।


सर्च रिपोर्ट के नाम बैंक किसानों को कर रही परेशान


सदस्य धर्मेन्द्र बुडानिया ने कहा कि बैंक केसीसी धारकों से सर्च रिपोर्ट के नाम पर परेशान कर रहीं है। इसके कारण किसानों को दो से तीन हजार रुपए बिना वजह के गवाने पड़ रहे हैं। मंत्री राठौड़ ने इसे गलत बताते हुए एडीएम व सीईओ को इसे बंद करवाने के लिए कहा।


आरओ का एक बूंद पानी आया होगा तो इस्तीफा दे देंगे


सदस्य तिलोकाराम कस्वां ने कहा कि कोहिणा गांव में आरओ चालू नहीं हुआ। इस पर संबंधित अधिकारी ने कहा कि आरओ चालू है तो कस्वां ने कहा मंत्री जी जांच करा लें यदि एक भी बूंद पानी गया होगा तो वे सदस्यता से इस्तीफा दे देंगे। इसी प्रकार मंत्री ने अधूरे सिंगल फेज कनेक्शनों को १५ दिन में पूरा करने के लिए कहा। वहीं, भैंसली में स्कूल परिसर से तार नहीं हटाने पर मंत्री ने संबंधित अधिकारी को कहा कि विभाग आपके घर का नहीं है इस समस्या को शीघ्र निपटाओ गोल-मोल करने से काम नहीं चलेगा। इसी प्रकार चूरू-तारानगर रोड को लेकर कहा कि इसी रोड से सीएम आएंगी सड़क पर एक भी गड्ढ़ा नहीं रहना चाहिए। मंत्री ने कहा कि जिले में एक भी व्यक्ति ऐसा नहीं बचे जिसे शौचालय निर्माण की राशि नहीं मिले। बीडीओ को निर्देश देते हुए कहा कि यदि जेटीओ की रिपोर्ट के आधार पर किसी फाइल को पास की गई तो बीडीओ ही उसके जिम्मेदार होंगे। इसी प्रकार मंत्री ने एक श्मशान भूमि में हाल की लम्बाई-चौड़ाई कम करने के मामले में जांच व किसानों के बकाया क्लेम का शीघ्र भुगतान कराने का निर्देश दिया। अध्यक्षता कर रहे जिला प्रमुख हरलाल सहारण ने कहा कि सभी अधिकारी आज जिस तरह अवकाश के दिन साधारण सभा में आए उसी प्रकार भाजपा को वोट देकर सरकार बनाएं ताकि हम आगे भी इसी प्रकार मिलते रहे। इस पर पूरा सदन हस पड़ा। इस दौरान एडीएम रामरतन सौंकरिया, सीईओ अशोक असीजा, एसीईओ नरेन्द्र चौधरी, सीएमएचओ डा. मनोज शर्मा, प्रधान गिरधारी लाल बांगड़वा, प्रधान सत्यानारायण सारण सहित अनेक सदस्य व अधिकारी उपस्थित थे।


भामाशाह मरीज से ले लिए 12 हजार रुपए


इसके अलावा सदस्य पूनिया ने मेडिकल कॉलेज से जुड़े राजकीय डेडराज भरतिया अस्पताल की दंत इकाई में भर्ती भामाशाह मरीज हरिराम के जबड़े का ऑपरेशन करने के लिए उससे 12 हजार रुपए के उकरण खरीदवा लिए गए। मंत्री ने इसे गंभीर मामला मानते हुए कहा कि इसकी जांच करवाएंगे। यदि गलत हुआ है तो संबंधित पर कार्रवाई की जाएगी। इस मामले में सीएमएचओ से भी शिकायत की गई है। पत्रिका ने जब इस मामले में पड़ताल की तो सामने आया कि मरीज ने खुद ऑपरेशन करने के लिए उक्त सामान लाने के लिए कहा। पांच हजार रुपए में मेडिकल स्टोर से मंगवाकर दिया। अस्पताल प्रशासन ने कहा कि चिकित्सकों ने मरीज से किसी सामान के लिए रुपए नहीं लिए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned