क्रिकेट पर बुकी-सट्टा करने का मुख्य आरोपित गिरफ्तार

क्रिकेट पर बुकी-सट्टा करने का मुख्य आरोपित गिरफ्तार

Rakesh Kumar Goutam | Publish: Nov, 10 2018 11:52:34 AM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 11:52:35 AM (IST) Churu, Rajasthan, India

पुलिस थाने में सटोरियों की अब जमानत नहीं होगी बल्कि क्रिकेट मैच पर बुकी-सट्टा करने वालों के खिलाफ मामला दर्ज कर विभिन्न धाराओं में कार्रवाई होगी। थानाधिकारी महेन्द्रदत्त शर्मा ने बताया कि पुलिस ने क्रिकेट मैच, बुकी सट्टा करने के मामले में मुख्य आरोपित को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। सालों बाद पहली बार पुलिस ने क्रिकेट मैच पर बुकी-सट्टा करने के आरोप में मुख्य आरोपित को गिरफ्तार किया है।

सादुलपुर.

पुलिस थाने में सटोरियों की अब जमानत नहीं होगी बल्कि क्रिकेट मैच पर बुकी-सट्टा करने वालों के खिलाफ मामला दर्ज कर विभिन्न धाराओं में कार्रवाई होगी। थानाधिकारी महेन्द्रदत्त शर्मा ने बताया कि पुलिस ने क्रिकेट मैच, बुकी सट्टा करने के मामले में मुख्य आरोपित को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। सालों बाद पहली बार पुलिस ने क्रिकेट मैच पर बुकी-सट्टा करने के आरोप में मुख्य आरोपित को गिरफ्तार किया है। शर्मा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी सादुलपुर निवासी कनिष्क उर्फ कालू के घर में दबिश देकर कार्रवाई की गई एवं उसके मकान से एक एंड्राइड एवं पांच की-पेड सहित कुल छह मोबाइल फोन जब्त किए गए हैं। उक्त मोबाइलों में भी क्रिकेट मैच बुकी सट्टा की वार्तालाप की रिकॉर्डिंग है। उन्होंने बताया कि आरोपी क्रिकेट मैच बुकी सट्टा का मुख्य अभियुक्त है। आरोपी इस मामले से जुड़े लोगों को क्रिकेट मैच सट्टा लाइन देने का भी काम करता है।
गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव के अन्तर्गत पुलिस महानिरीक्षक रेंज बीकानेर एवं जिला पुलिस अधीक्षक चूरू के निर्देशानुसार २६ अक्टूबर की रात सट्टा लगाने वालों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के अन्तर्गत वार्ड दस में आरोपी सुभाष को गिरफ्तार कर पांच मोबाइल फोन, की-पैड व एंड्रॉइड, एलसीडी, रिमोट, कैलकुलेटर एवं लाखों रुपए के हिसाब-किताब का रजिस्टर एवं दस्तावेज बरामद किए थे एवं आईटी एक्ट के अन्तर्गत मामला दर्ज किया था। आरोपी को शुक्रवार को सरदारशहर एडीजे कोर्ट में पेश किया गया जहां से उसे १२ नंवबर तक पुुलिस रिमांट पर सौंप दिया गया।
ऐसे मामलों में पुलिस मामूली जुर्माना लगाकर आरोपितों को पुलिस थाने में ही जमानत दे देती थी। इसके कारण यह अपराध दिन-प्रतिदिन बढऩे लगा। क्रिकेट मैच पर बुकी एवं सट्टा करने वाले लोग भोले-भाले एवं मजदूर लोगों को फांसकर लाखों की चांदी कूटते हैं। यही नहीं पुलिस प्रशासन से मिलीभगत कर अपने धंधे को बढ़ाने का काम किया है। शिकायतों के बावजूद पिछले दस वषों में क्रिकेट मैच पर बुकी-सट्टा करने वालों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई। जबकि पुलिस ने क्रिकेट मैच एवं बुकी-सट्टा करने के आरोप में गरीब, मजदूर जैसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की है। लोगों का कहना है कि पुलिस ने मुख्य आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बजाय मध्यम वर्ग के लोगों के खिलाफ ही मामला दर्ज करने की कार्रवाई की है। वहीं पुलिस की कार्रवाई की शहर में दिनभर जनचर्चा रही। थानाधिकारी ने बताया कि २६ अक्टूबर की रात गिरफ्तार आरोपो से पूछताछ के बाद मिली जानकारी के बाद
आरापी को गिरफ्तार करने की कार्रवाई की गई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned