अब मांगे पूरी होने पर ही लौटेंगे काम पर

अब मांगे पूरी होने पर ही लौटेंगे काम पर

Rakesh Kumar Goutam | Publish: Sep, 07 2018 10:04:04 PM (IST) Churu, Rajasthan, India

मंत्रालयिक कर्मचारियों का धरना व कार्य बहिष्कार जारी

चूरू. राजस्थान राज्य मंत्रालयिक कर्मचारी महासंघ से जुड़े कर्मचारी शुक्रवार तीसरे दिन भी अपनी लंबित मांगों को लेकर कलक्ट्रेट के सामने धरने पर रहे। महासंघ के जावेद खान ने बताया कि धरने पर बैठे विभिन्न महकमों के मंत्रालयिक कर्मचारियों ने सरकार विरोधी नारेबाजी कर मांगों की अनदेखी को लेकर आक्रोश जताया। दोपहर में कलक्ट्रेट से बाइक रैली के रूप में सरकार विरोधी नारेबाजी करते कर्मचारी पंचायत राज मंत्री के निवास पर पहुंचे। यहां नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। बाद में जिला प्रमुख हरलाल सहारण को सरकार के नाम ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में लिखा गया कि मांगों को लेकर किया गया समझौता लागू नहीं किए जाने तक धरना जारी रहेगा। कर्मचारी अब मांग पूरी होने पर ही काम पर लौटेंगे। धरने को संबोधित करते हुए जिलाध्यक्ष दिनेश कुमार स्वामी ने बताया कि शनिवार को होने वाली संघ की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में आंदोलन की आगामी रणनीति तय की जाएगी। उसके मुताबिक कर्मचारी आंदोलन करेंगे। अन्य वक्ताओं ने सरकार के प्रति आक्रोश जताते हुए कहा कि वर्ष 2017 में हुआ समझौता लागू नहीं करके किसान कर्मचारियों के हितों पर कुठाराघात कर रही है। इसका खमियाजा आगामी विधानसभा चुनाव में सरकार को भुगतना पड़ेगा। धरने को जगराज गौड़, नरेंद्रसिंह राठौड़, उमेश दाधीच, युधिष्ठिर सिंह राठौड़, ओमस्वामी व गोविंदङ्क्षसह शेखावत आदि ने संबोधित किया।

सामूहिक अवकाश

तारानगर. राजस्थान राज्य मंत्रालयिक कर्मचारी महासंघ के प्रदेश व्यापी आह्वान पर विभिन्न मांगों को लेकर शुक्रवार को तहसील के मंत्रालयिक कर्मचारी तीसरे दिन भी सामूहिक अवकाश पर रहकर कार्य का बहिष्कार किया। कर्मचारियों ने पंचायत समिति मुख्यालय पर धरना देकर विरोध-प्रदर्शन किया व सरकार के खिलाफ नारे लगाए। कर्मचारियों ने मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम मीनू वर्मा को ज्ञापन देकर मांगों का निराकरण करने की मांग की। तहसील अध्यक्ष चंदनङ्क्षसह, रिडमल, देवेन्द्र कुमार, रामलाल जांगिड़, रतनसिंह, नरेन्द्र बलौदा, किशन सूंडा, माया यादव, सुनिता, अनिता, विमला, महेन्द्र भामू, राजेश चौहान कर्मचारी विरोध-प्रदर्शन व धरना देने वालों में शामिल थे।

कर्मचारी महासंघ की बैठक

सुजानगढ़. राजस्थान राज्य मंत्रालयिक कर्मचारी महासंघ तहसील शाखा की बैठक शुक्रवार शाम श्रमिक कल्याण केंद्र में सुनील माथुर की अध्यक्षता में हुई। इससे पहले कर्मचारियों ने कार्य बहिष्कार किया। बैठक में संयोजक हनुमानाराम ने कहा कि राज्य सरकार कर्मचारियों का दमन कर रही है। एक वर्ष पहले हुए समझौते को अब तक लागू न करके सरकार हठधर्मिता का परिचय दे रही है। इस संदर्भ में आठ सितंबर को जयपुर में होने वाली प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में आंदोलन की आगामी रूपरेखा तय की जाएगी। लक्ष्मीनारायण तेजस्वी, नरेंद्र स्वामी, विजय ढेनवाल, रामपाल बांगड़ा ने भी विचार व्यक्त किए। बैठक में योगेश दाधीच, रामकुमार, महावीरप्रसाद, रामप्रसाद, जगमोहन, मोहरसिंह, जयराम स्वामी, माणकचंद प्रजापत, प्रतिभा श्रीवास्तव, चंपा, मीनू गोदारा, राजश्री, शालिनी आदि मौजूद थे।

कर्मचारियों का कार्य बहिष्कार जारी

रतनगढ़. राजस्थान राज्य मंत्रालयिक कर्मचारी महासंघ तहसील शाखा रतनगढ़ के कार्मिकों ने अपनी मांगों को लेकर शुक्रवार को भी कार्य बहिष्कार जारी रखा। तहसील अध्यक्ष हरिराम स्वामी ने बताया कि महासंघ लगातार अपनी मांगों को लेकर सरकार को अवगत करवाता रहा है। मगर सरकार कोई ध्यान नहीं दे रही है। बैठक में निरंजन नाई, सतीश तिवाड़ी, ओमप्रकाश माली, वीरेंद्र रॉयल, ताराचंद, एजाज अहमद, मनोज व चंद्रकिशन आदि उपस्थित थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned