बायो-बबल लाइफ ने पुराने जीवन को वापस लाने में मदद की: धवन

श्रीलंका दौरे पर भारत की कप्तानी करेंगे टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन।

By: भूप सिंह

Published: 27 Jun 2021, 11:18 PM IST

 

नई दिल्ली। सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (Shikhar Dhawan), जो अगले महीने सीमित ओवरों की श्रृंखला (T20 Series) के लिए श्रीलंका (Sri Lanka) में भारतीय सीमित ओवरों की टीम का नेतृत्व करेंगे। उन्होंने कहा है कि बायो-बबल में जीवन ने पुराने समय को वापस लाने में मदद की है जब खिलाड़ियों में मैच के बाद भी एक-दूसरे के आस-पास रहने से जुड़ाव विकसित होगा।

यह भी पढ़ें:—तेंदुलकर ने तोड़ी चुप्पी, बोले-WTC के फाइनल में गलत गेंदबाजी कॉम्बीनेशन के साथ उतरा था भारत

परिवार के साथ वक्त बिताने का मौका मिला
धवन ने टीम के श्रीलंका रवाना होने से पहले मीडिया से कहा, 'जब हम ;निलंबित] आईपीएल से घर गए, तो हमने आराम किया और इतने लंबे समय के बाद अपने परिवारों के साथ समय बिताया। हमें अपने परिवारों के बारे में करीब से पता चला और यही हमें अच्छा लगा। हमारी ट्रेनिंग भी जारी रही।'

'एक-दूसरे के अनुभव का लाभ मिलेगा'
धवन ने आगे कहा, 'फिर हमने यहां (मुंबई में) क्वारंटाइन किया, हमारे पास सीनियर्स और यंगस्टर्स का अच्छा मिश्रण है। सीनियर्स के रूप में हमारे पास युवाओं के साथ अपने अनुभव साझा करने का शानदार अवसर है। वह संस्कृति-10-15 साल पहले प्रचलित - जब दिन के खेल के बाद सभी लडक़े एक साथ रहते थे बायो-बबल जीवन के कारण वापस आ रहे हैं। हम एक साथ समय बिता रहे हैं। यह बंधन में मदद कर रहा है। वह एक है एक अच्छी टीम की निशानी-अच्छी बॉन्डिंग, विश्वास और मुझे यकीन है कि हम एक-दूसरे के अनुभव से लाभ उठाएंगे।' भारत श्रीलंका में तीन वनडे (13-18 जुलाई) और तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय (21-25 जुलाई) खेलेगा।

यह भी पढ़ें:—काम नहीं आया मिताली राज का अर्धशतक, इंग्लैंड ने भारत को 8 विकेट से हराया

भारत की कप्तानी करना सम्मान की बात
142 वनडे और 65 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके 35 वर्षीय धवन ने कहा कि उच्चतम स्तर पर देश का प्रतिनिधित्व करना बड़े सम्मान की बात है। धवन ने कहा, 'भारत की कप्तानी करना मेरे लिए बहुत सम्मान की बात है। राहुल [द्रविड़] भाई के साथ भी काम करना। मैं उनकी कोचिंग के तहत खेला है जब मैं बांग्लादेश में भारत ए की कप्तानी कर रहा था। हम एक-दूसरे के साथ तालमेल बिठाते हैं। हम ऐसा माहौल चाहते हैं जिसमें लड़के खुद को व्यक्त साबित कर सकें। इसी तरह हम उनमें से सर्वश्रेष्ठ प्राप्त करेंगे।'

भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned