ICC ने BCCI को दी धमकी, वह भारत से छीन सकता है T20 World Cup

ICC ने दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड BCCI को यह धमकी है कि अगर उसने सरकार के साथ टैक्स से जुड़े मामले को नहीं सुलझाया तो वह विश्व कप शिफ्ट कर सकता है।

By: Mazkoor

Updated: 27 May 2020, 12:36 PM IST

नई दिल्ली : अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने भारत को 2021 टी-20 विश्व कप (T20 World Cup) की मेजबानी सौंपी है। अब उसने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) को धमकी दी है कि वह भारत से विश्व कप की मेजबानी छीन कर दूसरे को दे सकता है। आईसीसी ने दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड को यह धमकी टैक्स से जुड़े मामले की वजह से दी है। आईसीसी ने बीसीसीआई से कहा है कि अगर वह भारत सरकार से टूर्नामेंट के लिए टैक्स में छूट (Tax Exemption) हासिल करने में कामयाब नहीं रहता तो वह भारत से 2021 में होने वाला टी-20 विश्व कप कहीं और शिफ्ट कर सकता है। एक खेल वेबसाइट के मुताबिक, इस संबंध में आईसीसी और बीसीसीआई के बीच जमकर ईमेल भी हुआ है। आईसीसी का कहना है कि बीसीसीआई को एक सहमति पत्र में यह आश्वासन देना था कि भारत सरकार के साथ बातचीत में इस समस्या का समाधान हो गया है, लेकिन बीसीआई ने अब तक ऐसा नहीं किया है।

Mohammad Hafeez ने किया संन्यास का ऐलान, आखिरी इच्छा रह सकती है अधूरी

बीसीसीआई 30 जून तक का मांग रही है समय

वहीं दूसरी तरफ बीसीसीआई का कहना है कि कोविड-19 महामारी के कारण सरकार से बात करने का यह उपयुक्त समय नहीं है। इस कारण इसकी समय सीमा कम से कम 30 जून तक बढ़ा दी जाए, लेकिन आइसीसी ने बीसीसीआई के इस अनुरोध को अस्वीकार कर दिया है। बता दें कि आईसीसी के वकील जोनाथन हॉल ने 29 अप्रैल को बीसीसीआई को पत्र लिखकर सूचित किया था कि मेजबान समझौते का पालन करने में अभी तक सफल नहीं हुई है। इसलिए आईबीसी (ICC Business Corporation) 18 मई 2020 के बाद किसी भी समय तत्काल प्रभाव से समझौते को समाप्त करने की हकदार है।

शादी की 25वीं सालगिरह पर Sachin Tendulkar ने परिवार को किया सरप्राइज, मैंगो कुल्फी बनाया

आईसीसी को पहले भी हो चुका है नुकसान

आईसीसी और बीसीसीआई के बीच ये कोई पहला मामला नहीं सामने आया है। इससे पहले भारत की मेजबानी में 2016 में हुए टी-20 विश्व कप के दौरान भी टैक्स में छूट का मामला फंसा था। बीसीसीआई भारत सरकार से टैक्स में छूट लेने में कामयाब नहीं हो पाई थी। इस कारण आईसीसी को 20 से 30 मिलियन यूएस डॉलर का नुकसान हुआ था। इसके बाद फरवरी 2018 में भी आईसीसी ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को पहली बार चेतावनी दी थी कि अगर भारतीय बोर्ड सरकार से टैक्स में छूट प्राप्त होने में कामयाब नहीं हो पाता है तो आईसीसी 2021 में होने वाला टी-20 विश्व कप और 2023 के वनडे विश्व कप की मेजबानी भारत से वापस ले सकती है। क्योंकि अगर बिना छूट के भारत की मेजबानी में टी-20 विश्व कप होता है तो उसे करीब 100 मिलियन यूएस डॉलर का नुकसान हो सकता है।

Show More
Mazkoor Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned