scriptIND vs SA 3 reasons why India lost 2-1 against South Africa | 3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारत | Patrika News

3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारत

भारत और साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेली जा रही तीन मैचों की टेस्ट सीरीज को मेजबान टीम ने 2-1 से जीत लिया है। सेंचुरियन टेस्ट मैच में जीतने के बावजूद टीम इंडिया बाकी दो मैचों को हार गई और सीरीज गंवा दी। टीम इंडिया को मिली इस हार के सबसे बड़े 3 कारण यह हैं।

Updated: January 14, 2022 05:36:08 pm

IND vs SA: ऑस्ट्रेलिया को ऑस्ट्रेलिया में हराया और फिर इंग्लैंड के खिलाफ 2-1 की बढ़त बनाने के बाद विराट कोहली की अगुवाई में टीम इंडिया का काफिला पहुंचा साउथ अफ्रीका। अफ्रीकी दौरे पर राहुल द्रविड़ की हेड कोचिंग में टीम इंडिया को 3 टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी थी। टीम इंडिया फुल फॉर्म में थी और उसका तेज गेंदबाजी आक्रमण भी वर्तमान में सबसे बेस्ट है। ऐसे में लगा कि भारतीय टीम आसानी से साउथ अफ्रीका को सीरीज में शिकस्त दे देगी। क्योंकि अगर साउथ अफ्रीकी टीम पर नजर डालें तो पाएंगे कि ये कागज पर अब तक की सबसे कमजोर अफ्रीकी टीमों में से एक है। टीम इंडिया ने टेस्ट सीरीज की शुरुआत में ही धुंआ उड़ा दिया और पहले यानी सेंचुरियन टेस्ट मैच में इतिहास रचते हुए 113 रनों से शानदार जीत दर्ज की। हालांकि, उसके बाद जोहान्सबर्ग और केपटाउन के मैदान पर टीम इंडिया को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा और भारतीय टीम 2-1 से सीरीज हार गई। साउथ अफ्रीका के खिलाफ टीम इंडिया को मिली हार के सबसे बड़े 3 कारण यह रहे-
3_reasons_why_india_lost_2-1_against_south_africa.jpg
ajinkya rahane and cheteshwar pujara
1- अंजिक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा का खराब फॉर्म: विदेशी दौरे पर अगर किसी भी टीम को जीत दर्ज करनी होती है तो उसके लिए सबसे ज्यादा जरूरी होता है मध्यक्रम के बल्लेबाजों का रन बनाना। अंजिक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा लंबे समय से आउट ऑफ फॉर्म हैं। साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में इक्का-दुक्का पारी को छोड़ दें तो ज्यादातर मौकों पर इन दोनों बल्लेबाजों ने टीम को निराश ही किया है। ऐसे में टीम इंडिया को मिला इस हार का सबसे बड़ा कारण अंजिक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा की खराब फॉर्म रही।
2- केवल 6 बल्लेबाजों के साथ मैदान पर उतरना: अंजिक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा के रूप में टीम इंडिया पहले ही बल्लेबाजी में संघर्ष कर रही थी। ऐसे में 6 बल्लेबाजों के साथ मैदान पर उतरना टीम इंडिया की हार की एक वजह बना है। आर अश्विन अफ्रीकी पिचों पर कुछ खास नहीं कर सके हैं। ऐसे में अगर टीम इंडिया हनुमा विहारी या फिर श्रेयस अय्यर को प्लेइंग इलेवन में शामिल करके बल्लेबाजी थोड़ी मजबूत करती तो फिर नतीजे कुछ और हो सकते थे।
यह भी पढ़ें

5 खिलाड़ी जो तोड़ सकते हैं ब्रायन लारा के 400 रनों का रिकॉर्ड

3- विराट कोहली का चोटिल होना: सेंचुरियन टेस्ट मैच में विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया ने इतिहास रचते हुए 113 रनों से शानदार जीत दर्ज की थी। लेकिन, दूसरे टेस्ट मैच में विराट कोहली चोट की वजह से नहीं खेल पाए थे जिसके चलते मोंमेटम ब्रेक हुआ था। विराट कोहली तीसरे टेस्ट मैच में आए और बल्ले से रन भी बनाए लेकिन, अगर वह दूसरा टेस्ट मैच भी खेलते तो भारत के इस सीरीज को जीतने की संभावना बढ़ जाती।
यह भी पढ़ें

सचिन तेंदुलकर ने चुनी अपनी ऑल-टाइम XI

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: परम विशिष्ट सेवा मेडल के बाद नीरज चोपड़ा को पद्मश्री, देवेंद्र झाझरिया को पद्म भूषणRepublic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीAloe Vera Juice: खाली पेट एलोवेरा जूस पीने से मिलते हैं गजब के फायदेगणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराने में क्या है अंतर, जानिए इसके बारे मेंRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस परेड में हरियाणा की झांकी का हिस्सा रहेंगे, स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.