इंग्लैंड से ड्रॉ खेलने के बाद मिताली ने अधिक टेस्ट खेलने की वकालत की

मिताली ने मैच के बाद कहा,'पांच दिवसीय टेस्ट होना एक अच्छा विचार है लेकिन (पहले) हमें वास्तव में नियमित रूप से टेस्ट मैच शुरू करने होंगे।'

By: Mahendra Yadav

Published: 20 Jun 2021, 12:42 PM IST

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज ने खेल के सबसे लंबे प्रारूप की कठोरता के अभ्यस्त होने में मदद करने के लिए और अपनी टीम के लिए और अधिक टेस्ट मैच खेलने की वकालत की है। भारतीय टीम ने स्नेह राणा (नाबाद 80) और तानिया भाटिया (नाबाद 44) के बीच नौवें विकेट के लिए हुई 99 रनों की अविजित साझेदारी के दम पर यहां काउंटी क्रिकेट ग्राउंड पर इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए एकमात्र टेस्ट मुकाबले के चौथे दिन शनिवार को मैच को ड्रॉ करा दिया।

सात साल बाद खेला टेस्ट
इंग्लैंड ने दूसरे दिन नौ विकेट पर 396 रन बनाकर अपनी पहली पारी घोषित की थी जबकि भारत की पहली पारी आज पहले सत्र में 231 रनों पर सिमट गई । इससे इंग्लैंड को 165 रनों की बड़ी बढ़त हासिल हुई, जिसके बाद उसने भारत को फोलोऑन खेलने पर मजबूर कर दिया। मिताली ने मैच के बाद कहा,'पांच दिवसीय टेस्ट होना एक अच्छा विचार है लेकिन (पहले) हमें वास्तव में नियमित रूप से टेस्ट मैच शुरू करने होंगे।' भारतीय महिला टीम करीब सात साल बाद अपना पहला टेस्ट मैच खेल रही थी। टीम ने पिछले पांच दशक में केवल 36 टेस्ट मैच खेले हैं। भारतीय टीम ने 2010 से 2020 तक केवल दो ही टेस्ट मैच खेले हैं।

यह भी पढ़ें— टेस्ट मैचों में अनुभव की कमी के कारण मैं आउट हुई: स्मृति मंधाना

पांच दिवसीय टेस्ट
मिताली ने कहा,'एक सीरीज में एक टेस्ट मैच का होना महत्वपूर्ण है और फिर इसे पांच दिनों तक ले जाएं। मैं पांच दिवसीय टेस्ट के साथ भी ठीक हूं, लेकिन मैं एक सीरीज में पहले एक टेस्ट मैच करना पसंद करूंगा और फिर इसे वहां से ले जाऊंगा।'
भारतीय महिला क्रिकेट टीम को अब इंग्लैंड के साथ वनडे और टी 20 सीरीज खेलनी है। मिताली से पहले भारतीय महिला क्रिकेट टीम की प्लेयर स्मृति मंधाना ने कहा था,'हम 50 ओवर से अधिक बल्लेबाजी करने के अभ्यस्त नहीं हैं। जितना अधिक हम टेस्ट मैच खेलते हैं, उतना ही हम परिस्थितियों के अभ्यस्त हो जाते हैं।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned