ऋषभ पंत को नहीं मिला वर्ल्ड कप का टिकट, विकेटकीपिंग के अलावा ये गलतियां ले डूबीं

ऋषभ पंत को नहीं मिला वर्ल्ड कप का टिकट, विकेटकीपिंग के अलावा ये गलतियां ले डूबीं

Kapil Tiwari | Publish: Apr, 16 2019 10:10:49 AM (IST) क्रिकेट

  • एमएसके प्रसाद ने भी ऋषभ की खराब विकेटकीपिंग का जिक्र किया था
  • इसके अलावा बल्लेबाजी में भी ऋषभ का रिकॉर्ड अच्छा नहीं है
  • कई मौकों पर भरोसेमंद खिलाड़ी की भूमिका में हुए हैं फेल

मुंबई। ICC क्रिकेट वर्ल्ड कप के लिए सोमवार को बीसीसीआई ने भारतीय टीम का ऐलान कर दिया। चयनकर्ताओं ने उन 15 खिलाड़ियों के नाम पर मुहर लगा दी है, जो विश्व कप खेलने इंग्लैंड जाएंगे। वर्ल्ड कप टीम में चयनकर्ताओं ने विजय शंकर को शामिल किया है। वहीं धोनी के अलावा दूसरे विकेटकीपर के तौर पर दिनेश कार्तिक को प्राथमिकता दी गई है। ऋषभ पंत वर्ल्ड कप टीम में जगह नहीं बना पाए हैं।

धोनी के उत्तराधिकारी ऋषभ पंत वर्ल्ड कप टीम में नहीं

भारतीय क्रिकेट टीम में धोनी के उत्तराधिकारी माने जा रहे ऋषभ पंत के लिए ये एक बड़ा झटका है। इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया की सरजमीं पर शतक जड़ने वाले ऋषभ पंत को वर्ल्ड कप टीम में शामिल नहीं किया जाना सभी को हैरान कर गया है। वैसे चयनकर्ताओं ने ऋषभ को ना चुनने की वजह भी बताई है। BCCI सेलेक्टिंग कमेटी के चेयरमैन एमएसके प्रसाद ने बताया कि ऋषभ को उनकी खराब विकेटकीपिंग की वजह से टीम में शामिल नहीं किया गया।

खराब विकेटकीपिंग का भुगतना पड़ा अंजाम

वैसे खराब विकेटकीपिंग के अलावा भी कई वजह ऐसी हैं, जिसकी वजह से ऋषभ पंत वर्ल्ड कप टीम में जगह नहीं बना पाए हैं। इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया टूर पर ही ऋषभ पंत की खराब विकेटकीपिंग के दृश्य देखने को मिल गए थे। इसके बाद जब ऑस्ट्रेलिया टीम भारत आई तो भी कई मैचों में ऋषभ ने अपनी विकेटकीपिंग से सभी को नाराज किया। ऋषभ पंत ने कई मौकों पर अहम कैच छोड़े हैं और कई स्टंप भी मिस किए हैं। ऐसे में उनका चयन ना होने की सबसे बड़ी वजह तो उनकी खराब विकेटकीपिंग ही है।

अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में तब्दील ना कर पाना

ऋषभ एक बल्लेबाज के तौर पर भी अभी वो मुकाम हासिल नहीं कर पाए हैं कि मुश्किल स्थिति में वो टीम को संभाल सकें और जीत दिला सकें। इस बात की गवाही कोई और नहीं वनडे में उनके आंकड़े दे रहे हैं। ऋषभ ने अभी तक 5 वनडे मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने मात्र 93 रन बनाए हैं। पांच मैचों में ऋषभ की चार मैचों में बल्लेबाजी आई है। वनडे में ऋषभ पंत अभी तक एक जिम्मेदार खिलाड़ी की भूमिका में नहीं हैं। कई मौकों पर देखा गया है कि वो शुरुआत तो अच्छी करते हैं, लेकिन उस शुरुआत को बड़ी पारी में तब्दील नहीं कर सकते।

ऋषभ के चयन को लेकर क्या कहा था एमएसके प्रसाद ने?

एमएसके प्रसाद ने ऋषभ पंत के चयन को लेकर कहा था कि निश्चित तौर पर इस मामले पर हमने विस्तृत चर्चा की। संयुक्त रूप से हमने महसूस किया कि डीके (दिनेश कार्तिक) या पंत को अंतिम एकादश में तभी मौका मिलेगा, जब माही (महेंद्र सिंह धोनी) चोटिल होंगे। उस स्थिति में अगर यह महत्वपूर्ण मैच होगा तो, क्वार्टर फाइनल या सेमीफाइनल, तो इसमें विकेटकीपिंग भी मायने रखती है।'

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned