script अंडर-19 वर्ल्ड कप का खिताब हारने के बाद छलका भारतीय कप्तान का दर्द, बताया हार का असल कारण | u19 world cup 2024 team india captain uday saharan says played a few rash shots couldnt execute well in final | Patrika News

अंडर-19 वर्ल्ड कप का खिताब हारने के बाद छलका भारतीय कप्तान का दर्द, बताया हार का असल कारण

locationनई दिल्लीPublished: Feb 12, 2024 04:37:18 pm

Submitted by:

lokesh verma

U19 World Cup 2024: अंडर-19 वर्ल्ड कप फाइनल मुकाबले में मिली हार के बाद भारतीय कप्तान उदय सहारन काफी निराश दिखे। उदय सहारन ने स्वीकार किया कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ फाइनल में उनके बल्लेबाजों ने गलत शॉट खेले और प्रदर्शन में नाकाम रहने के कारण लड़खड़ा गए।

uday_saharan.jpg
U19 World Cup 2024: भारतीय टीम का छठी बार अंडर-19 वर्ल्ड कप जीतने का सपना और भारतीय क्रिकेट फैंस का दिल चकनाचूर हो गया। फाइनल मुकाबले में मिली इस हार के बाद भारतीय कप्तान उदय सहारन काफी निराश दिखे। उनका मानना है कि उनकी टीम अपनी बनाई रणनीति पर अमल नहीं कर पाई। उदय सहारन ने स्वीकार किया कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अंडर-19 विश्व कप फाइनल में उनके बल्लेबाजों ने गलत शॉट खेले और प्रदर्शन में नाकाम रहने के कारण लड़खड़ा गए, जिसके कारण उन्हें 79 रन से हार का सामना करना पड़ा। बता दें कि रविवार को खिताबी मुकाबले से पहले भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों पूरी प्रतियोगिता में अजेय रहे थे।

पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलिया के लिए हरजस सिंह, हैरी डिक्सन, कप्तान और ओलिवर पीक ने अच्छी बल्लेबाजी की और टीम को 50 ओवरों में 253/8 रन के स्कोर तक पहुंचाया। जवाब में मौजूदा चैंपियन भारत को शुरुआती झटके लगे। 20वें ओवर तक मात्र 68 रन पर अपने 4 विकेट खो दिए। बाएं हाथ के आदर्श सिंह (47) और निचले क्रम के बल्लेबाजी ऑलराउंडर मुरुगन अभिषेक (42) ने भारतीय पारी को संभाला, लेकिन यह पर्याप्त नहीं था। भारतीय टीम 43.5 ओवर में मात्र 174 रन पर सिमट गई। भारत को फाइनल मैच में 79 रन से हार झेलनी पड़ी।

'हम अपनी रणनीति पर अमल नहीं कर पाए'

खिताबी हार के बाद सहारन ने कहा कि ये बहुत अच्छा टूर्नामेंट रहा। मुझे अपने खिलाड़ियों पर गर्व है। उन्होंने शानदार खेल दिखाया। उन्होंने शुरू से ही अपने जज्बे का शानदार नमूना पेश किया। हालांकि फाइनल मुकाबले में हम थोड़े पीछे रहे गए। हमने कुछ खराब शॉट खेले और क्रीज पर अधिक समय बिताने में नाकाम रहे। हमने अच्छी तैयारी की थी, लेकिन हम अपनी रणनीति पर अमल नहीं कर पाए।

यह भी पढ़ें

तीसरे टेस्ट भारत के लिए इस धाकड़ खिलाड़ी का डेब्यू तय, जानें कौन होगा बाहर



'अब आगे बढ़ना चाहता हूं'

सहारन प्रतियोगिता के अग्रणी रन स्कोरर रहे। उन्होंने सात मैचों में 56.71 की औसत से 397 रन बनाए, जिसमें एक शतक और तीन अर्द्धशतक शामिल थे। सहारन ने कहा कि शुरुआत से लेकर अब तक बहुत कुछ सीखने को मिला है। मैंने स्टाफ से बहुत कुछ सीखा है। मैं बस इस टूर्नामेंट से सारी सीख लेना चाहता हूं और आगे बढ़ना चाहता हूं।

यह भी पढ़ें

रवींद्र जडेजा के पिता के आरोपों पर किया सवाल तो भड़कीं रिवाबा

ट्रेंडिंग वीडियो