विराट कोहली और रवि शास्त्री के लिए साख का सवाल बना विंडीज दौरा

विराट कोहली और रवि शास्त्री के लिए साख का सवाल बना विंडीज दौरा

Kapil Tiwari | Updated: 19 Jul 2019, 04:57:20 PM (IST) क्रिकेट

क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 ( Cricket World Cup 2019 ) में अपने प्रदर्शन पर टीम इंडिया बेशक अपनी पीठ थपथपा रही हो। लेकिन BCCI टीम के प्रदर्शन से ज्यादा खुश नहीं है।

नई दिल्ली। क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 ( Cricket World Cup 2019 ) के लीग दौर के सभी मैचों में भारतीय टीम ( Team India ) का प्रदर्शन अच्छा रहा। टीम इंडिया को इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के खिलाफ हार झेलनी पड़ी। वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में मिली हार से उबरने की कोशिशों में जुटी विराट बिग्रेड के लिए वेस्ट इंडीज का दौरा काफी अहम है। वहीं कप्तान विराट कोहली ( Virat Kohli ) और कोच रवि शास्त्री ( Ravi Shastri ) के लिए भी यह दौरा निर्णायक साबित हो सकता है। विश्व कप के साथ ही बीसीसीआई के साथ कोच के रूप में रवि शास्त्री का करार खत्म हो गया था, लेकिन इसे 45 दिन के लिए बढ़ाया गया था। अब वेस्टइंडीज दौरे पर टीम इंडिया का प्रदर्शन ही तय करेगा कि बीसीसीआई ( BCCI ) उन्हें एक और मौका देगा या नहीं।

इंग्लिश ऑलराउंडर बेन स्टोक्स को मिल सकता है न्यूजीलैंड का सबसे बड़ा अवॉर्ड

सेमीफाइनल में हार के लिए पेश करनी होगी रिपोर्ट

टीम इंडिया के कोच शास्त्री के लिए ये खतरे घंटी है कि बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) कोच के पद के लिए नए आवेदन स्वीकार कर रही है। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया कि क्रिकेट सलाहकार समिति टीम के प्रदर्शन से ज्यादा खुश नहीं है। ये समिति भारतीय टीम के वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में हारकर बाहर होने को लेकर टीम प्रबंधन से रिपोर्ट मांगेगी।

चोटिल होकर एशेज सीरीज से बाहर हुए जोफ्रा आर्चर

नंबर-4 के क्रम को लेकर बैटिंग कोच से मांगा जवाब

क्रिकेट सलाहकार समिति विश्व कप में नंबर-4 को लेकर टीम द्वारा किए प्रयोगों से भी खासी नाराज है। अधिकारी ने आगे कहा कि बैटिंग कोच को नंबर-4 के बल्लेबाज के लगातार फ्लॉप रहने को लेकर जवाब देना चाहिए। उनको ये भी बताना होगा कि क्या वो जानते थे कि विजय शंकर को चोट लगी है।

आईसीसी ने कप्तानों को दी राहत, धीमी ओवर गति पर नहीं झेलना होगा निलंबन

कोच की नियुक्ति में कप्तान की सलाह जरूरी नहीं

पिछली बार जब रवि शास्त्री को टीम इंडिया का कोच बनाया गया था तो उसमें विराट कोहली की अहम भूमिका रही थी। अधिकारी की मानें तो अबकि बार कप्तान के अधिकारों में कटौती हो सकती है। कोच की नियुक्ति में विराट कोहली की सलाह जरूरी नहीं है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned