तिहाड़ जेल में फिर गैंगवार, संदिग्ध हालत में मृत मिला गैंगस्टर अंकित गुर्जर

दिल्‍ली की तिहाड़ जेल में बंद कुख्यात गैंगस्टर अंकित गुर्जर की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, परिजनों ने हत्या का आरोप

By: धीरज शर्मा

Published: 04 Aug 2021, 02:57 PM IST

नई दिल्ली। दिल्ली की तिहाड़ जेल ( Tihar Jail ) में कुख्यात गैंगस्टर अंकित गुर्जर ( Gangster Ankit Gurjer ) की हत्या कर दी गई है। माना जा रहा है कि गैंगवार के चलते अंकित की हत्या की गई है।
दरअसल अंकित गुर्जर तिहाड़ जेल की बैरक नंबर तीन में संदिग्ध हालात में मृत मिला था। इसके बाद जेल प्रशासन ने मामले में जांच शुरू कर दी है।

कुख्यात गैंगस्टर अंकित गुर्जर की हत्या ने एक बार फिर तिहाड़ जेल में गैंगवार की खबरों को हवा दे दी है। संदिग्ध हालात में बैरक नंबर तीन से मिले अंकित के शव को पुलिस ने दिल्ली के दीनदयाल अस्पताल में पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ेंः दिल्लीः श्मशान घाट में 9 साल की बच्ची से गैंगरेप के बाद किया अंतिम संस्कार, पुजारी समेत 4 गिरफ्तार
पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत के कारणों का पता चल पाएगा।

अंकित के परिजनों ने लगाया ये आरोप
वहीं अंकित के परिवार ने आरोप लगाया है उसकी हत्या की गई है। उनका कहना है कि अंकित के पास से मंगलवार को पुलिस अधिकारियों ने मोबाइल पकड़ा था।

इसके बाद उसकी एक जेल अधिकारी के साथ हाथापाई भी हुई थी। इस हाथापाई की वजह से ही अंकित की मौत हो गई। जबकि, पुलिस का कहना है कि जेल में कैदियों के बीच झगड़ा हुआ था।

अंकित पर दर्ज थे ये केस
बता दें कि अंकित गुर्जर पर मर्डर और मकोका के तहत केस दर्ज थे। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने अंकित को गिरफ्तार किया था।

गिरफ्तारी से पहले अंकित पर था एक लाख का इनाम
कुख्यात गैंगस्टर अंकित गुर्जर बागपत के खैला गांव का रहने वाला था। पूर्व प्रधान विनोद की हत्या के मामले में एक लाख के इनामी रहे अंकित को दिल्ली पुलिस ने हरियाणा में मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया था।

यह भी पढ़ेंः पंजाब : तनख्वाह मांगने पर दलित युवक को ट्रैक्टर से बांधकर पीटा, दो गिरफ्तार

पंचायत चुनाव में दिखाई थी दबंगाई
अंकित गुर्जर ने पंचायत चुनाव के दौरान दबंगई दिखाकर सुर्खियां बंटोरी थी। गांव में अंकित उर्फ बाबा के नाम से पोस्टर भी चस्पा किए गए थे। इनमें सामने चुनाव लड़ने वालों को अंजाम भुगतने की धमकी दी गई थी।
बता दें कि कुछ समय पहले ही अंकित और रोहित चौधरी नाम के अन्य गैंगस्टर ने हाथ मिलाया था। इन दोनों का नेटवर्क दिल्ली और वेस्ट यूपी में सक्रिय था।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned