पाक सरकार का आतंकी चेहरा बेनकाब, सामने आई मुठभेड़ में मारे गए BAT जवान की तस्‍वीर

पाक सरकार का आतंकी चेहरा बेनकाब, सामने आई मुठभेड़ में मारे गए BAT जवान की तस्‍वीर

Dhirendra Kumar Mishra | Updated: 09 Sep 2019, 01:56:34 PM (IST) क्राइम

  • इमरान खान का आतंकी चेहरा बेनकाब
  • भारतीय सेना के हाथ लगा सबूत
  • भारतीय सेना ने जारी किया मारे गए बैट जवान का फोटो

नई दिल्‍ली। जम्मू-कश्मीर के केरन सेक्टर में मुठभेड़ की कोशिश करते हुए मारे गए पाकिस्तानी सेना के जवानों और आतंकियों का वीडियो समाने आने के बाद एक बार फिर पाकिस्‍तान सरकार का आतंकी चेहरा बेनकाब हो गया। बता दें कि तीन अगस्‍त को भारतीय सेना ने पांच आतंकियों घुसपैठ की कोशिश करते वक्‍त ढेर कर दिया था।

इसका सबूत पहली बार सामने आया है जो पाकिस्तान के गुनाहों की गवाही दे रहा है। मारे गए घुसपैठियों में पाकिस्तान की सेना के जवान भी शामिल हैं जो भारत में घुसपैठ करने की कोशिश कर रहे थे।

दिल्ली में गैंगवार: गीता कॉलोनी में बेलगाम अपराधियों ने की फायरिंग, इलाके में तनाव

मारे गए थे 5 जवान

दरअसल, पिछले महीने आतंकियों के साथ पाकिस्तान की सेना के जवान भारत में घुसपैठ की कोशिश कर रहे थे। भारत के मुस्तैद जवानों को इसकी भनक लग गई और पहले वॉर्निंग शॉट दिया गया यानी कि चेताया गया।

इसके बाद घुसपैठ में मदद करा रहे पाकिस्तान की सेना के जवानों ने फायरिंग कर दी। जवाबी कार्रवाई में सभी पांच घुसपैठिए मारे गए थे।

वीडियो: रक्षा विशेषज्ञ पीके सहगल ने माना इमरान सरकार ने की बड़ी भूल

पाक सेना ने शव लेने से किया था इनकार

इस घटना के बाद भारत के DGMO ने पाकिस्तान के DGMO से संपर्क किया और शव वापस ले जाने के लिए कहा। लेकिन हुआ वहीं जो हर बार होता है। पाकिस्तान ने शव लेने से इनकार कर दिया और ये भी कह दिया कि जो मारे गए हैं उनमें पाकिस्तान के जवान नहीं हैं।

बता दें कि भारतीय सीमा में घुसपैठ की ये कोशिश पाकिस्तान की सेना की बॉर्डर एक्शन टीम की तरफ से की जा रही थी। इस कोशिश को सेना के जवानों ने नाकाम कर दिया था।

स्टर्लिंग बायोटेक फ्रॉड: अहमद पटेल के बेटे फैसल पर कस सकता है शिंकजा, ED ने जारी किया

जम्मू-कश्मीर से जब से अनुच्छेद 370 हटा है तब से पाकिस्तान आतंकियों के भरोसे भारत के खिलाफ साजिश करने को बेचैन है। अब ये बेचैनी इतनी ज्यादा है कि अब सेना के जवानों को भी पाकिस्तान आतंकियों का चोला पहनाकर भेज रहा है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned