पुलिस चौकी प्रभारी समेत अन्य के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज

www.patrika.com/rajasthan-news

By: gaurav khandelwal

Published: 20 Jul 2018, 08:27 AM IST

महुवा. थाना इलाके की बालाहेड़ी पुलिस चौकी से पिछले महीने गायब हुए युवक के कपड़े पीपलखेड़ा की पहाडिय़ों में मिले नर कंकाल के पास मिलने के मामले में राजस्थान उ'च न्यायालय के निर्देश पर गुरुवार को मृतक के भाई सत्यनारायण ने महुवा पुलिस थाने पहुंच कर बालाहेड़ी पुलिस चौकी के तत्कालीन प्रभारी व अन्य के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करा दिया है।

 


थाना पुलिस ने बताया कि राजस्थान उ'च न्यायालय के निर्देश पर मृतक के भाई ने बालाहेड़ी चौकी के तत्कालीन प्रभारी दौलत सिंह व अन्य के खिलाफ उसके भाई रामप्रसाद की हत्या कर हड्डियों व कपड़ों को जंगल में डालने का मामला दर्ज कराया है। उल्लेखनीय है कि भीलवाड़ा के बिजौलिया थाना इलाका के उदपुरिया निवासी व्यापारी रामप्रसाद कंडारा 29 मई 2018 को चौकी से गायब हो गया था। उसने गायब होने से पहले जो कपड़े पहन रखे थे और 6 जुलाई 2018 को पीपलखेड़ा की पहाडिय़ों पर नर कंकाल के पास जो कपड़े मिले थे, उनमें कई समानताएं थी।

 

कपड़ों के आधार पर कंकाल भीलवाड़ा के बिजौलिया थाना इलाका के उदपुरिया निवासी व्यापारी रामप्रसाद कंडारा पुत्र देवीलाल का होने का अनुमान लगाया गया था। जिसकी डीएनए जांच के आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी।

 

 

यह था मामला


मृतक के भाई के मुताबिक मई 2018 के अंतिम सप्ताह में भीलवाड़ा निवासी रामप्रसाद उसके मामा के लड़के के साथ ट्रेलर में बैठ कर आगरा घूमने के लिए आया था। वह ट्रेलर में आगरा से वापस आ रहा था। पता नहीं कैसे वह भरतपुर में ट्रेलर से उतर गया। वह बस से बालाहेड़ी पुलिस चौकी इलाके में एक पेट्रोल पम्प पर उतर गया। वहां पर उसका किसी दूसरे ट्रेलर वाले से विवाद हो गया।

 


सूचना पर पहुंची बालाहेड़ी चौकी पुलिस उसको चौकी ले आई, लेकिन वह वहां से गायब हो गया। उसके बाद 6 जुलाई को पीपलखेड़ा के जंगलों में एक नर कंकाल मिला था। उसी कंकाल के पास वे कपड़े मिले थे। मृतक के परिजनों की गुहार पर उ"ा न्यायालय ने सीआईडी सीबी को जांच करने एवं पुलिस को मामला दर्ज करने के निर्देश दिए हैं।

gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned