आठ वर्षीय मासूम से बलात्कार

आठ वर्षीय मासूम से बलात्कार

mahesh gupta | Publish: May, 18 2019 10:51:41 AM (IST) Dholpur, Dholpur, Rajasthan, India

सदर थाना इलाके के एक गांव में रहने वाली आठ वर्षीय बालिका को एक किशोर ने अपनी हवस का शिकार बना लिया। घटना के बाद आरोपित फरार हो गया।

आठ वर्षीय मासूम से बलात्कार
आरोपित हुआ फरार
गुरुवार देर रात सरकारी अस्पताल के चिकित्सक के निजी क्लिीनिक पर कराया था पीडि़ता को भर्ती
चिकित्सक ने नहीं दी पुलिस को सूचना
धौलपुर. सदर थाना इलाके के एक गांव में रहने वाली आठ वर्षीय बालिका को एक किशोर ने अपनी हवस का शिकार बना लिया। घटना के बाद आरोपित फरार हो गया। बालिका को परिजन ने गुरूवार रात जिला अस्पताल पर तैनात एक चिकित्सक के निजी क्लिीनिक पर भर्ती कराया, लेकिन इस बारे में चिकित्सक ने कोई भी सूचना पुलिस को नहीं दी। शुक्रवार शाम घटना की जानकारी होने पर जिला पुलिस अधीक्षक अजय सिंह स्वयं मौके पर पहुंचे और पीडि़ता को निजी अस्पताल से लेकर सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। यहां पीडि़त बालिका का इलाज जारी है। वहीं, पुलिस ने मामले पर अनुसंधान शुरू कर दिया है। जिला पुलिस अधीक्षक अजय सिंह ने बताया कि प्रारंभिक पड़ताल में सामने आया है कि सदर थाना इलाके के एक गांव में घर के बाहर खेल रही 8 वर्षीय बालिका को 17 वर्षीय किशोर बहला-फुसला कर ले गया। आरोपित किशोर बालिका से दुष्कर्म करने के बाद फरार हो गया। इस बात की जानकारी जब परिजन को हुई तो वे गुरूवार रात करीब 12 बजे पीडि़त बालिका को लेकर धौलपुर के एक निजी अस्पताल में पहुंचे। यह अस्पताल जिले के सरकारी अस्पताल में कार्यरत डॉ. रामविलास गुर्जर की ओर से संचालित किया जा रहा है। डॉ. गुर्जर ने पुलिस को सूचना दिए बिना ही पीडि़त बालिका को अस्पताल में भर्ती कर लिया। शुक्रवार शाम को जब संबंधित थाना पुलिस को बालिका के साथ हुए दुष्कर्म की जानकारी मिली। इस पर एसपी सिंह स्वयं पहुंचे और पीडि़त बालिका को जिला अस्पताल में भर्ती कराया।
आरोपित की तलाश शुरू
एसपी सिंह ने बताया कि पीडि़त बालिका के परिजन से पूछताछ कर आरोपित किशोर को चिन्हित करने के प्रयास किए जा रहे है। पुलिस की टीम को गांव में पूछताछ करने के लिए भेजा गया है। आरोपित को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
सरकारी चिकित्सक की कार्य शैली पर सवाल
जिला अस्पताल पर चिकित्सक के पद पर तैनात डॉ. रामविलास गुर्जर की कार्यशैली पर सवाल खड़ा हो गया है। पीडि़त बालिका को उनके निजी क्लिीनिक पर भर्ती कराए जाने के बाद भी पुलिस को सूचना नहीं देना सामने आया है। पुलिस इस मामले पर भी जांच करने में जुटी हुई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned