कॉम्पटिशन के मामले में ये अर्थव्यवस्थाएं हैं सबसे आगे, इन भारतीय शहरों का है बोलबाला

कॉम्पटिशन के मामले में ये अर्थव्यवस्थाएं हैं सबसे आगे, इन भारतीय शहरों का है बोलबाला

Ashutosh Kumar Verma | Publish: Jun, 10 2019 02:37:00 PM (IST) अर्थव्‍यवस्‍था

  • 9 सालों के बाद पहली बार अमरीका से छीनी सबसे प्रतिस्पर्धी अर्थव्यवस्था का ताज।
  • सिंगापुर को मिला पहला स्थान।
  • भारत इस लिस्ट में 43वें स्थान पर, लेकिन भारतीय शहरों का बोलबाला।

नई दिल्ली। अमरीकी अर्थव्यवस्था ( American Economy ) को पीछे छोड़ते हुए सिंगापुर ( Singapore ) दुनिया की सबसे प्रतिस्पर्धी अर्थव्यवस्था ( Competitve Economy ) बन गया है। एक हालिया रिपोर्ट में इस बारे में जानकारी सामने आई है। आईएमडी वर्ल्ड कॉम्पिटिटिवनेस रिपोर्ट ( World Competitiveness Report ) में यह सामने आया है कि सिंगापुर ही नहीं, बल्कि अधिकतर एशियाई देशों ने अमरीका को पीछे छोड़ दिया है। बीते 9 सालों में पहली बार ऐसा हुआ है कि दुनिया के सबसे अधिक प्रतिस्पर्धा वाली अर्थव्यवस्था में अमरीका को तीसरे स्थान से संतोष करना पड़ा है। जबकि, इस बार सिंगापुर के बाद हांग कांग एसएआर दूसरे स्थान पर है। भारत इस लिस्ट में टॉप 10 में भी नहीं है। पिछले साल के 44वें स्थान की तुलना में भारत इस साल 1 स्थान उपर चढ़कर 43वें स्थान पर है।

बजट में आर्थिक विकास और रोजगार पर जोर देगी सरकार, तलाश रही उपाय

क्यों तीसरे स्थान पर खिसका अमरीका

इस रिपोर्ट के मुताबिक, अमरीका के रैंक में इस गिरावट का कारण ईंधन की कीमतों में तेजी, कमजोर निर्यात, डॉलर की मूल्य में लगातार उतार-चढ़ाव प्रमुख तौर पर रहा है। वहीं, दूसरी तरफ एशिया-पैसिफिक देशों की बात करें तो ये देश एडवांस टेक्नोलॉजिकल इन्फ्रास्ट्रक्चर को बढ़ावा दिया है। साथ ही, इन देशों ने ऐसी नीतियां भी बनाई है जिसस बिजनेस को सपोर्ट मिल सके और स्किल्ड वर्कफोर्स भी उपलब्ध हो।

2.5 लाख से बढ़ाकर 5 लाख हो टैक्स छूट की सीमा, एसोचैम ने वित्त मंत्रालय को दिया सुझाव

ये है दुनिया की 10 सबसे अधिक प्रतिस्पर्धी अर्थव्यवस्थाएं

सिंगापुर और हांग-कांग एसएआर के बाद इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर अमरीका है। स्विटजरलैंड और यूएई भी टॉप 5 देशों में जगह बनाने में कामयाब रहा। नीदरलैंड, स्वीडन और डेनमार्क भी शीर्ष 10 प्रतिस्पर्धी अर्थव्यवस्थाओं में शामिल हैं। कतर 7वें स्थान पर है, जबिक आयरलैंड 10वें स्थान पर है। आईएमडी की इस रैंकिंग में जीडीपी , सरकारी खर्च, भ्रष्टाचार का स्तर और बेरोजगारी जैसे कुल 235 मापदंडों को ध्यान रखा जाता है।

आधार कार्ड धारकों को 2 लाख तक लोन देने की व्यवस्था करें पीएम मोदी: अनिल अग्रवाल

दुनिया की सबसे तेजी से आगे बढऩे वाले शहरों में भारतीय शहर शीर्ष पर

भारत इस लिस्ट में भले ही शीर्ष पर जगह बनाने में कामयाब न रहा हो, लेकिन भारतीय शहर इस लिस्ट में सबसे आगे हैं। इस लिस्ट में भारत के सूरत, आगरा, बेंगलुरू, हैदराबाद, नागपुर, त्रिपुर, तिरूचिरापल्ली , चेन्नई और विजयवाड़ा शामिल हैं। साल 2035 तक जीडीपी के मामले में बेंगलुरू शीर्ष पर होगा।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें Patrika Hindi News App.

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned