पाकिस्तान में महंगाई 5 वर्ष के उच्चतम स्तर पर, इतने लाख लोग हो जाएंगे बेरोजगार

पाकिस्तान में महंगाई 5 वर्ष के उच्चतम स्तर पर, इतने लाख लोग हो जाएंगे बेरोजगार

Saurabh Sharma | Updated: 02 Apr 2019, 03:37:52 PM (IST) अर्थव्‍यवस्‍था

  • महंगार्इ दर बढ़ने से पाकिस्तान में गरीबों की संख्या में होगा 40 लाख का इजाफा
  • 10 लाख लोगों के बेरोजगार होने का बढ़ गया खतरा, महंगार्इ दर 9.41 फीसदी पहुंची

नर्इ दिल्ली। वित्तीय संकट का सामना कर रहे पाकिस्तान में मार्च 2019 के दौरान महंगाई की दर पांच वर्ष के उच्चतम स्तर 9.41 फीसदी पर पहुंच गई। पाकिस्तान सांख्यिकी ब्यूरो की तरफ से सोमवार को जारी महंगाई के आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है।

महंगाई बढऩे से गरीबी रेखा में रहने वालों की संख्या में 40 लाख का और इजाफा हो जायेगा जबकि इस साल दस लाख लोग और बेरोजगार हो जाएंगे। महंगाई का यह स्तर अप्रैल 2014 के बाद का सर्वाधिक है। उस समय महंगाई 9.2 फीसदी आंकी गई थी। मार्च महीने में ही महंगाई एक माह पहले की तुलना में 1.42 फीसदी बढ़ गई है।

आर्थिक विशेषज्ञों का मानना है कि महंगाई दहाई अंक में पहुंचने और आर्थिक विकास की गति तीन फीसदी से नीचे रहने से देश मुद्रास्फीति जनित मंदी की जाल में फंस सकता है। मुद्रस्फीति जनित मंदी में वस्तुओं और सेवाओं के दाम में तो बढ़ोतरी होती ही है। इस स्थिति में आर्थिक विकास गति मंद पड़ जाती हैं और बेरोजगारी की दर बढ़ जाती है।

गौरतलब है कि पाकिस्तान ने एक अप्रैल को ईंधन के दामों में भारी बढ़ोतरी की है। अप्रैल माह के लिए पेट्रोल और डीजल के दाम छह-छह रुपए प्रति लीटर बढ़कर नौ माह के उच्च स्तर क्रमश: 98.89 रुपए और 117.43 रुपए प्रति लीटर हो गए हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned