वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने Hotel Industry को लगाई लताड़, वैक्सीन बनने तक दी इंतजार की सलाह

  • होटल इंडस्ट्री ( Hotel Industry ) को पहले की तरह काम करने के लिए करना पड़ेगा इंतजार
  • Corona Vaccine बनने तक नहीं शुरू हो सकता पहले की तरह काम
  • इंडस्ट्री को वित्तीय राहत ( Financial Relief To Hotel Industry ) देने के मांग पर उन्होने कहा कि वो वित्त मंत्री से बात करेंगे

By: Pragati Bajpai

Published: 13 Jul 2020, 07:40 PM IST

नई दिल्ली: कोरोना महामारी ( corona pandemic ) के बीच सरकार अनलॉकिंग का काम भी शुरू कर चुकी है । धीरे- धीरे अर्थव्यवस्था के लगभग सभी सेक्टर्स में काम शुरू हो चुका है लेकिन होटल इंडस्ट्री को पहले की तरह काम करने के लिए अभी इंतजार करना पड़ेगा। ये कहना है वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ( Commerce Minister Piyush Goyal 2020 ) का। मंत्री जी ने साफ शब्दों में कहा कि जब तक कोरोना की वैक्सीन नहीं बन जाती सरकार इस तरह का रिस्क नहीं ले सकती है। हालांकि इसी के साथ उन्होने ये भी कहा कि अगर इंडस्ट्री कोरोना और केंद्र के आत्मनिर्भर भारत ( Atma Nirbhar Bharat ) मिशन के तहत कुछ सुझाव लेकर आती है तो सरकार उनकी मदद जरूर करेगी। इसी के साथ मंत्री जी ने unlock 3 के दौरान होटल इंडस्ट्री में सुधार और बदलाव के लिए सुझाव भी मांगे।

यूरिया उत्पादन में आत्मनिर्भर बनेगा भारत, 5 नए प्लांट्स से चीन पर निर्भरता होगी कम

आत्मंथन की जरूरत- दरअसल होटल इंडस्ट्री ( Hotel industry is at loss ) को कोरोना की वजह से काफी नुकसान हुआ है और लंबे समय से इंडस्ट्री द्वारा डाइन इन की इजाजत मांगी जा रही है। Federation of Hotel & Restaurant Associations of India द्वारा प्रायोजित वेबिनार में अपनी बात रखते हुए पीयूष गोयल ने होटल इंडस्ट्री को लताड़ लगाते ( piyush Goyal Slams Hotel industry ) हुए कहा कि इस वक्त उन्हें ( इंडस्ट्री ) आत्मंथन कर अपनी कमियों को ठीक करने पर विचार करना चाहिए। उदाहरण देते हुए उन्होने कहा कि होटल इंडस्ट्री द्वारा विदेशी कस्टमर्स के विदेशी मुद्रा देने पर उसकी 10 फीसदी वैल्यू को कम कर देते हैं जो कि बेहद गलत है।

वित्तीय राहत पर भी किया किनारा- इंडस्ट्री को वित्तीय राहत ( Financial Relief To Hotel Industry ) देने के मांग पर उन्होने कहा कि वो वित्त मंत्री से बात करेंगे लेकिन इसी के साथ उन्होने कहा कि इंडस्ट्री को अपना आत्मविश्वास नहीं खोना चाहिए बल्कि इस संकट से निकलने के ऐसे तरीके खोजे जिसमें सरकार के हस्तक्षेप की जरूरत न हो ।

Show More
Pragati Bajpai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned