CBSE ने सत्र 2021-22 के परीक्षा प्रश्न पत्र में किया बड़ा बदलाव, अब ऐसे रहेंगे प्रश्न पत्र

CBSE Board 2021: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने परीक्षाओँ के प्रश्न पत्र को लेकर एक बड़ा फैसला किया है।

By: Pratibha Tripathi

Published: 22 Apr 2021, 08:19 PM IST

CBSE Board 2021: कोरोनाकाल में कक्षा 12 बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित करने और कक्षा 10 परीक्षाओं को रद्द करने की घोषणा करने के बाद, अब केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने परीक्षाओँ के प्रश्न पत्र को लेकर भी एक बड़ा फैसला लिया है।

बोर्ड वर्ष 2021-22 के लिए परीक्षा और मूल्यांकन को लेकर कुछ बदलाव कर रहा है। इसमें केवल प्रश्न पत्र में ही बदलाव किया जाएगा जबकि समग्र अंक और परीक्षा की अवधि समान रहेगी, अधिक से अधिक योग्यता-आधारित प्रश्न या प्रश्न जो वास्तविक जीवन / अपरिचित स्थितियों में अवधारणाओं के अनुप्रयोग का आकलन करते हैं, प्रश्न पत्र का हिस्सा होंगे।

Read More:- CBSE Board Exam 2021: स्थगित हुए 12वीं के Practical Exam, 15 मई के बाद आएगी नई तारीख

शिक्षा बोर्ड ने शैक्षणिक सत्र 2021-22 से कक्षा 9 से 12 की परीक्षाओं में जो अहम बदलाव किए जा रहे है वे इस प्रकार से हैं। सबसे पहले अब ऐसे प्रश्न रखें जाएंगे जो अधिक योग्यता-आधारित होने के साथ वास्तविक जीवन या अपरिचित स्थितियों में अवधारणाओं के अनुप्रयोग का आकलन करते हैं वो 10वीं- 12वीं की बोर्ड परीक्षा और 9वीं -11वीं की वार्षिक परीक्षाओं में पूछे जाएंगे।

बोर्ड के मुताबिक अब कक्षा 9 और 10 में लगभग 30 फीसद बहुविकल्पीय सम्मलित किए जाएंगे इसके अलावा केस-आधारित और सोर्स आधारित इंटीग्रेटेड सवाल पूछे जाएंगे। 20 फीसदी सवाल वस्तुनिष्ठ प्रकार के होंगे और 50 फीसद लघु और दीर्घ उत्तरीय प्रकार के होंगे।

Read More:-Maharashtra sscboard 10th Exam 2021: महाराष्ट्र बोर्ड ने एसएससी 10वीं बोर्ड की परीक्षाएं की रद्द

वहीं, कक्षा 11 और 12 में 20 फीसद योग्यता आधारित प्रश्न, 20 फीसदी वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न होंगे और बाकि 60 फीसद लघु और दीर्घ उत्तरीय प्रकार के प्रश्न होंगे।

Pratibha Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned