CTET certificate validity: सीबीएसई ने लाइफटाइम की सीटेट की वैधता, अब एक बार परीक्षा पास करना जरूरी

 

CTET certificate validity: एनसीटीई की ओर से नोटिफिकेशन जारी होने के बाद सीबीएसई ने सीटेट ( CTET ) की वैलिडिटी बढ़ाकर लाइफटाइम कर दी है। टीचर बनने के इच्छुक युवाओं के लिए इसे बहुत बड़ी राहत माना जा रहा है।

By: Dhirendra

Updated: 22 Jun 2021, 11:19 PM IST

CTET certificate validity: राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद की ओर से 9 जून, 2021 को नोटिफिकेशन जारी होने के बाद केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने भी सीटेट ( CTET ) की वैधता बढ़ाने की घोषणा की है। नए नियमों के मुताबिक अब सीटेट सर्टिफिकेट लाइफटाइम के लिए वैध होगा। यानि सात साल के बदले जीवन भर के लिए मान्य माने जाएंगे। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड सीबीएसई ने जारी एक आधिकारिक नोटिस में बताया है कि सीटीईटी प्रमाणपत्र अब जीवन भर के लिए मान्य होगा। पहले यह सर्टिफिकेट 7 साल के लिए वैध होता था।

Read More: CBSE 12th Result 2021: सुप्रीम कोर्ट ने परीक्षाओं को रद्द करने के खिलाफ दायर याचिका की खारिज, अपने फार्मूले पर काम करे सीबीएसई

एनसीटीई की सिफारिश के बाद सीबीएसई ने लिया यह फैसला

राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद ( NCTE ) की ओर से 9 जून 2021 को इस संबंध में जरूरी नोटिस जारी करने के बाद सीबीएसई ने यह फैसला लिया है। NCTE ने पत्र संख्या NCTE-Reg1011/78/2020-US(Regulation)-HQ/99954-99992 दिनांक 09.06.2021 के माध्यम से सीटेट की वैधता अवधि को जीवन भर के लिए बढ़ाने के अपने निर्णय के बारे में सभी को सूचित किया था। साथ ही अपने पहले के नियमों को भी एनसीटीई ने संशोधित कर दिया है।

सीबीएसई द्वारा हर साल सीटीईटी परीक्षा आयोजित की जाती है। बता दें कि शिक्षक पात्रता परीक्षा उन सभी के लिए एक अनिवार्य आवश्यकता है जो केंद्र सरकार के स्कूलों में कक्षा 1 से 8 के लिए शिक्षण पदों के लिए आवेदन करना चाहते हैं। आमतौर पर जुलाई और दिसंबर में आयोजित परीक्षा स्थगित कर दी गई है। इस साल बोर्ड द्वारा जुलाई 2021 की परीक्षा के लिए कोई नया नोटिस जारी नहीं किया गया है।

CTET certificate validity 2020

राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद ( NCTE ) ने केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा ( CTET ) की वैधता को सात साल से बढ़ाकर आजीवन करने का फैसला लिया है। कैंडिडेट को अब अपने जीवन में केवल एक बार CTET की परीक्षा पास करने की आवश्यकता है। क्योंकि एनसीटीई ने इसकी वैधता को अब 7 साल से बढ़ाकर आजीवन कर दिया है। राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई- NCTE) ने यह महत्वपूर्ण फैसला 29 सितंबर 2020 को आयोजित 50वीं आम सभा की बैठक में लिया था, जिसे 9 जून को अधिसूचित किया गया था।

साल में दो बार होती है CTET की परीक्षा

सीटेट परीक्षा एक साल में दो बार आयोजित होती है। एक बार में जुलाई में दूसरी बार दिसंबर में। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद् साल में दो बार केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा ( CTET ) का आयोजन करता है। सीटेट के पेपर-1 में शामिल कैंडिडेट्स प्राइमरी के लिए अर्थात कक्षा एक से कक्षा 5 तक पढ़ाने के लिए योग्य होता है। वहीँ पेपर -2 में शामिल होने वाला कैंडिडेट्स कक्षा 6 से कक्षा 8 तक पढ़ाने का पात्र माना जाता है। कैंडिडेट्स को यह छूट है कि वह चाहे तो पेपर-1 में या पेपर -2 में या फिर दोनों पेपरों की परीक्षा दे सकता है।

Read More: CBSE 12th Result 2021: रिजल्ट टैबुलेशन पोर्टल लांच, नतीजे तैयार करने में स्कूलों की करेगा मदद


Web Title: CBSE Extends CTET Certificate Validity From 7 Years To Lifetime

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned