Assam Assembly Elections 2021: हिमंत बिस्वा को दोहरा झटका, अब भाई पर भी EC का एक्शन

Assam Assembly Elections 2021 हिमंत बिस्वा के प्रचार पर रोक के बाद अब उनके भाई पर चुनाव आयोग का बड़ा एक्शन

By: धीरज शर्मा

Published: 03 Apr 2021, 10:28 AM IST

नई दिल्ली। असम विधानसभा चुनाव ( Assam Assembly Elections 2021 ) जैसे-जैसे आगे बढ़ रहा है बीजेपी के लिए मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। एक तरफ ईवीएम को लेकर बवाल तो दूसरी तरफ पार्टी के कद्दावर नेता और प्रदेश के वित्त मंत्री हिमंत बिस्मा पर चुनाव आयोग की कार्रवाई ने आलाकमान की चिंता बढ़ा दी है।

दरअसल हिमंत बिस्वा को तीसरे चरण के मतदान से पहले दोहार झटका लगा है। अब चुनाव आयोग ने उनके भाई को लेकर भी एक्शन लिया है। आयोग ने उनके भाई का ट्रांसफर करने का आदेश दिया है।

यह भी पढ़ेँः Assam Assembly Elections 2021 EVM बवाल पर अमित शाह का बयान, चुनाव आयोग से कही ये बात

वोटिंग प्रभावित होने की आशंका
दरअसल चुनाव आयोग ने हिमंत बिस्वा सरमा के भाई सुशांत बिस्वा सरमा पर एक्शन इसलिए लिया है क्योंकि उनके भाई गोलपाड़ा के एसपी हैं।

गोलपाड़ा विधानसभा सीट पर आखिरी फेज यानी 6 अप्रैल को वोटिंग होनी है। यही वजह है कि उनके ट्रांसफर के आदेश दिए गए हैं। आयोग नहीं चाहता है कि उनके भाई के चलते किसी भी तरह की वोटिंग के प्रभावित होने या फिर कोई अन्य अनहोनी घटना के चांस बनें।

असम के चीफ इलेक्टोरल ऑफिसर को इसके लिए शुक्रवार देर रात चुनाव आयोग की तरफ से एक खत भेजा गया है। इस खत के मुताबिक, चुनाव आयोग ने चीफ इलेक्टोरल ऑफिसर को निर्देश दिया है कि वो जल्द से जल्द एसपी सुशांत बिस्वा सरमा का ट्रांसफर करें।

हिमंत के भाई की जहग इनको मिली जिम्मेदारी
चुनाव आयोग ने कहा है कि सुशांत बिस्वा सरमा की जगह वीरा राकेश रेड्डी को गोलपाड़ा का एसपी नियुक्त किया जाए। इसके साथ ही यह भी कहा गया है कि सुशांत को पुलिस हेडक्वार्टर में किसी अच्छे पद पर रखा जाए।

हिमंत के प्रचार करने पर 48 घंटे की रोक
इससे पहले हिमंत बिस्वा सरमा के प्रचार करने पर भी चुनाव आयोग रोक लगा चुका है। वित्त मंत्री हिमंत बिस्वा पर 48 घंटे तक चुनाव प्रचार करने पर रोक लगा दी है।

दरअसल, 29 मार्च के दिए हिमंत बिस्वा सरमा ने खुले मंच से कांग्रेस के सहयोगी और बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट के चेयरमैन हगरमा मोहिलरी को जेल भेजने की धमकी दी थी।

यह भी पढ़ेँः Assam Assembly Elections 2021: दूसरे चरण में इन दिग्गजों समेत 345 प्रत्याशियों की दांव पर साख

इसके बाद कांग्रेस ने चुनाव आयोग में उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। इस शिकायत पर कार्रवाई करते हुए आयोग ने हिमंत बिस्वा सरमा के चुनाव प्रचार करने पर 48 घंटे तक रोक लगा दी है।

आपको बता दें कि असम विधानसभा चुनाव ( Assam Assembly Elections 2021 ) के तीसरे चरण का मतदान 6 अप्रैल को होना है। इसी चरण में हिमंत बिस्मा भी किस्म आजमा रहे हैं। तीसरे चरण में 40 सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे।

आइए पढ़ेंः Assam Assembly Elections 2021 - Bhartiya Janta Party (BJP) Full Candidates List

Assam Assembly Elections 2021
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned