scriptUP Elections 2022 Mayawati Jayant Anupriya not contest elections | उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव : महारथी नहीं उतरेंगे समर में, दूर बैठकर फेंकेंगे सियासी तीर | Patrika News

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव : महारथी नहीं उतरेंगे समर में, दूर बैठकर फेंकेंगे सियासी तीर

यूपी की 18वीं विधानसभा के रण में कई जाने-माने महारथी दूर से ही बैठकर सियासी तीर फेकेंगे। वह चुनाव नहीं लड़ेंगे बल्कि लड़वाने का काम करेंगे। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव भले ही अनमने मन से यह कह रहे हैं कि पार्टी कहेगी तो चुनाव मैदान में उतरेंगे लेकिन यह तय हो चुका है वे चुनाव नहीं लड़ेंगे।

लखनऊ

Published: January 11, 2022 08:59:34 pm

लखनऊ. (महेंद्र प्रताप सिंह) यूपी की 18वीं विधानसभा के रण में कई जाने-माने महारथी दूर से ही बैठकर सियासी तीर फेकेंगे। वह चुनाव नहीं लड़ेंगे बल्कि लड़वाने का काम करेंगे। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव भले ही अनमने मन से यह कह रहे हैं कि पार्टी कहेगी तो चुनाव मैदान में उतरेंगे लेकिन यह तय हो चुका है वे चुनाव नहीं लड़ेंगे। इसी तरह बसपा प्रमुख मायावती और पार्टी महासचिव सतीश मिश्र और उनका परिवार चुनाव न लड़ने की घोषणा कर चुका है। भाजपा के शीर्ष नेतृत्व ने सीएम योगी आदित्यनाथ और उनके दोनों डिप्टी सीएम के चुनावी समर में उतरने के संकेत दिए हैं। लेकिन ये तीनों नेता कहां से ताल ठोंकेगे अभी रणक्षेत्र तय नहीं हुआ है। योगी के चुनाव क्षेत्र को लेकर कयासों का दौर जारी है।
UP Assembly Election 2022
UP Assembly Election 2022
यह भी पढ़ें

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के दूसरे फेज में इन बड़े राजनीतिक चेहरे की प्रतिष्ठा दांव पर

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव : महारथी नहीं उतरेंगे समर में, दूर बैठकर फेंकेंगे सियासी तीरअयोध्या से चुनाव लड़ेंगे योगी?

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संकेत दिया है वह विधानसभा चुनाव अयोध्या से लड़ सकते हैं। इसके अलावा उनके गोरखपुर या फिर मथुरा से चुनाव लडऩे की भी चर्चाएं हैं। अटकलों के बीच जो संकेत मिल रहे हैं वो इशारा कर रहे हैं कि सीएम योगी अयोध्या सदर सीट से चुनाव लड़ सकते हैं।
यह भी पढ़ें

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के पहले फेज में इन वीआईपी चेहरों की प्रतिष्ठा दांव पर

Keshav Mauryaसिराथू से ताल ठोकेंगे केशव मौर्य

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या कौशांबी जिले की सिराथू सीट से चुनाव लडऩे की तैयारी में हैं। उनके करीबी सहयोगी भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य अरुण अग्रवाल को सिराथू विधानसभा का प्रभारी बनाया गया है। यदि मौर्या सिराथू से चुनाव नहीं लड़ते हैं तो फिर वह प्रयागराज के शहर उत्तरी विधानसभा या फाफामऊ विधानसभा सीट से चुनाव लड़ सकते हैं। वहीं दूसरे डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा कहां से चुनाव लड़ेंगे यह अभी तय नहीं है। लखनऊ में उनके लिए सुरक्षित सीट की तलाश जारी है।
उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव : महारथी नहीं उतरेंगे समर में, दूर बैठकर फेंकेंगे सियासी तीरजहूराबाद से लड़ेंगे ओमप्रकाश राजभर

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर एक बार फिर गाजीपुर की जहूराबाद विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में होगे। अपनी पार्टी के उम्मीदवारों के साथ-साथ सपा गठबंधन के प्रत्याशियों को भी जिताने की जिम्मेदारी राजभर पर है।
Ajay Kumar Lalluप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष लड़ेंगे चुनाव

कुशीनगर की तमकुहीराज विधानसभा से जीते कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू एक बार इसी विधानसभा से उतरने की तैयारी में हैं। जबकि, यूपी कांग्रेस की प्रभारी और राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने चुनाव में न उतरने का संकेत दिया है।
Jayant Chaudharyजयंत को चाहिए राज्यसभा में अच्छी भागीदारी

समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ रहे राष्ट्रीय लोक दल के चीफ जयंत चौधरी यूपी विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। जयंत चौधरी की पार्टी पश्चिमी यूपी के जिलों की 24 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। इनमें गौतम बुद्ध नगर, गाजियाबाद, मुजफ्फरनगर और बागपत शामिल हैं। इसके अतिरिक्त, समाजवादी पार्टी के आठ नेता आरएलडी के चुनाव चिह्न पर लड़ेंगे। माना जा रहा है कि यदि आरएलडी और सपा का गठबंधन यूपी चुनाव में जीतता है तो जयंत चौधरी कोई बड़ी भूमिका की मांग नहीं करेंगे क्योंकि पार्टी राज्यसभा में अहम भूमिका की मांग रख सकती है।
Anupriya patel
IMAGE CREDIT: NET
अनुप्रिया भी नहीं लड़ेंगी चुनाव

यूपी में चुनाव लड़ रहीं अन्य राजनीतिक पार्टियों में अपना दल की अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल केंद्र में मंत्री हैं। इसलिए वह विधानसभा चुनावों में नहीं उतरेंगी। निषाद पार्टी के संजय निषाद हाल ही विधानपरिषद के सदस्य चुने गए हैं, इसलिए वह भी चुनाव लड़वाने की भूमिका में होंगे। अपना दल कृष्णा गुट की अध्यक्ष कृष्णा पटेल का सपा से गठबंधन है। वह प्रतापगढ़ या फिर मिर्जापुर से चुनाव लड़ सकती हैं।
satish_chandra_mishra-mayawati.jpgमायावती और सतीश मिश्र चुनाव लड़वाएंगे

बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा का कहना है बसपा यूपी की सभी 403 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। चुनाव से पहले और चुनाव के बाद भी बसपा किसी पार्टी से गठबंधन नहीं करेगी। उनके अनुसार मायावती और उनके परिवार का कोई भी सदस्य चुनाव नहीं लड़ेगा। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया है कि उनका बेटा कपिल और मायावती का भतीजा आनंद भी चुनाव नहीं लड़ेगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

बेटी का जुल्म-बुजुर्ग ने जेब से निकालकर बताई दाढ़ी और नाखून, छलक उठे गम के आंसूयहां PWD का बड़ा कारनामा, पेयजल पाइप लाइन के ऊपर ही बना रहे ड्रेनेज सिस्टम, गुस्साए विधायक ने की सीएम से शिकायतमोदी की लीडरशिप से वैक्सीन का रिकार्ड बनाया भारत ने: पूनियाUttar Pradesh Assembly Elections 2022: जानें बीजेपी में भगदड़ का पूर्वांचल की सियासत पर क्या होगा असरसीएम और यूडीएच मंत्री के जिलों में पार्षदों का मनोनयन, जयपुर को अब भी इंतजारमंगल ग्रह 42 दिन तक धनु राशि में करेगा गोचर, 7 राशि वालों का चमकाएगा करियरUP Elections : अखिलेश का मुकाबला करने के लिए बीजेपी ने 'हिंदू पहले' की नीति अपनाईभाजपा की सूची जारी होने के बाद प्रत्याशी के विरोध में पूर्वांचलियों का हंगामा, झड़प के बाद आधा दर्जन हिरासत में
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.