scriptSeven Doctors team for DM Fatehpur cow treatment | डीएम साहिबा की बीमार गाय के इलाज के लिए सात डाक्टर की फौज, सरकारी आदेश भी जारी | Patrika News

डीएम साहिबा की बीमार गाय के इलाज के लिए सात डाक्टर की फौज, सरकारी आदेश भी जारी

UP Viral News: एक तरफ जहां आम लोगों को इलाज नहीं वहीं दूसरी तरफ डीएम साहिबा की गाय के लिए डॉक्टरों की एक फौज तैयार हो गई।

फतेहपुर

Updated: June 12, 2022 01:04:38 pm

उत्तर प्रदेश की मेडिकल व्यवस्था से तो हर कोई वाकिफ है। हजारों ऐसे लोग हैं जिनको समय से इलाज नहीं मिला। रोजाना इलाज न मिल पाने की वजह से कई मौतें हो जाती है। लेकिन उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले में एक गाय के इलाज के लिए सात ड़क्टरों की व्यवस्था की गई। हर दिन के लिए एक एक ड़ॉक्टर सरकारी आदेशों पर नियुक्त किया गया। इतना ही नहीं बल्कि सात ड़ॉक्टर में से किसी के न होने पर एक विकल्प तैयार किया गया।
Seven Doctors team for DM Fatehpur cow treatment
Seven Doctors team for DM Fatehpur cow treatment
दरअसल, ये मामला फतेहपुर का है। यहां तैनात डीएम अपूर्वा दुबे की गाय के लिए सात सरकारी ड़ॉक्टरों की फौज तैयार की हुई है। डीएम अपूर्वा दुबे लंबे समय से फतेहपुर में तैनात हैं। जानकारी के अनुसार पता चला कि इनकी गाय को कुछ समस्या हुई तो हर दिन अलग अलग डॉक्टरों की ड्यूटी लगा दी गई। इसके लिए बाकयदा शासनादेश जारी हुआ। ऐसे में लोगों ने न केवल वीआईपी ड्यटी बल्कि आम लोगों की समस्याओं को नजरंदाज करने पर भी सवाल उठाए। इसमें ड़ॉ मणीष अवस्थी, डॉ भुवनेश कुमार, डॉ अनिल कुमार, डॉ अजय कुमार दुबे, डॉ शिवस्वरूप, डॉ प्रदीप कुमार, डॉ अतुल कुमार और इनकी गैर हाजिरी पर डॉ सुरेश कुमार कनौजिया की ड्यूटी लगाई गई।
यह भी पढ़ें

प्रयागराज हिंसा: मुख्य आरोपी जावेद के घर पहुंचे बुलडोजर, सीएम का फरमान जारी

सुबह शाम जाकर करेंगे चेक

जारी शासनादेश में लिखा है सभी पशु चिकित्साधिकारी डीएम महोदया का गाय को सुबह शाम देखने जाएंगे। यानि दिनभर मात्र एक बार नहीं बल्कि दो-दो बार ड्यूटी बजानी पड़ेगी। वहीं, गांव वालों का कहना है कि पशु के इलाज के लिए सरकारी डॉक्टरों को बुलाने के लिए दस बार चक्कर लगाने पड़ते हैं, तब पशु देखने आते हैं। मुद्दा तो ये है कि डॉक्टर जब वीआईपी ड्यूची में लगे हैं तो आम लोगों की समस्या कैसे सुनें।
सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा लेटर

जैसे ही यह आदेश जारी हुआ वैसे ही ये लेटर सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा। कई ने तल्ख टिप्पणी की तो किसी ने ध्वस्त चल रही व्यवस्थाओं पर प्रश्न उठाए। लोगों ने कहा विभाग जब योगी की अफसरों की नौकरी से छुट्टी पाए तो आम जनता की शिकायत सुने। इसी तरह कई यूजर्स ने कमेंट किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Train Accident: महाराष्ट्र के गोंदिया में रेल हादसा, पैसेंजर ट्रेन ने मालगाड़ी को मारी टक्कर; 50 से अधिक यात्री घायलदिल्ली में आज पीएम मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट की बैठक, मंत्रिमंडल विस्तार की अटकलें तेजगुलाम नबी ने कांग्रेस को दिया झटका, ठुकराया JK कैंपेन कमेटी का पद, बताया ये कारणकलकत्ता हाईकोर्ट की कड़ी टिप्पणी, कहा - 'पश्चिम बंगाल में बिना पैसे दिए नहीं मिलती सरकारी नौकरी'Jammu-Kashmir News: शोपियां में फिर आतंकी हमला, CRPF के बंकर पर ग्रेनेड अटैकओडिशा के 10 जिलों में बाढ़ जैसे हालात, ODRAF और NDRF की टीमों को किया गया तैनातकैबिनेट विस्तार के बाद पहली बार नीतीश कैबिनेट की बैठक, इन एजेंडों पर लगी मुहरशिमला में सेवाओं की पहली 'गारंटी' देने पहुंचेगी AAP, भगवंत मान और मनीष सिसोदिया कल हिमाचल प्रदेश के दौरे पर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.