ईरान फुटबॉल महासंघ का बड़ा फैसला, टैटू रखने वाले खिलाड़ियों को बाहर करने का दिया आदेश

ईरान फुटबॉल महासंघ का बड़ा फैसला, टैटू रखने वाले खिलाड़ियों को बाहर करने का दिया आदेश

Anil Kumar | Publish: Mar, 20 2019 04:41:19 AM (IST) | Updated: Mar, 20 2019 06:44:57 AM (IST) फ़ुटबॉल

  • ईरान फुटबॉल महासंघ ने टैटू रखने वाले खिलाड़ियों के खिलाफ लिया बड़ा एक्शन।
  • ईरान के युवा पीढ़ी अपने एथलिटों को आदर्श मानते हैं।
  • ईरान का मानना है कि टैटू बनाना पश्चिमी सभ्यता को बढ़ावा देना है।

तेहरान। ईरान फुटबॉल महासंघ ने एक बड़ा कदम उठाते हुए कई खिलाड़ियों को टीम से बाहर करने का फैसला किया है। दरअसल ईरान फुबाल महासंघ ने यह आदेश दिया है कि जिस भी खिलाड़ी ने अपने शरीर पर टैटू बनाया है उन सभी खिलाड़ियों को राष्ट्रीय टीम से बाहर किया जाए। ईरान की मीडिया रिपोर्ट में सोमवार को ईरान फुबाल महासंघ की नैतिक समिति के हवाले से बताया गया है कि समिति ने खिलाड़ियों को चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि टैटू होना अव्यवसायिक है।

ईरान: अमरीकी नौसेना अधिकारी को जानकारी सार्वजनिक करने पर मिली दस साल की सजा

टैटू को पश्चिमीकरण सभ्यता का प्रतीक मानता है ईरान

बता दें कि अपने बाजूओं पर टैटू रखने वाले ईरानी खिलाड़ी काफी समय तक मैदान में रहते हैं। इसलिए ईरान फुटबॉल समिति ने एक मैच के दौरान अपने हाथों पर टैटू के होने को लेकर अशकान देजागाह और सरदार अजमून को समन जारी किया है। 'इस्लामिक मूल्यों' को बढ़ावा देने के लिए ईरान की युवा पीढ़ी अपने एथलीटों को आदर्श मानते है। इसलिए समिति का मानना है कि टैटू 'पश्चिमीकरण' या इस्लामी समाज के 'सांस्कृतिक आक्रमण' का प्रतीक है। इस बाबत एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि खिलाड़ियों के शरीर पर टैटू का होना, ईरान की संस्कृति के खिलाफ है और यह हमारे समाज के लिए खतरनाक है।

 

Read the Latest India news hindi on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले India news पत्रिका डॉट कॉम पर.

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned