श्मशान घाट की लकड़ियों को लेकर भिड़े भाजपा नेता

Highlights
- हिंडन स्थित श्मशान घाट पर दोगुने रेटों पर लकड़ी बेचने का मामला
- भाजपा पार्षद ने दी धरने पर बैठने की चेतावनी
- महापौर ने कहा, सुलझा लिया जाएगा मामला

By: lokesh verma

Published: 29 May 2020, 11:52 AM IST

गाजियाबाद. हिंडन नदी (Hindon River) के तट पर बने श्मशान घाट पर दोगुने रेट पर लकड़ी बेचे जाने के मामले में भाजपा (BJP) नेता ही आमने-सामने आ गए हैं। भाजपा पार्षद हिमांशु मित्तल ने इस मुद्दे को लेकर धरने पर बैठने की चेतावनी दी है। वहीं, महापौर आशा शर्मा (Mayor Asha Sharma) ने मोक्ष स्थल पर राजनीति करने से बचने की नसीहत दी है। महापौर का कहना है कि जल्द ही इस मामले को सुलक्षा लिया जाएगा। बता दें हिंडन स्थित श्मशान घाट (Burning Ghaut) की देखरेख भारतीय जनता पार्टी से जुड़े लोगों के जिम्मे है।

यह भी पढ़ें- सुसाइड से पहले बनाया वीडियो, कहा- मोहल्ले वालों से मास्क लगाने को कहा तो बेरहमी से पीटा, योगी जी उन्हें मत छोड़ना

गाजियाबाद (Ghaziabad) में हिंडन नदी के तट पर बने श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार किए जाने वाली लकड़ी के मुद्दे ने सियासी रंग ले लिया है। आरोप है कि दाह संस्कार में इस्तेमाल होने वाली लकड़ी को यहां दोगुने रेट पर बेचा जा रहा है। भाजपा पार्षद और जीडीए बोर्ड सदस्य हिमांशु मित्तल का कहना है कि पहले भी वह दोगुने रेट पर लकड़ी बेचे जाने का मुद्दा उठा चुके हैं, लेकिन इस बात पर किसी भी अधिकारी ने कोई ध्यान नहीं दिया। उन्होंने कहा है कि यदि अब इस मामले को गंभीरता से नहीं लिया गया और कोई कार्रवाई नहीं की गई तो धरने पर बैठकर विरोध करेंगे। वहीं जैसे ही इसकी जानकारी नगर निगम तक पहुंची तो महापौर आशा शर्मा ने तुरंत संज्ञान लेते हुए कहा कि मामले को सुलझाने की कोशिश की जा रही है।

मेयर आशा शर्मा का कहना है कि सभी को मोक्ष स्थल पर राजनीति करने से बचना चाहिए। वहीं, जिस तरह से मोक्ष स्थल पर इस्तेमाल की जाने वाली लकड़ियों को दोगुने रेट में बेचे जाने की बात कही जा रही है, वह बेहद निंदनीय है। वह इस बात की गहनता से जांच कराएंगी। उन्होंने कहा कि मोक्ष स्थल पर अधिक मूल्य पर बेची जाने वाली लकड़ियों के लिए गाजियाबाद नगर निगम की ओर से एक कमेटी गठित की जाएगी। इस कमेटी के अंतर्गत लकड़ियों का नियम अनुसार ऑक्शन किया जाएगा और दाह संस्कार के लिए इस्तेमाल होने वाली लकड़ी के रेट भी निर्धारित किए जाएंगे। उन्होंने कहा है कि नियमावली का उल्लंघन करने वाले पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस मामले में तत्काल प्रभाव से कार्रवाई होगी।

बहरहाल बड़ी बात यह है कि हिंडन स्थित श्मशान की देखरेख भी भाजपा से जुड़े लोग करते हैं। वहीं, इस तमाम प्रक्रिया पर भी सवाल उठाने वाले ही भाजपा खेमे के ही हैं और अब दाह संस्कार में प्रयोग की जाने वाली लकड़ी पर ही आपस में राजनीति शुरू हो गई है। जिस तरह से यह मुद्दा जनपद में गरमाया हुआ है। उससे लगता है कि श्मशान घाट की लकड़ी से जो आग निकलती है, वह स्थानीय भगवा खेमे में तूफान खड़ा कर सकती है।

यह भी पढ़ें- Ghaziabad: लॉकडाउन के बीच दो पक्ष भिड़े, फायरिंग में गोली लगने से ढेर हुआ एक युवक

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned