VIDEO: लापता बेटी के घर लौटने पर पिता ने डांटा तो दरोगा ने तोड़ दिया पिता का हाथ

Ashutosh Pathak | Updated: 04 Jun 2019, 01:13:41 PM (IST) Ghaziabad, Ghaziabad, Uttar Pradesh, India

  • लापता बेटी को पुलिस ने किया बरामद
  • थाने में ही पिता पर बेटी को मारने का आरोप
  • दरोगा पर पिता के साथ मारपीट का आरोप

गाजियाबाद। मोदीनगर इलाके में एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसे सुनकर आप थोड़ा हैरान रह जाएंगे। दरअसल कुछ दिन पहले कोतवाली मोदीनगर में एक परिवार ने बेटी के गुम हो जाने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने भी कुछ दिन बाद लड़की को बरामद कर परिजनों को सूचित कर दिया। जैसे ही माता-पिता लड़की के पास पहुंचे उससे पूछ-ताछ करने लगे, इस बीच लड़की के पिता ने बेटी की पिटाई कर दी। बेटी को पिता द्वारा पिटता देख कोतवाली में बैठे दरोगा जी भड़क उठे और आरोप है कि उन्होंने गुस्से में लड़की के पिता की लाठी-डंडे और लात घुसा से जमकर मारपीट की।

जानकारी के अनुसार मोदी नगर कोतवाली इलाके के गांव बखारवा में रहने वाली 17 वर्षीय बेटी 29 मई को लापता हो गई थी। परिजनों ने गांव के ही युवक पर अपहरण का केस दर्ज कराया था। पुलिस ने कार्रवाई कर उक्त किशोरी को मेरठ क्षेत्र से बरामद कर लिया। इस बीच बेटी को सामने पाकर पिता ने डांटना शुरू कर दिया। लड़की के पिता ने बताया कि इस बात पर वहां मौजूद दरोगा जी आग बबूला हो गए। बेरहमी से पिटाई कर हाथ तोड़ दिया।

ये भी पढ़ें : VIDEO: गुजरात के बाद अब यूपी के विधायक हुए बेकाबू, सत्ता के नशे में चूर बीच सड़क पर की मारपीट

ghaziabad

इसके साथ ही पीड़ित पिता का कहना है कि उन्होंने जिसके खिलाफ मामला दर्ज कराया था उसे लेकर दरोगा समझौके का दबाव बना रहे थे। लेकिन पीड़ित द्वारा फैसला किए जाने से इंकार कर दिया गया। जिसके बाद दरोगा जी और भड़क गए इससे गुस्साए दरोगा ने पिता को बेरहमी से पीटा। वहीं उसका कहना है कि अब पुलिस मामले को दबाने में लगी है। हालांकि पीड़ित द्वारा आरोपी दरोगा के खिलाफ भी कोतवाली में तहरीर दी गई है। पीड़ित का आरोप है कि दरोगा के खिलाफ पुलिस कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है।

ये भी पढ़ें : VIDEO: बंद मकान से आ रही थी बदबू, पड़ोसियों ने अंदर जा कर देखा उड़ गए होश

वहीं इस पूरे मामले में एसपी देहात नीरज कुमार जादौन का कहना है लड़की के परिजनों द्वारा लड़की के साथ पुलिस चौकी में ही मारपीट की जाने लगी, जिसे पुलिस द्वारा बचाया गया। उन्होंने बताया कि वीडियो द्वारा पुलिस पर लगाए गए आरोप शुरुआती दौर में बेबुनियाद नजर आ रहे हैं। फिर भी इस पूरे मामले की जांच की जा रही है,।जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके आधार पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned