गाजियाबाद समूहिक आत्महत्या प्रकरण: धार्मिक प्रवृत्ति का था मृतक परिवार, मरने से पहले गरीबों को बांटे थे कंबल और नए कपड़े

  • सासाइटी में अक्सर करते थे भंडारे और दान पुण्य
  • दो दिन पहले भी सोसाइटी के गार्ड और सर्वेंट को बांटे थे कंबल और नए कपड़े

By: Iftekhar

Published: 03 Dec 2019, 12:38 PM IST

 

गाजियाबाद. दिल्ली के बुरारी कांड के बाद एक बार फिर गाजियाबाद में एक हंसता खेलता परिवार आत्महत्या कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। थाना इंदिरापुरम इलाके की एक सोसाइटी की 8वीं मंजिल के ए-805 नंबर फ्लैट में रहने वाले एक परिवार के मुखिया ने अपनी बेटी और बेटे की हत्या करने के बाद अपनी पत्नी और एक अन्य महिला के साथ 8वीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या करने वाला गुलशन बेहद धार्मिक प्रवृत्ति का बताया जाता है। गुलशन के बारे में सोसायटी के सुपरवाइजर ने बताया है यह पूरा परिवार धार्मिक किस्म का था। अक्सर भंडारे आदि का आयोजन करता था और अभी 2 दिन पहले ही गुलशन ने दोनों महिलाओं के साथ सोसाइटी के गार्ड और सर्वेंट एवं वहां साफ-सफाई करने वाली महिलाओं को कंबल और नए कपड़े भी बांटे थे।

यह भी पढ़ें- ट्रैक्टर ड्राइवर ने दिखाया हैरतअंगेज स्टंट, वीडियो देखकर आंखों पर नहीं होगा विश्वास

ऐसे में यह सवाल खड़ा होता है कि जब यह पूरा परिवार इतनी धार्मिक प्रवृत्ति का था तो आखिरकार दोनों बच्चों की हत्या करने के बाद खुद कैसे आत्महत्या कर सकता है। बहरहाल, इस घटना के बाद तरह-तरह की चर्चा सामने आ रही है। उधर, संजना नाम की महिला के बारे में भी लगातार सस्पेंस बना हुआ है, क्योंकि पड़ोसियों के अनुसार संजना नाम की महिला भी इनके साथ ही रहती थी। कुछ लोग यही मानते थे कि संजना गुलशन की दूसरी पत्नी है, लेकिन अभी तक शुरुआती जांच में यही पता चला है कि संजना नाम की दूसरी महिला गुलशन की पत्नी नहीं, बल्कि उसकी मैनेजर थी। उसके परिवार के सदस्य के रूप में उसके साथ ही रह रही थी। पुलिस की माने तो यह पूरा मामला उस वक्त साफ हो पाएगा, जब गुलशन का पूरा परिवार मौके पर पहुंचेगा। फिलहाल, पुलिस अभी कई एंगल से इस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है।

यह भी पढ़ें: सनसनीखेज दोहरे हत्याकांड की जांच को लेकर पुलिस पर उठे सवाल

मृतक गुलशन ने दीवार पर लिखे सुसाइड नोट में अपने पूरे परिवार की मौत का जिम्मेदार साहिबाबाद में रहने वाले राकेश वर्मा को बताया गया है। बताया यह भी जा रहा है कि इन दोनों के बीच करोड़ों रुपए का लेनदेन भी था, जिसके चलते गुलशन बेहद परेशान रहता था। इसी परेशानी की वजह से आखिरकार उसने अपने पूरे परिवार को खत्म करने का इरादा बनाया।

Show More
Iftekhar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned