scriptRakesh Tikait said This is not shaheen bagh it is farmers protest | राकेश टिकैत बोले- ये शाहीन बाग नहीं, किसान आंदोलन है और हम कोरोना से नहीं डरते | Patrika News

राकेश टिकैत बोले- ये शाहीन बाग नहीं, किसान आंदोलन है और हम कोरोना से नहीं डरते

राकेश टिकैत ने चेतावनी देते हुए कहा- खत्म नहीं होगा आंदोलन, चाहे पूरे देश में लाकडाउन लगा दो

गाज़ियाबाद

Published: April 07, 2021 05:46:12 pm

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
गाजियाबाद. ये शाहीन बाग नहीं धरती पुत्रों यानी किसानों का आंदोलन है। किसान एक बार पैर बढ़ा लेता है तो पीछे नहीं हटाता। यह कहना है भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत का। जो इस समय गाजीपुर बार्डर में पिछले चार महीने से कृषि बिल के खिलाफ धरने पर बैठे हुए हैं। पत्रिका से हुई बातचीत के बाद उन्होंने कहा कि किसान किसी कोरोना से नहीं डरते। गांव में रहने वाले लोग खेत में काम करके अपना पसीना बहाते हैं। एसी में बैठकर आराम नहीं करते। उन्होंने कहा कि सरकार को बहुत बड़ी गलतफहमी है कि कोरोना संक्रमण के चलते किसान आंदोलन समाप्त हो जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं है। किसान आंदोलन कृषि बिल की वापसी तक चलेगा। इसके लिए चाहे एक साल लगे या चार साल। हम अपना हक लेकर ही उठेंगे।
rakesh_tikaait_1_6782952_835x547-m.jpg
यह भी पढ़ें- किसान आंदोलन: देशभर की मिट्‌टी से गाजीपुर बॉर्डर पर बनाया शहीद स्मारक

बता दें कि कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने तत्काल प्रभाव से नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला किया है। रात 10 बजे से लेकर सुबह 5 बजे तक दिल्ली में नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा। यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू होगा और 30 अप्रैल तक लागू रहेगा। कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने यह बड़ा फैसला किया है।
गाजीपुर बॉर्डर समेत राजधानी दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर कृषि कानूनों की वापसी और न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी की मांग को लेकर बीते चार महीने से किसानों का आंदोलन जारी है। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता और किसान नेता राकेश टिकैत का कहना है किसान आंदोलन को शाहीन बाग मत मानना। पूरे देश में लॉकडाउन लग जाएगा तब भी आंदोलन खत्म नहीं होगा, ना ही किसान धरना स्थल छोड़ेंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

7,500 स्टूडेंट्स ने मिलकर बनाया सबसे बड़ा ह्यूमन फ्लैग, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नामबिहारः सत्ता गंवाते ही NDA के 3 सांसद पाला बदलने को तैयार, महागठबंधन में शामिल होने की चल रही चर्चा'फ्री रेवड़ी ' कल्चर व स्कूल के मुद्दे पर संबित्र पात्रा ने AAP को घेरा, कहा- 701 स्कूलों में प्रिंसिपल नहीं, 745 स्कूलों में नहीं पढ़ाया जाता विज्ञानPM मोदी ने कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा लेने वाले दल से मुलाकात की, कहा- विजेताओं से मिलकर हो रहा गर्वप्रियंका के बाद अब सोनिया गांधी भी दोबारा हुईं कोरोना पॉजिटिव, तेजस्वी यादव ने कल ही की थी मुलाकातजम्मू कश्मीर में टेरर लिंक मामले में बिट्टा कराटे की पत्नी समेत चार सरकारी कर्मचारी बर्खास्त2009 में UPSC किया टॉप, 2019 में राजनीति के लिए नौकरी छोड़ी, अब 2022 में फिर कैसे IAS बने शाह फैसल?CSA T20 League: राजस्थान रॉयल्स ने जोस बटलर , मिलर, मैककॉय समेत इन खिलाड़ियों को किया शामिल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.