11 नहीं अब इतनी सीटों पर होगा उपचुनाव, इस विधायक की विधानसभा सदस्यता हुई रद्द, मिली थी उम्रकैद की सजा

11 नहीं अब इतनी सीटों पर होगा उपचुनाव, इस विधायक की विधानसभा सदस्यता हुई रद्द, मिली थी उम्रकैद की सजा
Vidhan Sabha

Abhishek Gupta | Updated: 22 Jun 2019, 06:30:49 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

उत्तर प्रदेश में होने वाले विधान सभा उपचुनाव के लिए अब एक और सीट खाली हो गई है। अभी तक लोकसभा चुनाव में विजय विधायक बने सांसदों की संख्या 11 थी, लेकिन अब यूपी की हमीरपुर से एक विधायक की सदस्यता रद्द होने से यह संख्या 12 हो गई है।

हमीरपुर. उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा उपचुनाव के लिए अब एक और सीट खाली हो गई है। अभी तक लोकसभा चुनाव में यूपी से विधायक बने सांसदों की संख्या 11 थी, लेकिन अब यूपी की हमीरपुर सदर सीट से एक विधायक की सदस्यता रद्द होने से यह संख्या 12 हो गई है। सामूहिक हत्याकांड के आरोपी हमीरपुर से भाजपा विधायक अशोक सिंह चंदेल को आजीवन कारावास की सजा सुनाए जाने के बाद गुरुवार को उनकी विधायकी भी रद्द कर दी गई है, जिससे भाजपा खेमे में हड़कंप भी मच गया है। दरअसल कोर्ट द्वारा आजीवन कारवास की सजा सुनाए जाने के बाद यूपी के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल वेंकटेश्वर लू ने चंदेल की विधानसभा से सदस्यता रद्द करने के लिए विधानसभा प्रमुख सचिव व प्रमुख सचिव गृह को पत्र लिखा था। गुरुवार को इसे अमली जामा पहनाते हुए उनकी विधायकी रद्द कर दी गई। इस बात की अधिसूचना भी जारी की गई है जिसमें बताया गया है कि अब हमीरपुर विधानसभा क्षेत्र से अशोक सिंह चंदेल का स्थान 19 अप्रैल से रिक्त हो गया है। इसके चलते अब 12 सीटों पर विधानसभा उपचुनाव होगा। सभी 12 सीटों के बारे में बताने से पहले आप जान लें कि अशोक चंदेल से जुड़ा यह मामला आखिर था क्या।

ये भी पढ़ें- मुलायम सिंह यादव ने बुलाई बैठक, तो इस पर शिवपाल यादव ने दिया बड़ा बयान

Ashok Chandel

यह भी पढ़ें- यूपी मंत्री रहे इस रेप आरोपी पर आया हाईकोर्ट का बहुत बड़ा फैसला, यूपी की राजनीति में मचा हड़कंप

यह था मामला-
22 साल पूर्व 26 जनवरी 1997 को अशोक चंदेल और उसके साथियों ने राजीव शुक्ला के दो भाइयों व एक भतीजे सहित पांच लोगों की हत्या कर दी थी, जिसमें एक बच्ची भी शामिल थी। मामले में कुल 12 आरोपी थे जिनमें रुक्कू नाम के एक युवक को स्थानीय अदालत ने उम्रकैद की सजा सुनाई थी। वहीं एक अन्य आरोपी झंडू सिंह की मौत हो चुकी है। इस मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 19 अप्रैल, 2019 को अशोक सिंह चंदेल सहित 9 लोगों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। और पुलिस को 13 मई तक चंदेल को न्यायालय के समक्ष पेश करने के आदेश भी दिया थे। 14 मई को आखिरकार चंदेल ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया था, जिसके बाद उन्हें कारावास भेज दिया गया था।

ये भी पढ़ें- 7 विधायकों ने दिया इस्तीफा, 4 सांसदों को लेकर आई बड़ी खबर

Ashok Chandel

अब इन 12 सीटों पर होगा उपचुनाव-

लोकसभा चुनाव के बाद यूपी के 11 विधायक सांसद बने है, जिसके बाद उनकी विधानसभा सीटें रिक्त है। बताया जा रहा है कि 6 माह के बाद यूपी उपचुनाव हो सकता है। निम्न देखें खाली हुई 12 विधानसभा सीटें-

ये भी पढ़ें- मायातवी ने इन चार वजहों से तोड़ा गठबंधन, आखिर में सपा ने भी लिया बड़ा फैसला

- लखनऊ कैंट- यहां से रीता बहुगुणा जोशी भाजपा विधायक थी।
- फिरोजाबाद की टूंडला सीट- यहां से एसपी बघेल ने भाजपा विधायक थे।
- चित्रकूट की मानिकपुर सीट - यहां से आरके सिंह पटेल ने भाजपा विधायक थे।
- सहारनपुर की गंगोह सीट - यहां से भाजपा के प्रदीप चौधरी विधायक थे।

- अंबेडकर नगर की जलालपुर विधानसभा सीट - यहां से बसपा के रितेश पांडे विधायक थे।
- रामपुर सदर सीट- यहां से आजम खां सपा विधायक थे।

- प्रतापगढ़ सदर सीट- यहां से अपना दल (एस) के संगम लाल गुप्ता विधायक थे।

- बाराबंकी की जैदपुर विधानसभा सीट- यहां से उपेंद्र सिंह रावत भाजपा विधायक थे।
- बहराइच की बलहा (सु.) सीट - यहां से अक्षयवर लाल गोंड भाजपा विधायक थे।

- हाथरस की इगलास सीट - यहां से राजवीर सिंह दिलेर भाजपा विधायक थे।
- कानपुर की गोविंदनगर सीट - यहां से सत्यदेव पचौरी भाजपा विधायक थे।

- हमीरपुर सदर सीट- यहां से अशोक सिंह चंदेल भाजपा विधायक थे। जो अब कारावास में अपना जीवन बिता रहे हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned