भाजपा सांसद अंशुल वर्मा पर भाजपा नेता नरेश अग्रवाल का हमला- विरोध करने वाला सोच ले पहले अपना सियासी नुकसान

बीते दिनों मंदिर परिसर में शराब बांटे जाने के आरोप में भाजपा के वर्तमान सांसद अंशुल वर्मा ने सपा से भाजपा में शामिल हुए पूर्व सांसद नरेश अग्रवाल के खिलाफ सीएम योगी को पत्र लिख कार्रवाई की मांग की थी।

By: Abhishek Gupta

Published: 19 Jan 2019, 11:20 PM IST

हरदोई. बीते दिनों मंदिर परिसर में शराब बांटे जाने के आरोप में भाजपा के वर्तमान सांसद अंशुल वर्मा ने सपा से भाजपा में शामिल हुए पूर्व सांसद नरेश अग्रवाल के खिलाफ सीएम योगी को पत्र लिख कार्रवाई की मांग की थी। शनिावर को इस मामले में नरेश अग्रवाल ने खुलकर अंशुल वर्मा पर निशाना साधा है। अपनी ही पार्टी के सांसद अंशुल वर्मा के खिलाफ तीखे शब्दों के जरिये हमलावर हुए पूर्व राज्यसभा सांसद नरेश अग्रवाल ने कहा कि दलितों का अपमान मैंने नहीं किया बल्कि दलित विरोधी मानसिकता रखने वाले कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें- इस पूर्व सासंद ने अखिलेश यादव को दिया को कहा- चुनाव से पहले विलय कर दें तो अच्छा होगा

सांसद के बारे में तो मशहूर है कि 'सूर्य अस्त सांसद मस्त'-

नरेश अग्रवाल ने कहा कि जिनकों दलितों का सम्मेलन मंदिर परिसर में किया जाना नागवार गुजरा और जो विरोधी मानसिकता के हैं, उन्होंने सम्मेलन को लेकर अनर्गल प्रलाप किया। हरदोई में पत्रकारों से मुखातिब पूर्व राज्यसभा सांसद एंव BJP नेेेशनल कमेटी के मेंबर नरेश अग्रवाल ने सांसद अंशुल वर्मा पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि जिस व्यक्ति की छवि खुद ऐसी हो, वह दूसरों को नसीहत कैसे दे सकता। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि सांसद के बारे में तो मशहूर है कि 'सूर्य अस्त सांसद मस्त'।

ये भी पढ़ें- मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू ने भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ने पर कही यह बात

सोच ले कि उसका कितना सियासी नुकसान होगा-

नरेश अग्रवाल ने कहा कि यदि कोई मेरा व्यक्तिगत विरोध करेगा तो वह पहले अपने बारे में कुछ सोच ले कि उसका कितना सियासी नुकसान होने वाला है। उन्होंने कहा कि जिनके खुद के घर शीशे के होते हैं वह दूसरों पर पत्थर नहीं फेंकते हैं। उन्होंने मंदिर परिसर में शराब बांटे जाने की चर्चा को उनके विरोधियों की एक साजिश बताया।

BJP
Show More
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned