कोरोना वैक्सीन से महिलाओं को खतरा! दिख रहे खतरनाक साइड इफेक्ट

  • कोरोना (Corona Vaccine)की वैक्सीन का महिलाओं पर दिखा ज्यादा साइड इफेक्ट
  • शरीर में दर्द के साथ तेजी से हो रहा है त्‍वचा में संक्रमण
  • पुरुषों पर दिखा कम असर

By: Pratibha Tripathi

Updated: 10 Mar 2021, 10:56 PM IST

नई दिल्ली। दुनिया में कोरोना के कहर की तोड़ खोजी जा चुकी है वैक्सीनेशन का कार्य दुनिया के कई देशों में शुरू भी हो चुका है, लेकिन दुनियाभर से वैक्सीन के विषय में अलग-अलग खबरें भी सुनने को मिल रही है, सभी खबरों को देखें तो एक ही निशकर्ष निकल रहा है, और वह है कि कोरोना की वैक्सीन का महिलाओं पर ज्यादा साइड इफेक्ट देखने को मिल रहा है।

यह भी पढ़ें:- Corona virus: कोरोना से ठीक हो चुके लोग ना करें इन 7 संकेतों को नजरअंदाज, पड़ सकता है भारी

महिलाओं पर वैक्सीन का असर-

वैक्सीनेशन के बाद के असर पर काफी चर्चा है। खासकर महिलाओं पर इसके साइड इफेक्ट की चर्चा सबसे ज्यादा हो रही है। अमेरिका के पेंसिलवेनिया स्टेट कॉलेज में टेक्नीशियन के पद पर कार्यरत 44 वर्षीय शेली केंडेफी को मॉडर्ना की वैक्सीन दी गई और जैसे ही शेली को वैक्सीन की दूसरी डोज दी गई उनकी हालत खराब होने लगी। शाम होते-होते उनकी त्वचा में संक्रमण के लक्षण नज़र आने लगे, इसके बाद उन्हें फ्लू जैसा महसूस होने लगा।

पुरुषों पर कम दिखा असर-

शेली काफी परेशान महसूस कर रही थीं बावजूद इसके वे अगले दिन अपने ऑफिस गईं, और अपनी परेशानी के बारे में अपने सहयोगियों को बताया, उन्हें तब और भी हैरानी हुई जब यह पता चला कि उनके पुरुष सहयोगी महिलाओं की अपेक्षा कम परेशान हुए। कुल 8 पुरुषों को वैक्सीन की खुराक दी गई लेकिन उनमें से 4 लोगों में ही साइड इफेक्ट देखा गया, जबकि 7 महिलाओं में से 6 महिलाएं साइड इफेक्ट का शिकार हुईं।

यह भी पढ़ें:- कोरोना के बढ़ते मामले के बीच इस शख्स के कारनामें को देख लोग हो रहे है परेशान, बदला मॉस्क लगाने का तरीका

महिलाओं में दिखा ज्यादा साइड इफेक्ट-

अमेरिका के डीजीज कंट्रोल एण्ड प्रिवेंशन डिपार्टमेंट ने अमेरिका में लगे कुल 1.37 करोड़ टीकों का विश्लेषण किया इसके नतीजों से साफ हो गया है कि 79.1 फीसदी महिलाएं वैक्सीन के साइड इफेक्ट का शिकार हुई हैं, जबकि कुल वैक्सीन का महज 61.3 फीसदी हिस्सा ही महिलाओं को लगाया गया। शोधकर्ताओं की माने तो वैक्सीन लगने के बाद महिलाओं में हाइपरसेंस्टिविटी की शिकायत ज्यादा देखी गई। शोध में फाइज़र और मॉडर्ना के वैक्सीन में भी होने वाला साइड इफेक्ट अलग-अलग पाया गया।

Pratibha Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned