कोरोना से जिंदगी की जंग हार रहे थे पिता , बेटी ने 30 घंटे तक पिता से फोन पर की बात

  • कोरोना वायरस ( Coronavirus ) की मार झेल रहेे अमेरिका ( USA ) में एक बेटी ने अपने प‍िता से फोन पर 30 घंटे तक बात की।

By: Piyush Jayjan

Published: 23 Apr 2020, 01:53 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( coronavirus ) की वजह से कई परिवारों ने अपने करीबियों को खोया है। जब कई कोरोना मरीज जिंदगी मौत से जूझ रहे थे तब भी उनके करीबी किसी वजह से उनके साथ नहीं थे। जिसका मलाल कई लोगों के मन में अक्सर रहता है।

ऐसा ही कुछ एबी एडेयर रीनहार्ड ( Abby Adair Reinhard ) के साथ भी हुआ। एबी के पिता भी कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से न्‍यूयॉर्क में अस्पताल में भर्ती थे। वह अपने पिता के आखिरी पलों में उनसे बातें करना चाहती थीं। इस मुश्किल घड़ी में नर्स ने उनकी मदद की और अस्पताल के फोन से उनकी बात कराई।

पानी में तैरने वाला बंदर बना इंटरनेट सनसनी , जानें वायरल वीडियो के पीछे का असल सच

इस बातचीत की खास बात ये रही कि एबी ( Abby Adair Reinhard ) और उनके तीन भाई-बहन अपने पिता से तकरीबन 30 घंटे से अधिक समय तक बातें करते रहे। उन्होंने अपने पिता से तब तक बात की, जब तक उन्होंने अपनी आखिरी सांसें नहीं ले लीं।

 

एबी एडेयर रीनहार्ड ने बताया कि मुझे ये अच्छे से पता था कि मैं अपने पिता से आखिरी बार बात कर रही हूं। रीनहार्ड ने कहा, 'मैं उन्हें नहीं देख सकती थी, उनका हाथ नहीं छू सकती थी। लेकिन उनके आखिरी पलों में उनकी आवाज सुनना...मैं इसे बयां नहीं कर सकती।

फेक डिलीवरी ब्वॉय बनकर बेचने निकले थे दो मुंह वाला सांप, पुलिस ने दबोचा

उन्होंने बताया, 'ये 30 घंटे भी हमारे लिए बहुत कम थे। यह जानते हुए कि यह हमारी आखिरी बातचीत हो रही है। एडेयर रेइनहार्ड ने कहा कि उनके भाई-बहन पिता के साथ अपनी यादें साझा की। अपने पिता के लिए गाने गाए और अपने प्यार का इजार किया।

एबी एडेयर रीनहार्ड ने कहा कि हम इस दौरान बस अपने हर अच्छे पलों को साझा करना चाहते थे, लेकिन हम उनकी सांस से उनकी तकलीफों का अहसास कर सकते थे। फिर भी उनकी सांस सुनना हमें यह अहसास कराता था कि मेरे पिता ( Father ) अभी भी जीवित हैं।'

 

coronavirus COVID-19
Piyush Jayjan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned