वित्त आयोग निकाय , आर्थिक संगठनों से करेगा मुलाकात...सचिवालय में कल होगी बैठक

वित्त आयोग का दल जोधपुर से शनिवार रात जयपुर पहुंच गया और सोमवार तक रहेगा। वित्त आयोग अध्यक्ष एन के सिंह की अध्यक्षता में प्रदेश दौरे पर आया आयोग का दल आज अर्थशास्त्री, राजनेता, नगर पालिका—नगर निगम और पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों से मुलाकात करेगा। राज्य सरकार राजस्थान को पानी और कृषि पर विशेष सहायता दिलाने की गुहार करेगी। इसी के साथ केन्द्र सरकार की फ्लेगशिप कार्यक्रम के तहत आर्थिक सहायता और विशेष राज्य का दर्जा भी मांगेगी।

By: KAMLESH AGARWAL

Published: 08 Sep 2019, 08:05 AM IST

जयपुर।


वित्त आयोग का दल जोधपुर से शनिवार रात जयपुर पहुंच गया और सोमवार तक रहेगा। वित्त आयोग अध्यक्ष एन के सिंह की अध्यक्षता में प्रदेश दौरे पर आया आयोग का दल आज अर्थशास्त्री, राजनेता, नगर पालिका—नगर निगम और पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों से मुलाकात करेगा। राज्य सरकार राजस्थान को पानी और कृषि पर विशेष सहायता दिलाने की गुहार करेगी। इसी के साथ केन्द्र सरकार की फ्लेगशिप कार्यक्रम के तहत आर्थिक सहायता और विशेष राज्य का दर्जा भी मांगेगी।

आयोग का दल एसएमएस कन्वेन्शन सेंटर में अर्थशास्त्रियों से मुलाकात करेगा। इसके तुरंत बाद पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों के साथ बैठक होगी और फिर शहरी स्थानीय निकायों के प्रतिनिधियों के साथ विचार-विमर्श होगा। शाम को फिर कन्वेन्शन सेंटर में उद्योग और व्यापार जगत के प्रतिनिधियों से मुलाकात का कार्यक्रम है। इसके बाद आयोग के सदस्य विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बातचीत करेंगे। वहीं सोमवार को दौरे के अंतिम दिन राजस्थान शासन सचिवालय में आयोजित बैठक में आयोग के सदस्य मुख्यमंत्री और मंत्रिमंडल के अन्य के सदस्यों तथा वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों के साथ विचार विमर्श करेंगे। बैठक में वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव, मुख्य सचिव, वित्त आयोग के अध्यक्ष और मुख्यमंत्री का सम्बोधन होगा। जिसमें सरकार की ओर से प्रजेंटेशन दिया जाएगा और राज्य को विशेष दर्जा, आर्थिक पैकेज देने की मांग की जाएगी। मिली जानकारी के अनुसार राजय सरकार ने विशेष परिस्थितियां जैसे ज्यादातर हिस्सा रेगिस्तान, फसलें ठीक नहीं होने उद्योग ज्यादा नहीं होने का हवाला दे सकती है। इसी के साथ पानी की कमी है, गांव में रोजगार नहीं है। जलवायु का कृषि पर असर और आदिवासी इलाकों में भी अलग तरह की समस्याओं में गिरते जलस्तर, गरीबी, स्वास्थ्य व शिक्षा की स्थिति के आंकड़ों के आधार पर विशेष आर्थिक पैकेज मांगने की तैयारी कर रही है इसके लिए आंकड़ों को जुटाया गया है। राज्य सरकार पेजयल, स्वास्थ्य और शिक्षा के लिए अलग से आर्थिक पैकेज और राज्य को विशेष दर्जा देने की मांग करेगी। इसके लिए बीते एक पखवाडे से राज्य सरकार तैयारी कर रही है आंकड़े जुटाए गए हैं जिनके आधार पर प्रेजेंटेशन दिया जाएगा।

दो दिन जोधपुर रहा दौरा

शुक्रवार को दोपहर जोधपुर पहुंचे आयोग के दल ने शाम को मेहरागढ़ व बालसमंद झील देखने गए। दल ने जोधपुर में पेयजल आपूर्ति की जानकारी भी ली। इसके बाद दल ने आइआइटी सलाहकार द्वारा जोधपुर रिसर्जेंट प्लान पर प्रस्तुतीकरण कार्यक्रम में शामिल हुए। शनिवार को आयोग के दल जोधपुर के सालावास में सरकारी योजनाओं का निरीक्षण किया। आयोग अध्यक्ष एनके सिंह और उनकी टीम ने लूणी में अफसरों और लोगों से मुलाकात कर योजनाओं की हकीकत जानी। वित्त आयोग के अध्यक्ष एनके सिंह व उनकी टीम ने सालावास गांव में योजनाओं के क्रियान्वयन के बारे में जानकारी ली। गांव के तालाब व खादी उद्योग के काम पर ग्रामीणों और पंचायत समिति लूनी के विकास कार्यों की तारीफ की।


अपने चार दिवसीय प्रदेश दौरे पर आए 15वें वित्त आयोग का दल शनिवार शाम 7 बजे जोधपुर से जयपुर पहुंचा। जयपुर एयरपोर्ट पर सूचना जनसंपर्क राज्य मंत्री सुभाष गर्ग और राज्य के प्रमुख सचिव डीबी गुप्ता ने पुष्प भेंट कर आयोग के चेयरमैन एन.के. सिंह व उनके साथ आए दल के अन्य सदस्यों का स्वागत किया। इस मौके पर अतिरिक्त इस अवसर पर अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त निरंजन आर्य, वित्त सचिव बजट मंजू राजपाल एवं जिला कलक्टर जगरूप सिंह यादव भी उपस्थित थे।

KAMLESH AGARWAL Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned