scriptpatrika 40 under 40 power list | Patrika 40 under 40: पावर लिस्ट 2.0 के विजेताओं के नाम घोषित, देखें राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की पावर लिस्ट | Patrika News

Patrika 40 under 40: पावर लिस्ट 2.0 के विजेताओं के नाम घोषित, देखें राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की पावर लिस्ट

'पत्रिका 40 अंडर 40 पावर लिस्ट 2.0 में राजस्थान के 40 वर्ष तक के 40 प्रतिभाशाली लोगों ने अपनी काबिलियत से जगह बनाई है। पावर लिस्ट में हर वर्ग को शामिल किया गया है।

जयपुर

Updated: May 21, 2022 06:58:20 am

जयपुर। 'पत्रिका 40 अंडर 40 पावर लिस्ट 2.0 में राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के 40 वर्ष तक के 40—40—40 प्रतिभाशाली लोगों ने अपनी काबिलियत से जगह बनाई है। एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस, खेल, एंटरप्रेन्योर, साइंस एंड टेक्नोलॉजी, समाजसेवा, एंटरटेनमेंट और फैशन सहित 20 कैटेगरी में अपने हुनर से समाज में बदलाव करने वाली प्रतिभाएं विजेता रही हैं। राष्ट्रीय स्तर की जूरी की मदद से इन प्रतिभाओं का चयन किया गया है।
logo_under_40_1.jpg
राजस्थान पावर लिस्ट 2.0 के विजेताओं के नाम

1 .अवनि लेखरा, पद्मश्री (20 वर्ष) जयपुर
कैटेगरी: स्पोर्ट्स एंड ई गेमिंग
क्या किया: पैरालंपिक में दो पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला पैरा राइफल शूटर हैं। उन्होंने टोक्यो पैरालंपिक 2020 में 10 मीटर एयर राइफल में गोल्ड और 50 मीटर में ब्रांज मेडल जीता है। वह पद्मश्री एवं खेल रत्न से सम्मानित हैं।
2. नमित मेहता, आइएएस (37 वर्ष) पाली
कैटेगरी: एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस
क्या किया: वर्तमान में बतौर पाली जिला कलक्टर बेहतर प्रशासनिक प्रबंधन कर रहे हैं। कोरोना काल में जैसलमेर और बीकानेर में बेहतरीन प्रशासनिक प्रबंधन किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी यहां के कोविड प्रबंधन की सराहना की थी। जैसलमेर में नागरिक-सैन्य सहयोग बढ़ाने के लिए रूसी सरकार की ओर से सम्मानित हो चुके हैं। लोक सेवा एवं गुड गर्वर्नेंस के लिए राज्य स्तर पर पुरस्कृत हैं।
3. अभिजीत गुप्ता, (32 वर्ष) भीलवाड़ा
कैटेगरी: स्पोर्ट्स एंड ई गेमिंग
क्या किया: अभिजीत शतरंज में इंडिया ग्रांड मास्टर और अर्जुन अवॉर्डी हैं। विश्व जूनियर चैंपियन रह चुके हैं। पांच बार कॉमनवेल्थ में चैंपियन रहे हैं। कई दर्जन अंतरराष्ट्रीय पदक जीत चुके हैं।
4. त्रिभुवन सिंह राठौड़, (30 वर्ष) बाड़मेर
कैटेगरी: सोशल वर्क एंड पब्लिक वेलफेयर और एनजीओ
क्या किया: बाड़मेर के 57 शहीद परिवारों के लिए स्कूल शिक्षा, कॉलेज शिक्षा, हॉस्टल, कोचिंग, हॉस्पिटल सुविधा नि:शुल्क उपलब्ध करवा रहे हैं। जिले के 28 शहीद परिवारों को 5 लाख रुपए कीमत के भूखंड भामाशाहों के सहयोग से उपलब्ध करवाए। दो शहीद परिवारों को 40 साल बाद शहीद का दर्जा दिलवाया। शहीद परिवारों के साथ ही त्योहार मनाते हैं।
5. गौरवी सिंघवी, (19 वर्ष) उदयपुर
कैटेगरी: स्पोर्ट्स एण्ड ई गेमिंग
क्या किया: ओपन वाटर लॉन्ग डिस्टेंस स्वीमर हैं। वह अंडर 16 में विश्व स्तर पर इंगलिश चैनल में स्विमिंग करके रेकॉर्ड बना चुकी हैं। विभिन्न प्रतियोगिताओं में वह 43 गोल्ड, 19 सिल्वर जीत चुकी हैं। उन्होंने 15 साल की उम्र में 9 घंटे 22 मिनट में जुहू खार डंडा से गेटवे ऑफ इंडिया तक और हिंद महासागर में 47 किमी की दूरी तय करने का रेकॉर्ड बनाया है।
6. भवानी सिंह (आरएएस), (29 वर्ष) जोधपुर
कैटेगरी: एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस
क्या किया: ग्रामीण परिवेश से निकले भवानी सिंह ने सरकारी शिक्षक बनने के बाद आरएएस 2016 परीक्षा दी और राज्य में प्रथम रैंक हासिल की। बतौर जोधपुर के बिलाड़ा एसडीएम रहते बेहतर प्रशासनिक व्यवस्था के लिए गांव—गांव जाकर लोगों की समस्या सुनते और समाधान करवाए।
7. डॉ.कृति भारती, (33 वर्ष) जोधपुर
कैटेगरी: सोशल वर्क एंड पब्लिक वेलफेयर और एनजीओ
क्या किया: अब तक 43 बाल विवाह निरस्त करवा चुकी हैं। वहीं सैकड़ों बाल विवाह होने से रुकवाए हैं। हर साल बाल विवाह के खिलाफ जागरूकता अभियान चलाती हैं। महिलाओं को अधिकारों के प्रति जागरूक करती हैं।
8. हिमांशु गोयल, (39 वर्ष) जयपुर
कैटेगरी: प्रोफेशनल मैनेजमेंट स्किल
क्या किया: हिमांशु गोयल पेशे से सीए हैं। वह अंतरराष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन की राजस्थान विंग (प्रोफेशनल सेल) के अध्यक्ष, एसोचेम के नेशनल रियल स्टेट काउंसिल मेंबर हैं। लायंस क्लब, रोटरी क्लब समेत कई संस्थाओं के माध्यम से समाज सेवा के कार्यों से जुड़े हैं। शिक्षा के क्षेत्र में विशेष सहयोग करते हैं।
9. डॉ. शिवानी मंडा (26 वर्ष) जोधपुर
कैटेगरी: लिटरेचर,आर्ट एंड कल्चर
क्या किया: पेशे से एक डॉक्टर हैं और राम नाम के शब्दों की हिंदी टाइपोग्राफी करती हैं। उनकी कला को इंस्टाग्राम पर 5 मिलियन से अधिक यूजर्स देख चुके हैं। उनका नाम दो बार इंडिया बुक ऑफ रेकॉर्ड में शामिल किया जा चुका है। वह प्लास्टिक कचरा निस्तारण के लिए जागरूकता अभियान से जुड़कर 7 दिन में 101 कलाकृतियां बना चुकी हैं। अपनी कला के माध्यम से स्वच्छता के प्रति लोगों को जागरूक करती हैं।
10. रश्मि गोदारा, (36 वर्ष) जयपुर
कैटेगरी: प्रोफेशनल मैनेजमेंट स्किल
क्या किया: जलदाय विभाग में इंजीनियर हैं, पानी के भूमिगत रिसाव को नियंत्रित करके एलपीसीडी की खपत को कम किया है और अच्छे प्रेशर से घरों में जलापूर्ति का फॉर्मूला दिया। इससे आमजन को पर्याप्त पानी मिला और सरकारी धन की भी बचत हुई। उनके प्रयोग को विभागीय स्तर पर सराहा गया और कई जगह लागू भी किया गया।
11. गौरव बांकावत, आरएएस (36 वर्ष) जयपुर
कैटेगरी: एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस
क्या किया: तेरह साल की उम्र में एक दुर्घटना के बाद आरएएस गौरव बांकावत 24 साल से व्हीलचेयर पर हैं। इस अवधि में बिना कोचिंग उन्होंने आइएएस और आरएएस परीक्षा उत्तीर्ण की।वह सिविल सर्विस की तैयारी कर रहे युवाओं की मदद करते हैं।
12. दिव्या कुमारी जैन, (23 वर्ष) कोटा
कैटेगरी: एनर्जी एंड एनवायर्नमेंट
क्या किया: दस साल की उम्र से पर्यावरण संरक्षण के लिए जागरूकता अभियान चला रही हैं। पुरानी साडिय़ों से बने 50 हजार से अधिक थैले बांट चुकी हैं। राजस्थान के बजट के लिए इनसे सुझाव मांगे जाते हैं। कई राष्ट्रीय एवं राज्य स्तरीय पुरस्कार प्राप्त कर चुकी हैं। हाल ही में राष्ट्रीय युवा पुरस्कार 2018—19 जीता है।
13. रघुवेन्द्र सिंह, (28 वर्ष) जयपुर
कैटेगरी: एंटरटेनमेंट एण्ड फैशन
क्या किया: अंतरराष्ट्रीय नृत्य कलाकार हैं, इंटरनेशनल डांस चैंपियनशिप में गोल्ड मेडलिस्ट हैं। राजस्थान के गानों पर एक इंटरनेशनल डांस प्रतियोगिता में परफॉर्मेंस दी और विजेता रहे। राजस्थानी फिल्मों में बतौर डांस डायरेक्टर काम कर रहे हैं। 2019 में श्रेष्ठ कोरियोग्राफर का पुरस्कार जीत चुके हैं। राजस्थानी फिल्मों के प्रसार के लिए कलाकारों की मदद करते हैं।
14. धोली, (37 वर्ष) राजसमंद
कैटेगरी: एंटरटेनमेंट एण्ड फैशन
क्या किया: फैशन डिजाइनर हैं। ग्रामीण परिवेश की कम पढ़ी महिला होने के बावजूद धोली ने अपने बेटे की मदद से डिजाइनिंग और सिलाई सिखाने के लिए ऐप और यूट्यूब चैनल बनाया। वह ऐप पर जरूरतमंद औरतों को नि:शुल्क कोर्स सिखाती हैं। उनके यूट्यूब चैनल पर करीब 1.48 मिलियन फॉलोअर्स हैं।
15. डॉ.ज्योत्सना सिंह, (32 वर्ष) सुमेरपुर (पाली)
कैटेगरी: हेल्थ केयर
क्या किया: एनजीओ माइंड केयर फाउंडेशन के तहत मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता कार्यक्रम, सेमिनार करती हैं। गर्भ संस्कार (अजन्मा बच्चा बुद्धिजीवी), कैंसर (मनोदैहिक), माइंड डाइट और ब्रेन जिम (मन ही सब कुछ है) किताबें लिखी हैं। लोगों को मानसिक तौर पर स्वस्थ बनाने के लिए काम करती हैं। माइंड केयर रिसर्च सेंटर में बतौर साइंटिस्ट कार्यरत हैं।
16. वैभव जोशी, (36 वर्ष) झालावाड़
कैटेगरी: हेल्थ केयर
क्या किया: सरकारी अस्पताल में नर्सिंग अधिकारी हैं। कोविड काल में उल्लेखनीय कार्य किया। 15 सौ से अधिक मृतकों का अंतिम संस्कार करवाया। वैभव को कोविड काल में सराहनीय कार्य के लिए कई बार सम्मान मिला है। सरकारी चिकित्सा सुविधाओं का अधिक से अधिक लाभ जरुरतमंदों को दिलवाने में मदद करते हैं।
17. गौरी माहेश्वरी, (13 वर्ष) जयपुर
कैटेगरी: लिटरेचर, आर्ट एंड कल्चर
क्या किया: विभिन्न देशों के बच्चों को कैलिग्राफी सिखाई है। वह सबसे कम उम्र की कैलिग्राफी टीचर हैं। गौरी ने इंडिया बुक ऑफ रेकॉर्ड, एशिया बुक ऑफ रेकॉर्ड, इंटरनेशनल बुक ऑफ रेकॉर्ड में नाम दर्ज करवाया। वह चाइल्ड प्रोडिजी महिला नव प्रवर्तक पुरस्कार, बिजनेस रैंकर्स अवॉर्ड और प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से सम्मानित हो चुकी हैं।
18. प्रिंस तिवारी, (20 वर्ष) जयपुर
कैटेगरी: एजुकेशन
क्या किया: प्रिंस तिवारी रामचरितमानस के वैज्ञानिक दृष्टिकोण को भी समझाने के लिए वर्चुअल माध्यम से 'स्कूल ऑफ राम चलाते हैं। उन्होंने इस स्कूल में रामायण से जीवन प्रबंधन, तनाव मुक्ति, रामचरित मानस में विज्ञान विषयों पर तीन हजार से अधिक विद्यार्थियों को शिक्षित किया है। वह रामकथा आधारित रगमंच के लिए एक्टिंग भी सिखाते हैं। उनके स्कूल को हिन्द बुक ऑफ वल्र्ड रेकॉर्ड मिला है और कई मंचों पर सम्मानित किया गया है। स्वयं बीएचयू वाराणसी के विद्यार्थी हैं।
19. योगेन्द्र सिंह मेड़तिया, (31 वर्ष) बाली (पाली)
कैटेगरी: एग्रीकल्चर एंड रूरल बिजनेस
क्या किया: जैविक खेती करने वाले किसानों की आय बढ़ाने के लिए काम करते हैं। 150 से अधिक किसान परिवारों के 600 लोगों को प्रीमियम बाजारों से जोड़ा है। किसानों को प्रशिक्षण देते हैं। जिससे कई किसानों ने जैविक खेती शुरू की और अपनी कृषि आय बढ़ाई है।
20. नारायण लाल गुर्जर, (24 वर्ष) राजसमंद
कैटेगरी: एग्रीकल्चर एंड रूरल बिजनेस
क्या किया: 30 करोड़ लीटर से अधिक पानी बचाने में 5000 से अधिक किसानों की मदद की थी। कृषि में नवाचारों को राष्ट्रपति भवन और दिल्ली की एक एकेडमी ऑफ इंजीनियरिंग ने मान्यता दी हैं। क्लाइमेट लॉन्चपैड, नीदरलैंड्स की ओर से क्लाइमेट लॉन्चपैड फिनाले में 'सर्वश्रेष्ठ कार्बन टेक 2019 प्रौद्योगिकी पुरस्कार मिल चुका है।
21. अभिलाष मोदी, (31 वर्ष) भीलवाड़ा
कैटेगरी: एजुकेशन
क्या किया: इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेकेट्री ऑफ इंडिया (आइसीएसआइ), इंस्टीट्यूट ऑफ कॉस्ट अकाउंटेंट ऑफ इंडिया (आइसीएमएआइ) जैसे विभिन्न राष्ट्रीय संस्थानों में एक लाख से अधिक छात्रों को जीवन कौशल और व्यक्तित्व विकास सिखा रहे हैं। सामाजिक कार्यों एवं शैक्षणिक उपलब्धियों के लिए गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रेकॉर्ड, लिम्का बुक और 6 बार इंडिया बुक ऑफ रेकॉर्डस में शामिल हो चुके हैं। टीडीएक्स टॉक का हिस्सा रह चुके हैं।
22. जेनिस जोसेफ, (35 वर्ष) जोधपुर
कैटेगरी: स्पोर्ट्स एंड ई गेमिंग
क्या किया: एशियन पावर लिफ्टिंग गोल्ड मेडलिस्ट हैं, कॉमनवेल्थ में चार गोल्ड मेडल जीते, ओपन विश्व चैंपियनशिप में 10वीं रैंक, अरावली अवार्ड से सम्मानित। वर्तमान में रेलवे में कार्यरत हैं। युवा एथलीटस को पावर लिफ्टिंग के बारे में जानकारी देती हैं।
23. डॉ. प्राची गौड़, (33 वर्ष) जोधपुर
कैटेगरी: एजुकेशन
क्या किया: डॉ. प्राची गौड़ क्रिएटिव थिंक टैंक, कलाकार, नेता, उद्यमी, सॉफ्ट स्किल ट्रेनर, कॅरियर काउंसलर, शिक्षाविद्, क्रिएटिव सॉल्यूशन क्राफ्टर, ब्रांड प्लानर, आर्ट क्यूरेटर, सर्टिफाइड पायलट, टैरो कार्ड रीडर हैं। उन्होंने कई राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर के पुरस्कार प्राप्त किए हैं। युवाओं को देश—विदेश में बेहतर कॅरियर के लिए काउंसलिंग करती हैं।
24. संदीप कुमार स्वामी (30 वर्ष) चूरू
कैटेगरी: स्पोर्ट्स एंड ई गेमिंग
क्या किया: पैरा ओलंपियन हैं और राष्ट्रीय स्तर की एथलेटिक्स प्रतियोगिताओं में 23 पदक जीत चुके हैं। बधिर होने के बावजूद भी राष्ट्रीय—अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश का नाम रोशन किया है।
25. नीरज चौधरी, (37 वर्ष) जयपुर
कैटेगरी: स्पोर्ट्स एंड ई गेमिंग
क्या किया: आइएमएफ एवरेस्ट मैसिफ अभियान 2021 में टीम इंडिया के सदस्य रहे और माउंट एवरेस्ट फतह की। टीम आइएमएफ की इस उपलब्धि को हासिल करनेवाले पहले राज्य सेवाओं के सेवारत अधिकारी बने। जल संसाधन विभाग में सहायक निदेशक (एमआइएस) के रूप में कार्यरत हैं। अपने एफबी पेज 'पिंडाथॉन पर फिटनेस सेशन चलाते हैं और सेहतमंद रहने के टिप्स देते हैं।
26. साहिल भादवीया, (33 वर्ष) उदयपुर
कैटेगरी: एजुुकेशन
क्या किया: लंदन से डेटा एनालिटिक सलाहकार की नौकरी छोड़कर यूट्यूब चैनल पर अकाउंट्स और पर्सनल फाइनेंस मैनेजमेंट सिखाने के लिए ऑनलाइन पाठ्यक्रम शुरू किए। गत डेढ़ साल में यूट्यूब चैनल पर 3.35 लाख फॉलोअर्स हैं और दस हजार से अधिक छात्र ऑनलाइन पाठ्यक्रमों में दाखिला ले चुके हैं।
27. संगीता योगी (38 वर्ष) झुंझुनूं
कैटेगरी: स्पोर्ट्स एंड ई गेमिंग
क्या किया: ताइक्वांडो में एनआइएस कोच हैं। राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई मेडल जीत चुकी हैं। इनके मार्गदर्शन में 100 बच्चों को दक्षिण कोरिया से ब्लैक बेल्ट की डिग्री मिली। वर्तमान में लड़कियों को ताइक्वांडो और आत्मरक्षा की नि:शुल्क कोचिंग देती हैं।
28. अदविका सरूपरिया, (10 वर्ष) उदयपुर
कैटेगरी: स्पोर्ट्स एंड ई गेमिंग
क्या किया : शतरंज की इंटरनेशनल खिलाड़ी हैं। अदविका एशियन यूथ शतरंज चैंपियनशिप 2019 में सिल्वर मेडल जीत चुकी हैं और कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप 2019 में भाग लिया। इतनी कम आयु में राष्ट्रीय एवं राज्य स्तर की प्रतियोगिताओं में कई मेडल जीते हैं।
29. अजय सिंह, (34 वर्ष) झुंझुनूं
कैटेगरी: मिलिट्री पर्सनल/ डिफेन्स सर्विसेस/ मेडलिस्ट
क्या किया: अजय सिंह सीआरपीएफ में इंस्पेक्टर हैं। उन्होंने झारखंड में हुई नक्सलियों से मुठभेड़ में जवानों को बचाते हुए 10-10 लाख के दो इनामी नक्सलियों को मार गिराया। इसके लिए उन्हें पुलिस पदक के लिए चुना गया है। वर्तमान में वह प्राकृतिक आपदा में सेल्फ डिफेंस सिखा रहे हैं। हाल ही में हुए वीरता पदम विजेेता सम्मान समारोह में अजय सिंह को सीआरपीएफ डीजी ने प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया है।
30. अरीना खान, (28 वर्ष) जयपुर
कैटेगरी: सोशल मीडिया/न्यूज एंड मीडिया
क्या किया: अरीना समाचार पत्र वितरण का कार्य करती हैं। इसके साथ ही वह 'बेटी बचाओ' और 'बेटी पढ़ाओ' के लिए लोगों को जागरूक करती हैं। अरीना को 2016 में राष्ट्रपति भवन में हुए एक समारोह में'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' कार्यक्रम की पहली वर्षगांठ पर सम्मानित किया जा चुका है।
31. कौशल्या चौधरी, (26 वर्ष) जोधपुर
कैटेगरी: एंटरप्रेन्योर, डिजिटल एंटरप्रेन्योर एंड ई बिजनेस
क्या किया: ग्रामीण परिवेश के एक साधारण परिवार से निकलकर लाखों लोगों का सोशल मीडिया पर वैश्विक मंच बनाया। 'सीधी मारवाड़ी' यूट्यूब चैनल के माध्यम से राजस्थान एवं मारवाड़ी भाषा, पहनावे और संस्कृति के बारे में बताती हैं। वह ग्रामीण परिवेश की महिलाओं की जागरूकता के लिए भी कार्य करती हैं। उनके यूट्यूब चैनल करीब 10.4 लाख फॉलोअर्स हैं।
32. शुभम माहेश्वरी, (31 वर्ष) जयपुर
कैटेगरी: एंटरप्रेन्योर, डिजिटल एंटरप्रेन्योर एंड ई बिजनेस
क्या किया: आठ साल पहले 'बीइंग शेफ' कंपनी की स्थापना की। उनका उदे्श्य इसके माध्यम से लोगों को स्वस्थ रखना है। वह लोगों को हेल्दी फूड के बारे में बताते हैं। उन्होंने ऐसा उत्पाद विकसित किया है, जिसके जरिए 8 साल का बच्चा भी 5 मिनट में खाना बना सकता है।
33. डॉ. योगेन्द्र सिंह नरूका, (37 वर्ष)टोंक
कैटेगरी: एजुकेशन
क्या किया: शिक्षाविद, साहित्यकार, कलाविद् हैं। शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्यों के लिए राष्ट्रपति एवं राज्यपाल से सम्मानित हो चुके हैं। दो हजार से अधिक बधिर बच्चों को डेफ आर्ट मूवमेंट के माध्यम से कई कला व हुनर सिखा चुके हैं। टोंक के राहोल सरकारी स्कूल में प्रधानाचार्य है एवं प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी हैं।
34. श्रवण कुमार प्रजापत, (31 वर्ष) रतनगढ़ (चूरू)
कैटेगरी: एजुकेशन
क्या किया: शिक्षा विभाग में वरिष्ठ शारीरिक शिक्षक हैं। उन्होंने बतौर एथलीट चार बार नेशनल में गोल्ड जीते हैं। इनसे ट्रेनिंग ले चुकी 25 लड़कियां राष्ट्रीय स्तर और 'खेलो इंडिया' यूथ गेम्स में हैंडबॉल प्रतियोगिता में भाग ले चुकी हैं। इनके प्रशिक्षित तीन खिलाड़ी राष्ट्रीय स्तर पर कांस्य पदक और 100 से अधिक खिलाड़ी राज्य स्तर के टूर्नांमेंट खेल चुके हैं।
35.अभिषेक तनेजा, (39 वर्ष) अलवर
कैटेगरी: सोशल वर्क-पब्लिक वेलफेयर और एनजीओ
क्या किया: 'नेक कमाई' के नाम से एक समूह चलाते हैं। इस ग्रुप के तहत जरूरमंद लोगों की मदद, गरीब लड़कियों की शादी में सहायता, जरूरतमंदों को किराने का सामान उपलब्ध करवाते हैं। कोरोना काल में हजारों लोगों को कई दिनों तक भोजन वितरित किया। इनका समूह जरूरतमंद छात्राओं को शिक्षण के लिए मदद भी करता है।
36. शिवा गौर,(28 वर्ष) जयपुर
कैटेगरी: वुमन अपलिफ्टमेंट
क्या किया: पेशे से एडवोकेट और सीएस हैं। एक इंटरनेशनल एनजीओ की एंटी सेक्सुअल विंग से जुड़ी हैं और अब तक सेक्सुअल हरेसमेंट के 87 केस नि:शुल्क लड़ चुकी हैं। सभी लॉ कॉलेज और संस्थानों में वुमन एम्पावरमेंट से जुड़े सेशन लेती हैं और म हिलाओं को मदद भी करती हैं। रोटरी क्लब से जुड़कर भी महिलाओं को जागरूक करती हैं।
37.भावना पालीवाल, (33 वर्ष) राजसमंद
कैटेगरी: वुमन अपलिफ्टमेंट
क्या किया: महिलाओं के सुरक्षा, शारीरिक स्वच्छता के लिए 11 साल से काम कर रही हैं। अब तक 50 हजार से अधिक महिलाओं को सेनेटरी पैड बांट चुकी हैं। मासिक धर्म के बारे में जानकारी देने के लिए 300 से अधिक कार्यशालाएं कर चुकी हैं, इस अभियान से 4 हजार से अधिक महिलाओं को जोड़ा है।
38. उपासना शर्मा, (21 वर्ष) अलवर
कैटेगरी: वुमन अपलिफ्टमेंट
क्या किया: उपासना शर्मा यूट्यूबर है। अपने चैनल पर फ्री अंग्रेजी क्लासेज चलाती हैं। इससे जुड़कर कई लोग अंग्रेजी सीख चुके हैं और कॅरियर बना रहे हैं। उनके चैनल को सिल्वर बटन मिल चुका है। इनके चैनल पर सात लाख सब्सक्राइबर हैं।
39. अक्षय पाटनी, (26 वर्ष) भीलवाड़ा
कैटेगरी: मार्केटिंग एंड एडवरटाइजिंग
क्या किया: वर्ड प्रेस की ओर से 2017 में सर्वश्रेष्ठ एसईओ मार्केटिंग विशेषज्ञ के रूप में सम्मानित किया गया। उन्होंने 19 साल की उम्र में एक उद्यमी, सलाहकार, वक्ता और प्रशिक्षक के रूप में शुरुआत की थी। वह एक कंपनी के संस्थापक और सीईओ के रूप में काम कर रहे हैं और अपनी कंपनी को भारत, यूएई, यूएसए, यूके में डिजिटल मार्केटिंग के माध्यम से आगे बढ़ा रहे हैं। अपने क्षेत्र के युवाओं को मार्केटिंग में कॅरियर के टिप्स देते हैं और रोजगार के अवसर मुहैयार करवाते हैं।
40. निमित जैन, (36 वर्ष) कोटा
कैटेगरी: मार्केटिंग एंड एडवरटाइजिंग
क्या किया: निमित जैन मार्केटिंग एवं वित्तीय सलाहकार हैं। वह आइटी और डिजिटल कंसल्टेंसी, डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में सैकड़ों लोगों को प्रशिक्षित कर चुके हैं। निमित ऑस्ट्रेलिया-भारत विश्वविद्यालय युवा मंच में भारत की 32 सदस्यीय टीम का हिस्सा रह चुके हैं।
..........................................................
मध्यप्रदेश पावर लिस्ट 2.0 के विजेताओं के नाम
1. दिलीप कुमार यादव, आईएएस (36 वर्ष) भोपाल
कैटेगरी: एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस
क्या किया: कोरोना काल में जिले की प्रशासनिक व्यवस्था को सुचारू ढंग से संचालित किया, इस दौरान किए गए ऑक्सीजन टैंकर परिवहन को काफी सराहा गया। दिलीप कुमार आमजन की समस्याओं के तत्काल निदान और बेहतर कानून व्यवस्था पर जोर देते हैं।
2. प्रदीप शर्मा, आईपीएस (32 वर्ष) भोपाल
कैटेगरी: एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस
क्या किया: मध्यप्रदेश और राजस्थान में प्रचलित नातरा और झगड़ा जैसी कुप्रथा से मुक्ति के लिए जागरूकता फैलाई और अभियान चलाए। प्रभावित क्षेत्रों में अभियान के माध्यम से सैंकड़ों मामले दर्ज किए। पीडि़त महिलाओं के पुनर्वास के लिए छात्रावास की स्थापना, आरएसईटीआई/आईटीआई के माध्यम से रोजगारोन्मुख प्रशिक्षण के लिए काम किया। गरीबों की तत्काल कानूनी मदद और कानून व्यवस्था की पालना पर जोर देते हैं।
3. अरविंद कुमार मिश्रा (36 वर्ष) रीवा
कैटेगरी: एनर्जी एंड एनवायर्नमेंट
क्या किया: अक्षय ऊर्जा को बढ़ाने और उसके प्रति जागरूकता लाने के लिए कार्य करते हैं। अक्षय ऊर्जा संसाधनों, हरित अर्थव्यवस्था के विभिन्न अभिकरणों जैसे वन नेशन वन गैस ग्रिड, हरित ऊर्जा कॉरिडोर, जैव अपशिष्ट ऊर्जा आत्मनिर्भरता के लिए ऊर्जा एवं जलवायु न्याय विषय पर सौ से अधिक आलेख लिखे हैं। अरविंद सौर ऊर्जा के लिए जागरूकता सेमिनार भी करते हैं।
4. अमन शाह (25 वर्ष) इंदौर
कैटेगरी: एंटरटेनमेंट एंड फैशन
क्या किया: अमन शाह कॉस्टयूम स्टाइलिस्ट और फैशन डिजाइनर हैं। वह दुबई और भारत में हुए फैशन वीक का हिस्सा रहे हैं। उन्होंने राजस्थान हैरीटेज फैशन वीक 2015 में आयोजित किया था। मॉडलिंग में उभरते युवाओं को मंच देने के लिए हर साल इंदौर में फैशन शो आयोजित करते हैं। अमन कई मंचों पर सम्मानित हो चुके हैं।
5. नवीन पांचाल (27 वर्ष) इंदौर
कैटेगरी: एंटरटेनमेंट एंड फैशन
क्या किया: नवीन कंटेंट क्रिएटर हैं। 'बेहतरीन इंदौरी' नाम से कॉमेडी यूट्यूब चैनल चलाते हैं। इसके डेढ़ लाख सब्सक्राइबर हैं। यूट्यूब चैनल को इंदौर से कॉमेडी कैटेगरी में पहला सिल्वर बटन मिल चुका है। वह डांस कोरियोग्राफर भी हैं। कॉमेडी एवं डांस के क्षेत्र से जुड़े युवाओं की मदद करते हैं। अपने चैनल के माध्यम से अभिनय का मौका देते हैं और प्रतिभाओं को प्रदर्शन के लिए राष्ट्रीय स्तर के प्लेटफार्म की जानकारी देते हैं। राष्ट्रीय स्तर पर मशहूर कोरियोग्राफर स्व.सरोज खान से 2015 में पुरस्कार प्राप्त किया था। हाल ही में एक टैलेंट हंट कॉम्पटिशन में कॉमेडी कैटेगरी में विनर रहे हैं।
6. जनमेजय सिंह (32 वर्ष) भोपाल
कैटेगरी: सोशल वर्क एंड पब्लिक वेलफेयर एंड एनजीओ
क्या किया: फिल्म निर्माता एवं कहानीकार हैं। जय जगत ग्लोबल पीस कैंपेन 2020-30 और 2019-20 में दिल्ली से जिनेवा की पैदल यात्रा की। इनकी फिल्मों को दादा साहेब फाल्के लघु फिल्म महोत्सव समेत मंचों पर प्रदर्शित किया गया।
7. डॉ. अनिल कुमार उपाध्याय (37 वर्ष) भोपाल
कैटेगरी: सोशल वर्क एंड पब्लिक वेलफेयर एंड एनजीओ
क्या किया: 1,25,000 छात्र-छात्राओं के साथ 'आओ जानें मध्यप्रदेश' प्रतियोगिता का आयोजन कर गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रेकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करवाया। साथ ही एशिया बुक रेकॉर्ड, इंडिया बुक रेकॉर्ड नेशनल लिटरेसी अवॉर्ड समेत कई पुरस्कार प्राप्त किए हैं। शिक्षा और पर्यावरण व स्वास्थ्य विषय पर काम करते हैं।
8. आयुष कटारे 22 वर्ष, विदिशा
कैटेगरी: सोशल वर्क एंड पब्लिक वेलफेयर एंड एनजीओ
क्या किया: आयुष एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं। उन्होंने कोरोना काल में जरूरतमंदों को भोजन, मेडिकल सुविधाएं मुहैया करवाई। करीब तीन साल से सामाजिक सेवा के कार्यों से जुड़े हैं। एक ब्लड डोनर ग्रुप के माध्यम से जरुरतमंदों को रक्तदान करवाते हैं।
9. कोमल करे जोशी (39 वर्ष) इंदौर
कैटेगरी: वुमन अपलिफ्टमेंट
क्या किया: ट्रेवल्स ग्रुप चलाती हैं। 'इनमो' के नाम से चल रहे इस ग्रुप में 43 हजार महिलाएं जुड़ी हैं। इस ग्रुप की महिला सदस्य आपस में मदद करती हैं। कोमल को इंडो ग्लोबल एसएमई चैंबर से 'वुमेन इन बिजनेस अवार्ड','शी इज द लीडर' सम्मान मिल चुका है।
10. आरती साहनी (35 वर्ष) इंदौर
कैटेगरी: वुमन अपलिफ्टमेंट
क्या किया: महिलाओं को सशक्त करने के लिए कम लागत में चॉकलेट उद्योग समेत छोटे घरेलू उद्योग से व्यापार करना सिखाती हैं। वह केवल 1000 रुपए में व्यवसाय शुरू करने के लिए मुफ्त शिक्षा देती हैं। आरती ने वीडियो, लाइव सेशन एवं सोशल मीडिया नेटवर्किंग के माध्यम से हजारों महिलाओं को जोड़ा। उनसे प्रशिक्षण एवं मदद लेकर सैंकड़ों घरेलू महिलाओं ने खुद का व्यवसाय शुरू किया है।
11. डॉ. यशविनी राठौर (29 वर्ष) इंदौर
कैटेगरी: हेल्थकेयर
क्या किया: डेंटल सर्जन हैं। डॉक्टर्स एसोसिएशन प्रतिष्ठित पुरस्कार 'फैमडेंट एक्सीलेंस इन डेंटिस्ट्री अवार्ड और इंडियन हेल्थ प्रोफेशनल अवार्ड द्वारा राष्ट्रीय पुरस्कार समेत कई बार मंचों पर सम्मानित हो चुकी हैं। कोरोना काल में सेवाओं के लिए एनआरएचएम इंदौर की ओर से कोरोना वॉरियर के रूप में सम्मानित किया गया।
12. शान (31 वर्ष) भोपाल
कैटेगरी: एनर्जी एंड एनवायर्नमेंट
क्या किया: जलवायु एवं प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण के लिए काम करती हैं। मिस इंडिया अर्थ 2017 रह चुकी हैं। प्लास्टिक कचरा प्रबंधन, जैव विविधता संरक्षण पर जागरूकता के लिए काम करती हैं। पर्यावरण जागरूकता के लिए उन्हें डॉ.किरण बेदी के नवज्योति इंडिया फाउंडेशन द्वारा 2018 में 'यूथ आइकन ऑफ द ईयर' से सम्मानित किया गया। वह पुर्तगाल, सऊदी अरब, थाइलैंड समेेत कई देशों में विभिन्न संगठनों का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं।
13. भागवत प्रसाद पांडे (34 वर्ष) सीधी
कैटेगरी: एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस
क्या किया: भागवत प्रसाद ने यातायात पुलिस प्रभारी रहते कोरोनाकाल में अनोखे और मनोरंजक ढंग से लॉकडाउन की पालना करवाई, जिससे महामारी के दौर में लोगों को मानसिक राहत मिली। लॉकडाउन में आमजन की हर समस्या के समाधान के लिए एक हेल्प लाइन नंबर भी जारी किया। वर्तमान में यातायात उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों के वाहन का कमी पाए जाने पर मौके पर इंशोरेंस, हेलमेट की खरीद और प्रदूषण जांच करवातेे हैं। उल्लेखनीय कार्यों के लिए कई बार सम्मानित हो चुके हैं।
14. प्रदीप सिंह बघेल (31 वर्ष) शहडोल
कैटेगरी: एग्रीकल्चर एंड रूरल बिजनेस
क्या किया: करीब 10 हजार छोटे एवं सीमांत किसानों के साथ मुनगा/सहजन के पत्ती का स्वरोजगार स्थापित किया और इससे महिलाओं को जोड़ा। प्रदीप के प्रयासों से संभाग स्तर पर हजारों किसानों से मुनगा पत्ती खरीदी हुई। अब यहां के किसान मुनगा पत्ती की खेती कर रहे हैं। अन्य राज्य व अन्य जिले से भी किसान यहां के मॉडल को देखने एवं सीखने आ रहे हैं।
15. गौरव दीवान (36 वर्ष) अशोक नगर
कैटेगरी: एग्रीकल्चर एंड रूरल बिजनेस
क्या किया: किसानों को कृषि में नए-नए प्रयोग एवं आधुनिक तरीकों से कृषि आय बढ़ाने के तरीके बताते हैं। गौरव ने इलेक्ट्रोनिक इंजीनियरिंग में पढ़ाई की। आधुनिक तरीके से खेती की और लाखों की पैदावार की। उनके आधुनिक तरीकों की जानकारी लेकर किसान अपनी आय भी बढ़ा रहे हैं और नए—नए प्रयोग कर हैं।
16. सावन लड्ढा (39 वर्ष) इंदौर
कैटेगरी: एन्टरप्रेन्योर, डिजिटल एंटरप्रेन्योर एंड ई-बिजनेस
क्या किया: यंग इंटरप्रेन्योर हैं, 'वर्की' कंपनी के नाम से स्टार्टअप चला रहे हैं। इनकी कंपनी टीयर टू सिटीज में ऑफिस स्पेस उपलब्ध करवाने वाली देश की प्रमुख कंपनियों में है। इन्होंने नए रोजगार के अवसर तैैयार किए हैं और देश के 20 शहरों में नए स्टार्टअप के लिए मदद करते हैं। इंदौर में इंदौर सुपर स्टार्टअप, स्टार्ट इन इंदौर इन्वेस्ट, इंदौर स्टार्टअप कॉनक्लेव जैसे प्रोग्राम आयोजित किए हैं।
17. नीति सिंघल (34 वर्ष) इंदौर
कैटेगरी: एंटरप्रेन्योर डिजिटल एंटरप्रेन्योर एंड ई बिजनेस
क्या किया : नीति सिंघल कपड़ों के ब्रांड 'ट्वीइनवन' की संस्थापक और डिजाइनर हैं। इन कपड़ों का डबल यूज कर सकते हैं। सोनी टीवी के शो शार्क टेंक के एपिसोड में आ चुकी हैं। स्टार्टअप के लिए नए लोगों सुझाव देती हैं और मदद करती हैं।
18. रोहित बसंत वैशाखी (23 वर्ष) सैंदवा (बड़वानी)
कैटेगरी: एंटरटेनमेंट एंड फैशन
क्या किया: आदिवासी संस्कृति और विरासत को लोगों तक पहुंचाने के लिए प्रोडक्शन हाउस शुरू किया। इनके यूट्यूब चैनल पर 2 लाख से अधिक सब्सक्राइबर हैं। अपने यूट्यूब चैनल के माध्यम से आदिवासी संस्कृति का प्रसार कर रहे हैं।
19. सन्नी वाधवानी (29 वर्ष) इंदौर
कैटेगरी: एंटरप्रेन्योर डिजिटल एंटरप्रेन्योर एंड ई बिजनेस
क्या किया : सन्नी इंदौर के 15 टॉप इन्फ्लुएंसर्स के रूप में सम्मानित हो चुके हैं। डिजिटल मार्केटिंग कॉन्क्लेव के सुपर 30 में इंदौर के सबसे कम उम्र के डिजिटल उद्यमी रह चुके हैं। साइबर धोखाधड़ी से लोगों को जागरूक करते हैं और बचाव के तरीके एवं टूल्स बताते हैं।
20. लुनेत खान (38 वर्ष) इंदौर
कैटेगरी: एंटरटेनमेंट एंड फैशन
क्या किया : फैशन डिजाइनर हैं। फैशन के मनोवैज्ञानिक पहलू, ग्रूमिंग एक्सपर्ट के रूप में काम करती हैं। प्रशिक्षण कार्यक्रमों के तहत डॉक्टर, शिक्षक, मार्केटिंग एक्जीक्यूटिव, घरेलू महिलाएं को फैशन के बारे में सलाह और फैशन टिप्स देती हैं।
21. अनुष्का भाटिया (26 वर्ष) जबलपुर
कैटेगरी: एन्टरप्रेन्योर, डिजिटल एंटरप्रेन्योर एंड ई बिजनेस
क्या किया: अनुष्का भाटिया बैम्बू चारकोल से स्किनकेयर उत्पाद बनाती हैं। यह उनका नया प्रयोग था, जो काफी पसंद किया जा रहा है। उन्होंने ग्रीन बैम्बू चारकोल टेक्नोलॉजी से साबुन, शैंपू और कई प्रोडेक्ट बनाकर स्टार्टअप शुरू किया और कई महिलाओं को रोजगार दिया। उनके स्टार्टअप को कई मंचों पर सराहा गया है।
22. डॉ. अंकित थोरा (35 वर्ष) इंदौर
कैटेगरी: हेल्थकेयर
क्या किया: मेडिकल कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर हैं। इन्होंने ऑल इंडिया प्री पीजी परीक्षा में 57वीं रैंक एवं मध्यप्रदेश में प्रथम रैंक हासिल की। नि:शुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर लगाते हैं और जरुरतमंदों की इलाज में मदद करते हैं।
23.डॉ. शिराली रूनवाल (27 वर्ष) ग्वालियर
कैटेगरी: हेल्थकेयर
क्या किया: महिलाओं में एनीमिया की रोकथाम पर इनके शोध को राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली। डॉ.शिराली ने एमबीबीएस कोर्स में 37 गोल्ड मेडल हासिल किए हैं। बेटा-बेटी में भेद मिटाने के लिए डॉ.शिराली ने मुहिम चलाई। जिसे काफी सराहा गया।
24. डॉ. सूर्यांश दिल्लीवाल (38 वर्ष) इंदौर
कैटेगरी: हेल्थकेयर
क्या किया: डेंटिस्ट हैं, हॉर्वर्ड यूनिवर्सिटी कैंब्रिज में वर्कशॉप कर चुके हैं। कैंसर की नि:शुल्क जांच के लिए शिविर लगाते हैं और कैंसर पीड़ितों को बचाव के तरीके और सही इलाज के लिए राय देते हैं। जरुरतमंदों की इलाज के लिए आर्थिक मदद भी करवाते हैं।
25. श्रेयांश भंडारी (25 वर्ष) मनासा (नीमच)
कैटेगरी: हेल्थकेयर
क्या किया : श्रेयांश का संगठन स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में काम करता है। जरूरतमंदों को व्हील चेयर, आक्सीजन सिलेंडर, मिनी वेंटीलेटर, एयरबैड, आक्सीजन कंसंटेटर समेत कई उपकरण नि:शुल्क बांटते हैं। ये उपकरण उपयोग के बाद वापस लेकर अन्य जरुरतमंद को देते हैं। कोविड के दौरान भी इन्होंने सैंकड़ों रोगियों की मदद की थी।
26. विक्रम सिंह तोमर (38 वर्ष) गुना
कैटेगरी: एजुकेशन
क्या किया: बैंकिंग सेक्टर में नौकरी छोड़कर कोचिंग कक्षाएं शुरू की। गरीब छात्रों के लिए मुफ्त कक्षाएं चलाते हैं, उन्हें कंप्यूटर लैब में इंटरनेट, लैपटॉप प्रोजेक्टर की सुविधा भी देते हैं।
27. रक्षा गोयल केडिया (34 वर्ष) इंदौर
कैटेगरी: हेल्थकेयर
क्या किया : स्पोट् र्स न्यूट्रीशियन, डाइट थैरेपिस्ट, डायबिटिक एडयूकेटर हैं। राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इनके कई शोध पत्र प्रकाशित हो चुके हैं। पोषण स्वास्थ्य के लिए शिविर लगाती हैं, लोगों को परामर्श देती हैं।
28. प्रकल्प मत्था जैन (35 वर्ष) इंदौर
कैटेगरी: फाइनेंस कॉमर्स मैन्युफेक्चरिंग एंड इंडस्ट्री
क्या किया : 1000 से अधिक एमएसएमई और युवा उद्यमियों को प्रशिक्षित किया। समावेशी विकास फाउंडेशन की स्थापना की, जिसके माध्यम से युवा उद्यमियों की मदद करते हैं।
29. राहुल चोपड़े (20 वर्ष) छिंदवाड़ा
कैटेगरी: लिटरेचर आर्ट एंड कल्चर
क्या किया: रूबिक मैजिक आर्टिस्ट हैं। यूट्यूब चैनल चलाते हैं। बीस लाख से ज्यादा सब्सक्राइबर हैं। नि:शुल्क रूबिक सिखाते हैं।
30. ज्योति भदौरिया (21 वर्ष) ग्वालियर
कैटेगरी: लिटरेचर आर्ट एंड कल्चर
क्या किया: सौ से अधिक भाषाएं बोलती हैं, इंडिया बुक ऑफ रेकॉर्ड और एशिया बुक ऑफ रेकॉर्ड में नाम दर्ज करवा चुकी हैंं।
31. श्रेया खंडेलवाल (18 वर्ष) जबलपुर
कैटेगरी: सोशल वर्क एंड पब्लिक वेलफेयर एंड एनजीओ
क्या किया: स्वच्छ भारत मिशन, जबलपुर नगर निगम के ब्रांड एंबेसडर हैं। राष्ट्रीय बालश्री सम्मान प्राप्त हैं। रक्तदान, अंगदान, पर्यावरण जैसे सामाजिक कार्यों से जुड़ी हैं।
32. भावना डेहरिया (30 वर्ष) भोपाल
कैटेगरी: स्पोर्ट्स एंड ई गेमिंग
क्या किया : पर्वतारोही भावना डेहरिया ने 22 मई 2019 को विश्व की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट के शिखर पर तिरंगा फहराकर प्रदेश की पहली महिला बनने का गौरव हासिल किया।
33. प्रत्यूष मिश्रा (31 वर्ष) इंदौर
कैटेगरी: प्रोफेशनल एंड मैनेजमेंट स्किल
क्या किया: पेशे से वकील हैं, भोजन और आश्रय के अधिकार, विस्थापन, श्रम अधिकार, पर्यावरण व बाल अधिकारों सहित मौलिक अधिकारों के मुद्दों पर काम करते हैं।
34. तरुण कुमार सूर्यवंशी (30 वर्ष) छिंदवाड़ा
कैटेगरी: सोशल वर्क एंड पब्लिक वेलफेयर एंड एनजीओ
क्या किया: जरूरतमंदों की मदद करते हैं। रक्तदान शिविर लगाते हैं। सैकड़ों लोगों की मदद कर चुके हैं।
35. मोहम्मद सोहेल खान (22 वर्ष) सागर
कैटेगरी: स्पोर्ट्स एंड ई गेमिंग
क्या किया : वर्ष 2017 में अंतरराष्ट्रीय एथलीट जूनियर कूडो वर्ल्ड चैंपियन और नौ बार नेशनल चैंपियन रह चुके हैं। कबड्डी, वॉलीबाल के भी नेशनल प्लेयर हैं।
36. आकाश चौरसिया (33 वर्ष) सागर
कैटेगरी: एग्रीकल्चर एंड रूरल बिजनेस
क्या किया: आकाश जैविक खेती तकनीक ट्रेनर हैं। उन्होंने लाखों किसानों को खेती के नवाचार सिखाए हैं और 300 से अधिक कैमिकल फ्री फार्मिंग मॉडल विकसित किए हैं। 10 हजार इंटरप्रेन्योर किसानों को ट्रेंड किया है। शहरों में जाकर साप्ताहिक प्रशिक्षण देते हैं।
37. शक्ति पटेल (33 वर्ष) मांडला
कैटेगरी: एजुकेशन
क्या किया: कोरोनाकाल में स्टूडेंट्स को 150 से अधिक स्टडी मेटेरियल प्रोवाइड करवाए। इसके लिए 2021 का राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार मिला। पौधरोपण, नदियों के संरक्षण, साहित्य संरक्षण के लिए काम करते हैं।
38. अवधेश सिंह भदौरिया (28 वर्ष) भिंड
कैटेगरी: एजुकेशन
क्या किया: पिछले छह साल से नि:शुल्क शिक्षा दे रहे है, यूटयूब चैनल पर प्रतियोगी परीक्षा के लिए कंटेंट उपलब्ध करवाते हैं। चैनल के 4.33 लाख सब्सक्राइबर हैैं।
39. डॉ. अर्चना शुक्ला (38 वर्ष) सतना
कैटेगरी: एजुकेशन
क्या किया: वाइल्ड लाइफ, नेचर और शिक्षा के लिए काम करती हैं। वह उल्लेखनीय कार्यों के लिए राज्यपाल से स्टेट लेवल टीचर्स अवार्ड, ग्लोबल वुमन इंस्पायरिंग अवार्ड समेत कई पुरस्कारों से सम्मानित हो चुकी हैं।
40. स्वाति जवेरी (35 वर्ष) इंदौर
कैटेगरी: एजुकेशन
क्या किया: गरीब बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा देती हैं। सक्षम आइक्यू प्रोग्राम शुरू किया, जिससे मूक और बधिर बच्चों को शिक्षा देना आसान हुआ।
---------------------
छत्तीसगढ़ पावर लिस्ट 2.0 के विजेताओं के नाम
1. दीपक सोनी (37 वर्ष) दंतेवाड़ा
कैटेगरी: एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस
क्या किया: दंतेवाड़ा जिला कलेक्टर रहते नक्सली क्षेत्र में आमजन की समस्याओं के समाधान के लिए योजनाएं शुरू कीं। स्थानीय लोगों को पारंपरिक कौशल और प्रतिभाओं को स्थायी आजीविका से जोड़ा है।
2. सबा अंजुम (पद्मश्री) (37 वर्ष) दुर्ग
कैटेगरी: स्पोर्ट्स एंड ई गेमिंग
क्या किया: सबा भारतीय हॉकी टीम की खिलाड़ी रही हैं। एशियाइ खेल, एशिया कप, राष्ट्रमंडल खेलों में भारत का प्रतिनिधित्व किया है। पद्मश्री एवं अर्जुन अवार्डी इंटरनेशनल हॉकी प्लेयर हैं। वर्तमान में छत्तीसगढ़ पुलिस में एडिशनल एसपी हैं।
3. संदीप सिन्हा (27 वर्ष) इंदरगढ़
कैटेगरी: साइंस एंड टेक्नोलॉजी
क्या किया: यूट्यूबर हैं। इनके चैनल पर करीब 47.9 लाख सब्सक्राइबर हैं। अपने चैनल फैक्ट ट्यूब पर नए जमाने का इन्र्फोमेटिव कंटेंट देते हैं, जो कि भविष्य से जुड़ी टेक्नोलॉजी और साइंस की जानकारी बढ़ाने में मददगार साबित हो रहा है।
4. डॉ. सुकृति अरोड़ा (29 वर्ष) दुर्ग
कैटेगरी: हेल्थ केयर
क्या किया : हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के सम्मेलन में भाग ले चुकी हैं। डॉ. सुकृति डर्मोलॉजिस्ट हैं। जागरूकता शिविरों में भाग लेती हैं और वहां नि:शुल्क परामर्श देती हैं।
5. डॉ. शिखा वर्मा कश्यप (35 वर्ष) रायपुर
कैटेगरी: एजुकेशन
क्या किया: डॉ. शिखा मैकेनिकल इंजीनियरिंग से डॉक्टरेट हैं। इनके शोधपत्र कई राष्ट्रीय-अंतराष्ट्रीय पत्रिकाओं में प्रकाशित हो चुके हैं। वह औद्योगिक क्षेत्रों में सुरक्षा पर काम कर रही हैं। इससे श्रमिकों को लाभ मिल रहा है।
6. आर्या नंदे (21 वर्ष) शारनगढ़-बिलाईगढ़
कैटेगरी: इंटरटेनमेंट एंड फैशन
क्या किया : अंतरराष्ट्रीय ओडिसी नृत्यांगना हैं, देश-विदेश में कई पुरस्कार हासिल किए हैं। कला के प्रसार के लिए छोटे बच्चों को नृत्य सिखाती हैं।
7. पलाश वासवानी (37 वर्ष) रायपुर
कैटेगरी: एंटरटेनमेंट एंड फैशन
क्या किया: आइआइटीयन हैं। कई वेब सीरीज का निर्देशन किया, कॉपी राइटर भी हैं। फेमस शो 'गुल्लक सीजऩ 2Ó का निर्देशन किया है। साथ ही 'द वायरल फीवर' संस्था में कार्यकारी क्रिएटिव डायरेक्टर हैं।
8. निशा सोनी (33 वर्ष) जगदलपुर
कैटेगरी: एंटरटेनमेंट एंड फैशन
क्या किया: शादी के बाद राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय सौन्दर्य प्रतियोगिताओं में भाग लिया। जीआइडी मिसेज इंडिया 2021 स्पेक्यूलर आइज और मिसेज इंडिया ग्लोबली 2021 का ताज जीता। विभिन्न सामाजिक क्षेत्रों के साथ-साथ एचआइवी पीडि़तों के लिए काम करती हैं।
9. महफूजा हुसैन (31 वर्ष) जगदलपुर
कैटेगरी: सोशल वर्क, पब्लिक वेलफेयर एंड एनजीओ
क्या किया: वंचित बच्चों को बेहतर शिक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से काम कर रही हैं। डॉक्टरों की मदद से कैंसर और अन्य गंभीर बीमारियों से पीडि़तों को इलाज मुहैया करवाती हैं।
10. सोमदत्त पांडा (35 वर्ष) रायपुर
कैटेगरी: एंटरटेनमेंट एंड फैशन
क्या किया: छत्तीसगढ़ फिल्म इंडस्ट्री में बैक ग्राउंड म्यूजिशियन हैं। उभरते कलाकारों को मंच दिलवाते हैं। एक म्यूजिक फोरम के माध्यम से निर्धन बच्चियों को म्यूजिक सिखाते थे। अकेडमी और स्कूलों में नि:शुल्क म्यूजिक क्लॉसेज चलाते हैं।
11. भूमिका साहा (22 वर्ष) जगदलपुर
कैटेगरी: एंटरटेनमेंट एंड फैशन
क्या किया: कथक और लोक नृत्यांगना हैं। खुद की नृत्य अकादमी चलाती हैं। लोक संगीत और नृत्य का प्रसार कर रही हैं। कई क्षेत्रीय फिल्मों में भी काम किया है।
12. मोनिका वर्मा (24 वर्ष) भिलाई
कैटेगरी: एंटरटेनमेंट एंड फैशन
क्या किया: महिला म्यूजिक डायरेक्टर हैं। कई गाने गाए हैं। टीवी शो सारेगामा से कॅरियर शुरुआत की। म्यूजिक के क्षेत्र में कई बार सम्मानित हो चुकी हैं। क्षेत्रीय कलाकारों को प्लेटफार्म देने में मदद करती हैं। स्कूल एवं म्यूजिक अकेडमी में नि:शुल्क क्लॉसेज भी लेती हैं।
13. हर्षा वर्मा (21 वर्ष) रायपुर
कैटेगरी: एजुकेशन
क्या किया: राज्य की प्रसिद्ध कला पैरा आर्ट में वल्र्ड रेकॉर्ड बनाया। हर्षा पैरा आर्ट कलाकार हैं। पैरा आर्ट में हर्षा ने स्वामी विवेकानंद, भारत माता, भगत सिंह समेत कई महापुरुषों के चित्र बनाएं हैं। जिन्हें कई मंचों पर सराहा गया। पैरा आर्ट के संरक्षण के लिए कलाकारों को मदद करके प्रोत्साहित करती हैं।
14. संजय रहेजा (37 वर्ष) रायपुर
कैटेगरी: एंटरप्रेन्योर, डिजिटल एंटरप्रेन्योर एंड ई बिजनेस
क्या किया: आम आदमी को कम बजट में अपना घर मिल सके, इसके लिए काम करते हैं। रियल एस्टेट व्यवसाय से जुड़े हैं।
15. प्रांजल कामरा (30 साल) रायपुर
कैटेगरी: एंटरप्रेन्योर, डिजिटल एंटरप्रेन्योर एंड ई-बिजनेस
क्या किया: प्रांजल कामरा एंटरप्रेन्योर हैं। आम आदमी के लिए वित्तीय शिक्षा और निवेश को सुलभ और "सुपर-सिंपल" बनाने के लिए काम कर रहे हैं। खुद का स्टार्टअप चला रहे हैं।
16. सोनू बगरेचा (39 वर्ष) रायपुर
कैटेगरी: एंटरप्रेन्योर, डिजिटल एंटरप्रेन्योर एंड ई बिजनेस
क्या किया: स्टार्टअप के रूप में एक लर्निंग सेंटर शुरू किया, भारत के 18 राज्यों समेत विदेशी छात्र-छात्राएं इनके सेंटर से जुड़े हैं। छोटे बच्चों का मैथ्स, रूबिक जैसे कोर्स करवाती हैं। गरीब परिवारों के बच्चों को फ्री कोर्स करवाती हैं।
17. सरिता राजेन्द्र गुप्ता (36 साल) जशपुर
कैटेगरी: एंटरप्रेन्योर, डिजिटल एंटरप्रेन्योर एंड ई बिजनेस
क्या किया: एक एप बनाया है। जिससे बोरवेल खुदाई का ऐसा तरीका बताया जाता है, जिससे लागत भी कम आती है। इस ऐप के लाखों सब्सक्राइबर हैं।
18. अतुल प्रधान (27 वर्ष) कोंडागांव
कैटेगरी : एग्रीकल्चर एंड रूरल बिजनेस
क्या किया: फसलों में कीटनाशक का प्रयोग रोकने लिए किसानों को जागरूक करते हैं। गलत कीटनाशक का उपयोग करने के बाद फसल खराब होने पर किसान द्वारा आत्महत्या करने की खबर के बाद अक्टूबर 2020 से अतुल ने कीटनाशक का उपयोग किए बिना फसलों की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए काम शुरू किया।
19. प्रितेश पांडे (29 वर्ष) जशपुर
कैटेगरी: लिटरेचर, आर्ट एंड कल्चर
क्या किया: थिएटर आर्टिस्ट हैं। महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय से रंगमंच एवं फिल्म अध्ययन में गोल्ड मेडलिस्ट हैं। नए कलाकारों को रंगमंच की बारीकियां सिखाते हैं।
20. आनंदिता तिवारी (18 वर्ष) रायपुर
कैटेगरी: लिटरेचर, आर्ट एंड कल्चर
क्या किया: कथक नृत्यांगना हैं। पुणे, कटक, भिलाई और रायपुर में हुई प्रतियोगिताओं में भाग लिया है। कई राज्य एवं राष्ट्र स्तरीय पुरस्कार जीते हैं।
21. नमिषा चौहान (32 वर्ष) रायपुर
कैटेगरी: लिटरेचर, आर्ट एंड कल्चर
क्या किया: देश-विदेश के स्टूडेंट्स को ड्रॉइंग सिखाती हैं। वह बंगलुरु, दिल्ली, मुंबई, रायपुर के अलावा यूएसए, यूके, यूएई के स्टूडेंट्स को भी ऑनलाइन ड्रॉइंग सिखा रही हैं और इंडियन आर्ट का प्रसार कर रही हैं। जरुरतमंद बेटियों को ड्रॉइंग और मेंहदी सिखाकर स्वरोजगार से जोड़ रही हैं।
22. आशीष राज सिंघानिया (39 वर्ष) थनकधमरिया (बेमेतरा)
कैटेगरी: लिटरेचर, आर्ट एंड कल्चर
क्या किया: युवा कवि हैं। सैंकड़ों कविताएं, गजल, नज्म लिखी हैं। इनकी आधा दर्जन किताबें भी प्रकाशित हो चुकी हैं। संगीत कला और साहित्य के प्रसार के लिए साहित्य उत्सव 'जश्न ए ज़बान' आयोजित करते हैं। इसमें उभरते कलाकारों को अवसर मिलता है।
23. मनोज कुमार साहू (25 वर्ष) जगदलपुर
कैटेगरी: प्रोफेशनल एंड मैनेजमेंट स्किल
क्या किया: घरेलू महिलाओं को 'मां के हाथ का खाना' कंसेप्ट से जोड़ा। अब उनके साथ कई महिलाएं अपने घर से खाना बनाकर बेच रही हैं। महिलाओं को घर बैठे स्वरोजगार से जोड़ा।
24. रश्मि भंगला (36 वर्ष) रायपुर
कैटेगरी: प्रोफेशनल एंड मैनेजमेंट स्किल
क्या किया: सेंट्रल इंडिया रिजनल काउंसिल वुमन स्टीयरिंग कमेटी की चेयरपर्सन हैं। रायपुर शाखा से निर्वाचित होने वाली पहली उम्मीदवार हैं। महिलाओं के मुददों पर प्रमुखता से काम करती हैं।
25. जयदीप तिवारी (26 वर्ष) भिलाई
कैटेगरी: रिसर्च एंड इनोवेशन
क्या किया: मेंटल पीस एवं हेल्थ के लिए काम करते हैं। चिंता, अवसाद और अनिद्रा से पीडि़त लोगों के मानसिक स्वास्थ्य सुधार के लिए उत्पाद बनाते हैं। जयदीप स्मार्ट इंडिया हार्डवेयर हैकथॉन-2018 की विजेता टीम का हिस्सा रहे हैं। इन्हें भारत सरकार से 75 लाख से अधिक अनुदान राशि से सम्मानित किया गया है।
26. अर्पित चौहान (25 वर्ष) बिलासपुर
कैटेगरी: रिसर्च एंड इनोवेशन
क्या किया: इलेक्ट्रॉनिक बाइक की बैटरी बनाई हैं, जो कम चार्ज में ज्यादा चलती हैं। यह बाइक एक बार चार्ज करने पर 150 किमी चलती है और यूटीलिटी कंपार्टमेंट में दूसरी बैटरी लगाने पर 300 किमी चलेगी। इनके इनोवेशन को कई प्लेफॉर्म पर सराहा गया है।
27. अमुजूरी बिश्वनाथ (31 वर्ष) दंतेवाड़ा
कैटेगरी: साइंस एंड टेक्नोलॉजी
क्या किया: शिक्षाविद्, प्रशिक्षक, स्टीम विशेषज्ञ, अन्वेषक, शोधकर्ता, खगोलविद, दार्शनिक हैं। विज्ञान में ऑनलाइन कक्षाएं चलाने का गिनीज बुक वल्र्ड रेकॉर्ड बनाया। अमुजूरी इंटरनेशनल इंटर्नशिप यूनिवर्सिटी ग्लोबल इंडिया में प्रोफेसर हैं। वह स्पेस फाउंडेशन, कोलोराडो, यूएसए में अंतराष्ट्रीय शिक्षक संपर्क अधिकारी और विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय के सदस्य हैं। वह कई संगठनों से जुड़े हैं। अनुसंधान, नवाचार, विज्ञान, प्रौद्योगिकी, पर्यावरण, आर्थिक, सांस्कृतिक पहलुओं के क्षेत्र में काम करते हैं।
28. पराग झा (26 साल) रायपुर
कैटेगरी: साइंस एंड टेक्नोलॉजी
क्या किया: ड्रोन सेवाओं से जुड़ी एयरोस्पेस कंपनी चलाते हैं। इनकी कंपनी नक्सल विरोधी अभियानों के साथ-साथ आतंकवाद विरोधी अभियानों के लिए सैन्य कर्मियों के लिए ड्रोन बनाती है। किसानों की मदद के लिए कृषि ड्रोन बनाते हैं। स्कूली छात्रों और अन्य लोगों के लिए कार्यशालाएं और प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करके ड्रोन के बारे में शिक्षित करते हैं और उसके लाभ बताते हैं।
29. मनीष कुमार सिंह (36 साल) रायपुर
कैटेगरी: साइंस एंड टेक्नोलॉजी
क्या किया: डिजिटल परिवर्तन, क्लाउड प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में काम करते हैं। भारत समेत यूके, जर्मनी और ऑस्ट्रेलिया के प्रमुख बैंक और दूरसंचार कंपनियों के लिए काम करते हैं।
वह ओथ टू और ओपन आईडी कनेक्ट जैसे इंटरनेट सुरक्षा प्रोटोकॉल के विशेषज्ञ हैं। आमजन की सुविधा के लिए अपने लेखों के माध्यम से डिजिटल चीजों को जटिलता कम करके आसान तकनीक बताते हैं। मनीष गूगल द्वारा प्रमाणित क्लाउड आर्किटेक्ट हैं।
30. विनोद कुमार गुप्ता (23 वर्ष) अंबिकापुर
कैटेगरी: एजुकेशन
क्या किया: बैचलर साइंस के छात्रों के लिए 'लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम एंड लिनक्स कमांड' नामक किताब लिखी। यह किताब छत्तीसगढ़ में उपलब्ध नहीं थी। दो वर्ष में यह किताब लिखी गई। यह किताब कम्प्यूटर शिक्षा से जुड़े छात्रों के लिए उपयोगी साबित हुई। इसके लिए मनीष को कई मंचों पर सम्मानित किया गया।
31. लेखराम वर्मा (36 वर्ष) जगदलपुर
कैटेगरी: एग्रीकल्चर एंड रूरल बिजनेस
क्या किया: किसानों को सरकारी योजनाओं, वित्तीय प्रक्रियाओं से निपटने और उपयोगी कृषि प्रौद्योगिकी के बारे में बताते हैं और किसानों को योजनाओं का फायदा भी दिलवाते हैं।
32. ऐश्वर्या सिंह (16 वर्ष) बिलासपुर
कैटेगरी: स्पोर्ट्स एंड ई गेमिंग
क्या किया: छत्तीसगढ़ महिला क्रिकेट टीम की प्लेयर हैं। चैलेंजर ट्राफी सी टीम में चयन के बाद अंडर 19 टीम के लिए नेशनल क्रिकेट अकेडमी बेंगलूरु में चल रहे कैंप में ट्रेनिंग ले रही हैं। कैंप में सलेक्शन के बाद टीम इंडिया का हिस्सा होंगी।
33. प्रिया जैन (29 वर्ष) रायपुर
सोशल मीडिया/ न्यूज एंड मीडिया
क्या किया: यूट्यूब चैनल भी चलाती हैं। इस चैनल पर युवाओं को कानून और संविधान के बारे में जानकारी देती हैं। इससे हजारों लोग घर बैठे कानून के बारे में जागरूक हो रहे हैं। इनके यूट्यूब चैनल के 12 लाख सब्सक्राइबर हैं।
34. कृति शर्मा (27 वर्ष) रायपुर
कैटेगरी: फूड, ट्रेवल्स एंड टूरिज्म
क्या किया : फूड ब्लागर हैं। छत्तीसगढ़ के व्यंजनों को देश-दुनिया में प्रचारित करती हैं।
35. अदिति यादव (23 वर्ष) बिलासपुर
कैटेगरी: सोशल वर्क, पब्लिक वेलफेयर एंड एनजीओ
क्या किया: एनजीओ स्माइल फॉर ऑल से जुड़ी हैं। झुग्गी-झोपडिय़ों में रहने वाले वंचित बच्चों और कोविड में अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों को शिक्षा से जोडऩे का काम करती हैं। ये बच्चों को नि:शुल्क पढ़ाती भी हैं।
36. पूजा देवांगन (26 वर्ष) रायपुर
कैटेगरी: मिलिट्री पर्सनल, डिफेंस, सर्विस, मेडलिस्ट
क्या किया: छत्तीसगढ़ पुलिस में कांस्टेबल हैं और समाज से जुड़कर कई सम्मान पा चुकी हैं। बहादुरी के साथ ड्यूटी करने और समाजसेवा से जुड़े कार्यों के लिए जानी जाती हैं। कई बार सम्मानित हो चुकी हैं।
37. राहुल कुुमावत (23 वर्ष) बिलासपुर
कैटेगरी: सोशल वर्क, पब्लिक वेलफेयर एंड एनजीओ
क्या किया: पिछले 6 वर्षों से पशु-पक्षियों के लिए भोजन-पानी का इंतजाम करके जीव रक्षा कार्य में जुटे हैं। चहके चिडिय़ा अभियान एवं गौमाता जलकुंड अभियान चला रहे हैं। इस अभियान के तहत करीब 5 हजार परींडे और दौ सौ से अधिक स्थानों पर गौमाता जलकुंड लगा चुके हैं। यह सब अपनी पॉकेटमनी से करते हैं। इसके साथ ही पक्षियों के लिए घोंसले भी लगाते हैं। पर्यावरण संरक्षण के लिए लोगों को जागरूक भी करते हैं।
38. सौरभ जंघेल (27 वर्ष) राजनांदगांव
कैटेगरी: एग्रीकल्चर एंड रूरल बिजनेस
क्या किया: युवा उद्यमी किसान हैं। जैविक खेती और जैविक उत्पादन बढ़ाने के लिए काम करते हैं। मशरूम की खेती में नवाचार किए। नए युवा किसानों को जैविक खेती और कम लागत में खेती करने की ट्रेनिंग देते हैं। भारतीय कृषि अनुसंधान केन्द्र से कम लागत में मशरुम उत्पादन के लिए राष्ट्रीय अवार्ड प्राप्त कर चुके हैं।
39. अंकिता पांडे (27 वर्ष) बिलासपुर
कैटेगरी: मिलिट्री पर्सनल, डिफेंस, सर्विस, मेडलिस्ट
क्या किया: कक्षाओं के माध्यम से बच्चों को गुड एंड बैड टच के बारे में बताती हैं। स्कूल, कॉलेज, प्राइवेट इंस्टीट्यूट्स में बच्चियों और महिलाओं को सावधान रहने और आत्मरक्षा की टिप्स देती हैं। बालिका शिक्षा, भिक्षा मुक्ति के लिए भी काम करती हैं। महिलाओं से जुड़ी स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं के लिए भी समाधान और जागरूक करती हैं। सेनेटरी नैपकिन नि:शुल्क वितरित करती हैं।
40. जुनैद हुसैन (36 वर्ष) रायपुर
कैटेगरी: सोशल वर्क, पब्लिक वेलफेयर एंड एनजीओ
क्या किया: कई सालों से रक्तदान के लिए काम कर रहे हैं। इसके लिए वाट्सएप ग्रुप से लोगों से जुड़े हैं और मदद करते हैं। कोरोना काल में जरूरतमंदों के लिए रक्तदान किया और कई लोगों का जीवन बचाने में मददगार बने।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मीन राशि में वक्री होंगे गुरु, इन राशियों पर धन वर्षा होने के रहेंगे आसारइन राशियों के लोग काफी जल्दी बनते हैं धनवान, मां लक्ष्मी रहती हैं इन पर मेहरबानभाग्यवान होती हैं इन नाम की लड़कियां, मां लक्ष्मी रहती हैं इन पर मेहरबानऊंची किस्मत वाली होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, करियर में खूब पाती हैं सफलताधन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीपनीर, चिकन और मटन से भी महंगी बिक रही प्रोटीन से भरपूर ये सब्जी, बढ़ाती है इम्यूनिटीweather update news..मौसम की भविष्यवाणी सटीक, कई जिलों में तूफानी हवा के साथ झमाझमस्कूल में 15 साल के लड़के से बनाए अननेचुरल संबंध, वीडियो भी बनाया

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: जेपी नड्डा के आवास पर पहुंचे देवेंद्र फडणवीस, इस मुद्दे पर हो सकती है चर्चाMaharashtra: ईडी ने शिवसेना नेता संजय राउत को फिर भेजा समन, जमीन घोटाले के मामले में 1 जुलाई को पेश होने के लिए कहाUdaipur में नूपुर शर्मा के सपोर्ट में पोस्ट करने पर युवक की गला काटकर हत्या, सोशल मीडिया पर जारी किया वीडियोPunjab: सीएम भगवंत मान का ऐलान, अग्निपथ के खिलाफ विधानसभा में लाएंगे प्रस्ताव, होगा किसान आंदोलन जैसा विरोध!Jammu Kashmir: कुपवाड़ा में LoC के पास भारतीय जवानों ने दो आतंकियों को किया ढेर, भारी मात्रा में गोला-बारूद जब्तहाईकोर्ट ने ब्यूरोक्रैसी को दिखाया आईना, कहा- नहीं आता जांच करना, सरकार को भी कठघरे में किया खड़ाMumbai Building Collapse: कुर्ला कॉम्प्लेक्स हादसे के बाद एक्शन में BMC, इलाके के 3 जर्जर इमारतों को गिराने का आदेशजानिए क्यों ' मुंबई के फैंटम' के नाम से मशहूर थे अरबपति कारोबारी पालोनजी मिस्री
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.