scriptऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया बीमारी से कहीं आप तो ग्रस्त नहीं, लक्षण जानें, जयपुर में देशभर से जुटे विशेषज्ञ | Rajasthan Are you suffering from Obstructive Sleep Apnea Know Symptoms Experts from across country have gathered in Jaipur | Patrika News
जयपुर

ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया बीमारी से कहीं आप तो ग्रस्त नहीं, लक्षण जानें, जयपुर में देशभर से जुटे विशेषज्ञ

Obstructive Sleep Apnea : सावधान। कहीं आपको ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया बीमारी तो नहीं। लक्षण पढ़ें। जयपुर में 2 दिन तक देशभर से विशेषज्ञ जुटे और उन्होंने इस बीमारी पर चर्चा की।

जयपुरJun 24, 2024 / 03:06 pm

Sanjay Kumar Srivastava

Rajasthan Are you suffering from Obstructive Sleep Apnea Know Symptoms Experts from across country have gathered in Jaipur

ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया बीमारी से कहीं आप तो ग्रस्त नहीं

Obstructive Sleep Apnea : सावधान। कहीं आपको ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया बीमारी तो नहीं। लक्षण पढ़ें। नींद में कई बार व्यक्ति खर्राटे लेते समय अचानक घबराहट और बेचैनी के कारण उठ जाता है। लगता है जैसे उसका दम घुट रहा है…तो हो सकता है वह ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया नाम की बीमारी से जूझ रहा हो। अधिकतर रोगियों को इस बीमारी की कोई जानकारी ही नहीं होती। यह विचार सामने आए Obstructive Sleep Apnea रोग से संबंधित दो दिनी कॉन्फ्रेंस में, जिसका रविवार को टोंक रोड स्थित एक होटल में समापन हुआ। विशेषज्ञों ने बताया कि यदि खर्राटे, सुबह उठने के बाद थकान, दिन में नींद आना और एकाग्रता में कमी हो रही हो तो व्यक्ति को यह बीमारी हो सकती है।

कॉन्फ्रेंस में देशभर से आए करीब 350 प्रतिनिधियों ने लिया हिस्सा

आयोजक डॉ. मोहनिश ग्रोवर ने बताया कि कॉन्फ्रेंस में देशभर से आए करीब 350 प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। इनमें ईएनटी, एंडोक्राइनोलॉजी, डेंटल, पल्मोनोलॉजी, मनोचिकित्सा, गैस्ट्रो सर्जरी और कार्डियोलॉजी के विशेषज्ञ शामिल हुए। डॉ. राहुल नाहर ने बताया कि कॉन्फ्रेंस में पहले दिन मुख्य अतिथि के रूप में एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. दीपक माहेश्वरी मौजूद रहे। इसके अलावा डॉ. शिवम शर्मा, डॉ. अनुपम कानोडिया समेत अन्य मौजूद रहे।
यह भी पढ़ें –

एनएचएआई की पहल, अब फास्टैग नहीं, GNSS बेस्ड इलेक्ट्रोनिक सिस्टम वसूलेगा टोल

जागरूकता उत्पन्न करनी होगी – डॉ. श्रीनिवास किशोर

नींद शल्य चिकित्सक डॉ. श्रीनिवास किशोर ने बताया कि यह विकार हृदयाघात, मधुमेह, कैंसर, यौन दुर्बलता जैसी गंभीर बीमारियों से सीधेतौर पर जुड़ा है। इसलिए लोगों में इसको लेकर जागरूकता उत्पन्न करनी होगी।

35 प्रतिशत लोग ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया से ग्रस्त – डॉ. सीमाब शेख

सत्र में डॉ. सीमाब शेख ने बताया कि देशभर में 35 प्रतिशत लोग ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया से ग्रस्त हैं। इस बीमारी से ग्रस्त रोगियों की नींद में सांसें तक रुक तक जाती हैं।

Hindi News/ Jaipur / ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया बीमारी से कहीं आप तो ग्रस्त नहीं, लक्षण जानें, जयपुर में देशभर से जुटे विशेषज्ञ

ट्रेंडिंग वीडियो